shani dev negative effects sign how to identify | शनि कहीं आपका भी तो भारी नहीं है, इन संकेतों से खुद कर सकते हैं पहचान
शनि कहीं आपका भी तो भारी नहीं, ऐसे करें पहचान (फाइल फोटो)

Highlightsशनि देव को कहा जाता है न्याय का देवता, सभी करते हैं उनकी उनकी वक्र दृष्टी से बचने की कोशिशमान्यता है कि शनि जिस पर भारी पड़ जाते हैं, उसका जीवन मुश्किलों और परेशानी से घिर जाता हैज्योतिषशास्त्र में बताए गए हैं ऐसे संकेत जिसे देखकर खुद पता लगाया जा सकता है कि शनि आप पर भारी हैं या नहीं

शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि वे कर्मों के आधार पर अपना फल देते हैं। यही कारण है कि ज्योतिष शास्त्र में शनिदेव को न्यायधीश कहा गया है। 

इनके बारे में कहा जाता है कि अगर उनकी वक्र दृष्टी किसी शख्स पर पड़ जाए तो उसके लिए जीवन बेहद कठिन हो जाता है। उसे कई मोर्चों पर परेशानी का सामना करना पड़ता है।

इसलिए हर किसी की कोशिश रहती है कि शनि देव का प्रकोप उन पर नहीं पड़े। कई बार लोग शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए तमाम तरह के पूजा पाठ करते हैं। साथ ही उन्हें तेल चढ़ाते हैं। 

ज्योतिषशास्त्र में कुछ ऐसे संकेतों के बारे में बताया गया जिससे आप भी जान सकते हैं कि कहीं शनिदेव का अशुभ प्रभाव तो नहीं है। आज हम आपको इन संकेतों के बारे में बताने जा रहे हैं।

शनिदेव का प्रभाव- माथे का बदलने लगता है रंग

ऐसी मान्यता है कि जब शनि आप पर भारी होते हैं माथे का रंग बदलने लगता है। माथे से तेज खत्म होता है और ललाट पर कालापन नजर आने लगता है। ऐसे में कलंक लगने का भय होता है। इसलिए इस दौरान हर कार्य को संभल कर करना चाहिए। 

कई बार आप कुछ अच्छा करना चाहते हैं लेकिन गलत या अशुभ हो जाता है। इसलिए ज्यादा सावधान रहने की जरूरत होती है। अपयश की आशंका बनी रहती है इसलिए हर कार्य को सोच-समझकर कर करना चाहिए और अपना कदम आगे बढ़ाना चाहिए।

शनि का अशुभ प्रभाव: अनैतिक चीजों में लगने लगता है मन

शनि जब आप पर भारी होते हैं तो सोच भ्रष्ट होने लगती है। अनैतिक कार्यों की ओर आपका रुझान बढ़ने लगता है। गलत संगत, सट्टा आदि में पैसे लगाने का शौक होने लगता है। ऐसे कार्यों की ओर से आप खींचे चले जाते हैं जिसमें आर्थिक नुकसान की आशंका रहती है।

बाल अचानक तेजी से गिरना और गंजापन

मान्यताओं के अनुसार शनि देव का रंग काला और नीला बताया गया है। ऐसे में शनि जब अशुभ प्रभाव देते हैं तो व्यक्ति के बाल अचानक तेजी से गिरने लगते हैं।


 
ऐसे व्यक्ति को सावधान हो जाना चाहिए और शनि देव की पूजा करनी चाहिए। वैसे सूर्य के प्रतिकूल प्रभाव पर भी बाल तेजी से गिरते हैं।

खान-पान की आदतों में बदलाव

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि के भारी होने पर आपके खान-पान की रूचि भी तेजी से बदलने लगती है। कड़वे, तैलीय या मांसाहारी काने की ओर आपकी रूचि अधिक हो जाती है। स्वाद को लेकर जब इस तरह का बदलाव अचानक खुद में अनुभव करें तो भी सावधान हो जाना चाहिए।

क्रोध की भावना और झूठ बोलने की प्रवृति

ये भी शनि के अशुभ प्रभाव का एक लक्षण है। आप पहले से ज्यादा उत्तेजित या बात-बात पर क्रोधित होने लगते हैं। स्वभाव में बदलाव आने लगता है। कई बातों को छुपाने की प्रवृति आने लगती है और आप झूठ बोलने लगते हैं। धार्मिक कार्यों से भी दूरी बढ़ने लगती है और इन कार्यों में मन नहीं लगता है।

Web Title: shani dev negative effects sign how to identify

पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे