अनोखी मिसाल! मुस्लिम शख्स ने 10 साल तक अनाथ बच्ची को पाला, फिर हिंदू युवक से कराई शादी

By दीप्ती कुमारी | Published: August 2, 2021 11:31 AM2021-08-02T11:31:52+5:302021-08-02T11:37:04+5:30

कर्नाटक के विजयपुरा के रहने वाले महबूब मसली ने 10 साल तक एक हिंदू लड़की को पाला-पोषा और फिर उसकी शादी वैदिक रीति-रिवाज के अनुसार हिंदू लड़के से करवा दी । उन्होंने कहा कि मैंने कभी उन्हें हमारा धर्म अपनाने को मजबूर नहीं किया ।

karnataka muslim man who take care a orphaned hindu girl marries her off to hindu boy as per vedic tradition | अनोखी मिसाल! मुस्लिम शख्स ने 10 साल तक अनाथ बच्ची को पाला, फिर हिंदू युवक से कराई शादी

फोटो सोर्स - सोशल मीडिया

Next
Highlightsमुस्लिम व्यक्ति ने 10 साल तक एक हिंदू लडकी को दिया पिता का प्यार फिर वैदिक रीति-रिवाजों से हिंदू लड़के से कराई शादी मसली ने कहा कि मैंने कभी उसपर मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए मजबूर नहीं किया

बंगलुरू : कर्नाटक के विजयपुरा में रहने वाली मुस्लिम व्यक्ति ने सामाजिक सद्भाव की अनोखी मिसाल पेश की है । विजयपुरा के रहने वाले महबूब मसली ने एक अनाथ हिंदू लड़की की देखभाल की और उसकी शादी वैदिक परंपराओं के अनुसार एक हिंदू लड़के से करा दी । 18 वर्ष हिंदू लड़की पूजा वाडिगेरी की शादी शुक्रवार को हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार कराई गई ।

अनाथ पूजा को दिया पिता और परिवार का प्यार 

दरअसल पूजा एक दशक पहले अनाथ हो गई थी और उसके अपने रिश्तेदारों ने उसे अपनाने से इनकार कर दिया था । तब मसली ने उसकी देखभाल एक पिता के रूप में की । हालांकि मसली की दो बेटियां और दो बेटे भी है लेकिन उन्होंने पूजा को घर लाने का फैसला किया और उसे एक पिता और परिवार का प्यार दिया ।

धर्म को आड़े नहीं आने दिया 

मसली ने कहा कि 'यह मेरी जिम्मेदारी थी कि मैं उसकी शादी उस धर्म के व्यक्ति से करूं, जिससे वह संबंधित है । उन्होंने कहा कि वह हमारे घर एक दशक से अधिक समय तक रही लेकिन मैंने उन्हें कभी भी हमारे धर्म का पालन करने को नहीं कहा और न हीं किसी मुस्लिम व्यक्ति से शादी करने के लिए मजबूर किया । यह हमारे धर्म के सिद्धांतों के खिलाफ है।

उन्होंने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि दूल्हे की माता पिता ने बिना दहेज मांगे पूजा को खुशी-खुशी स्वीकार कर लिया । साथ ही उन्होंने अलग-अलग समुदाय के लोगों से सद्भाव बनाए रखने का आग्रह किया । उन्होंने कहा कि मैं समाज को यह संदेश भी लेना चाहता हूं कि सभी को सद्भाव से रहना चाहिए ।

पूजा ने कहा - खुशनसीब हूं मैं 

मसली शहर में कई सामाजिक सेवाओं व सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने वाले कार्यक्रमों के आयोजन के लिए जाने जाते हैं । उन्हें शहर में गणपति कार्यक्रम आयोजन करने के लिए भी जाना जाता है । इसके अलावा पूजा ने भी आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मैं बहुत खुश हूं  कि मुझे ऐसे बड़े दिल वाले माता-पिता मिले, जिन्होंने मेरी देखभाल की।

Web Title: karnataka muslim man who take care a orphaned hindu girl marries her off to hindu boy as per vedic tradition

ज़रा हटके से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे