WhatsApp new privacy policy only 18 percent indian users may continue with it | WhatsApp का इस्तेमाल जारी रखने के पक्ष में केवल 18 प्रतिशत भारतीय! सर्वे में सामने आई बात, नई प्राइवेसी पॉलिसी का असर
WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी से यूजर्स नाराज (फाइल फोटो)

Highlightsसर्वे के अनुसार 15 प्रतिशत भारतीय यूजर पूरी तरह से व्हाट्सएप के इस्तेमाल को बंद कर देना चाहते हैंनई प्राइवेसी पॉलिसी की घोषणा के बाद व्हाट्सएप डाउनलोड करने वालों की संख्या में 35 प्रतिशत तक की कमीसिग्नल और टेलीग्राम की बढ़ी है लोकप्रियता, 6 से 10 जनवरी के बीच बढ़कर 23 लाख लोगों ने डाउनलोड किया सिग्नल एप

फेसबुक के स्वामित्व वाली इंस्टैंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप की ओर से प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव किए जाने की घोषणा के बाद कई यूजर्स इससे दूरी बनाने के बारे में सोच रहे हैं। एक सर्वे में इसका खुलासा हुआ है। यूजर्स अब सिग्नल और टेलीग्राम एप की ओर देख रहे हैं। 
 
व्हाट्सएप में भारत के यूजर्स बड़ी संख्या में रहते हैं। यहां की बात करें तो केवल 18 फीसदी लोग व्हाट्सएप के साथ जाना चाहते हैं। वे कहते हैं कि व्हाट्सएप द्वारा उनके डाटा के इस्तेमाल से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। सर्वे के अनुसार वहीं, 36 प्रतिशत व्हाट्सएप के इस्तेमाल में कमी लाने की बात कह रहे हैं।    

इसके अलावा 15 प्रतिशत पूरी तरह से व्हाट्सएप के इस्तेमाल को बंद कर देना चाहते हैं। एक कम्यूनिटी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लोकल सर्कल्स (LocalCircles) की ओर किए गए इस सर्वे में 8977 नागरिकों की प्रतिक्रियाएं आईं, जिसके बाद ये नतीजे सामने आए हैं।

बता दें कि व्हाट्सएप पूरी दुनिया में अपने करीब 2 बिलियन ग्राहकों को अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव को लेकर सूचित कर चुका है। नई प्राइवेसी पॉलिसी 8 फरवरी से लागू होनी थी और हर यूजर्स को इसकी सहमति देनी जरूरी है। हालांकि, आलोचनाओं के बीच व्हाट्सएप ने नई पॉलिसी को लागू करने की समयसीमा 15 मई तक बढ़ा दी है।

व्हाट्सएप के बारे में यूजर्स क्या कह रहे हैं?

इस सर्वे में ये बात सामने आई है कि 24 प्रतिशत यूजर्स ये कह रहे हैं कि वे और उनका ग्रुप किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर जाने का विचार कर रहा है। भारत के 244 जिलों से इस सर्वे पर कुल मिलाकर व्हाट्सएप यूजर्स की 24000 प्रतिक्रियाएं आईं। 

91 प्रतिशत लोगों ने ये भी कहा कि अगर व्हाट्सएप ट्रांजैक्शन सूचनाएं फेसबुक या किसी थर्ड पार्टी से शेयर करता है तो वे इसके पेमेंट फीचर का इस्तेमाल नहीं करेंगे।

व्हाट्सएप को नुकसान, दूसरे प्लेटफॉर्म हुए लोकप्रिय

बता दें कि नई प्राइवेसी पॉलिसी पर मचे हंगाने के बाद व्हाट्सएप के भारत में डाउनलोड किए जाने की संख्या में 35 प्रतिशत की कमी आई है। एक से 5 जनवरी तक जहां व्हाट्सएप डाउनलोड की संख्या 20 लाख थी वहीं, 6 से 10 जनवरी के बीच ये घटकर 13 लाख रह गई।

वहीं, दूसरी ओर सिग्नल को 1 से 5 जनवरी तक 24000 बार डाउनलोड किया गया था। ये संख्या 6 से 10 जनवरी के बीच बढ़कर 23 लाख पहुंच गई। ऐसे ही टेलीग्राम को 1 से 5 जनवरी के बीच 13 लाख यूजर्स ने डाउनलोड किया था। ये संख्या 6 से 10 तारीख के बीच 15 लाख हो गई।

सर्वे के अनुसार यही आलम रहा तो व्हाट्सएप को भारत में अपने 6 करोड़ ग्राहक गंवाने पड़ सकते हैं। अनुमान के अनुसार भारत में अभी 40 करोड़ स्मार्टफोन हैं जिसमें व्हाट्सएप का इस्तेमाल होता है।

Web Title: WhatsApp new privacy policy only 18 percent indian users may continue with it

टेकमेनिया से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे