France decided against Pakistan upgrade Mirage fighter jets air defence system Agosta 90B imran khan | फ्रांसः राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने पीएम इमरान खान को दिया झटका, मिराज फाइटर जेट, एयर डिफेंस सिस्टम को अपग्रेड की अपील ठुकराई
फ्रांस ने भी श्रृंगला को आश्वस्त किया कि वह अपने रणनीतिक सहयोगी की सुरक्षा चिंताओं के प्रति बहुत संवेदनशील है। (file photo)

Highlightsइमरान खान को करारा झटका दिया है। पीएम खान की मांग को ठुकरा दिया है। पहली बार फ्रांस ने मदद देने से मना किया है।पाकिस्तानी मूल के तकनीशियनों को फाइटर जेट पर काम करने से मना कर दें, क्योंकि वे लोग तकनीकि जानकारी पाकिस्तान को शेयर कर सकते हैं।पाकिस्तान अतीत में चीन के साथ महत्वपूर्ण रक्षा डेटा साझा करने के लिए जाना जाता है।

नई दिल्लीः फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को करारा झटका दिया है। पीएम खान की मांग को ठुकरा दिया है। पहली बार फ्रांस ने मदद देने से मना किया है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने मिराज फाइटर जेट्स, एयर डिफेंस सिस्टम और अगोस्टा 90बी क्लास पनडुब्बियों के अपने बेड़े को अपग्रेड करने में मदद की अपील की थी। फ्रांस ने मदद देने से मना कर दिया। 

फ्रांस ने कतर से कहा कि वह पाकिस्तानी मूल के तकनीशियनों को फाइटर जेट पर काम करने से मना कर दें, क्योंकि वे लोग तकनीकि जानकारी पाकिस्तान को शेयर कर सकते हैं। ये आतंकियों के हाथ भी लग सकता है। ये फाइटर जेट भारत के डिफेंस की सबसे अहम कड़ी है। पाकिस्तान अतीत में चीन के साथ महत्वपूर्ण रक्षा डेटा साझा करने के लिए जाना जाता है।

विवादास्पद शार्ली हेब्दो पत्रिका के पूर्व पेरिस कार्यालय के बाहर दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों और तनातनी के मद्देनजर पेरिस ने पहले ही विस्तृत जांच के तहत पाकिस्तानियों से शरण अनुरोध को ठुकरा दिया है। जानकारों ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के पैगंबर मोहम्मद के कार्टूनों को समर्थन देने की आलोचना की थी, जिसकी वजह से फ्रांस ने ये कदम उठाया है।

शार्ली हेब्दो पत्रिका के कार्यालय के बाहर दो लोगों पर हमला कर दिया था

सितंबर माह में, एक 18 साल के पाकिस्तानी मूल के अली हसन ने शार्ली हेब्दो पत्रिका के कार्यालय के बाहर दो लोगों पर हमला कर दिया था। उसके पिता पाकिस्तान में रहते हैं। बाद में एक स्थानीय समाचार चैनल से कहा कि उनके बेटे ने "बहुत अच्छा काम किया है" और वह हमले के बारे में "बहुत खुश" है। शार्ली हेब्दो मैगजीन में ही पैगंबर मोहम्मद के कार्टून छपे थे।

भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने जब 29 अक्टूबर को फ्रांस का दौरा किया था तो वहां की सरकार को फैसले की जानकारी दी थी। फ्रांस ने भी श्रृंगला को आश्वस्त किया कि वह अपने रणनीतिक सहयोगी की सुरक्षा चिंताओं के प्रति बहुत संवेदनशील है और उसने भारत की सुरक्षा चिंताओं के मद्देनजर पाकिस्तान मूल के तकनीशियनों को राफेल लड़ाकू जेट से दूर रखने के बारे में निर्देश जारी किए थे।

भारत के 22 पूर्व राजदूतों ने कहा है कि फ्रांस और वहां के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के खिलाफ भारत में विरोध प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय सहमति के विपरीत है और फ्रांस में हालिया बर्बर आतंकवादी हमलों का सभी लोकतांत्रिक देशों पर प्रभाव पड़ेगा । पूर्व राजनयिकों के समूह ने एक बयान में कहा है कि भारत ने फ्रांस के राष्ट्रपति के साथ निजी तौर पर और देश के तौर पर फ्रांस के साथ एकजुटता प्रकट की है।

हालिया वर्षों में फ्रांस के साथ हमारे संबंध काफी प्रगाढ़ हुए हैं। इस समूह में दो सेवानिवृत्त विदेश सचिव और फ्रांस में भारत के राजदूत रह चुके चार राजनयिक भी हैं । बयान में कहा गया, ‘‘यह उल्लेख करना जरूरी है कि सभी मंचों पर लगातार अंतरराष्ट्रीय सहमति नजर आयी है, जिसमें कभी भी आतंकवाद को उचित नहीं ठहराया गया। इस संदर्भ में फ्रांस और वहां के राष्ट्रपति मैक्रों के खिलाफ भारत में प्रदर्शन अंतरराष्ट्रीय सहमति और सरकार के रुख के खिलाफ है।’’

Web Title: France decided against Pakistan upgrade Mirage fighter jets air defence system Agosta 90B imran khan

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे