Tripura assembly election 2018: Prime minister narendra Modi targets on Congress and cpm Manik Sarkar, say - friendship in Delhi, wrestling in Tripura? | त्रिपुरा विधानसभा चुनाव 2018: पीएम मोदी ने साधा कांग्रेस और मानिक सरकार पर निशाना, बोले- दिल्ली में दोस्ती, त्रिपुरा में कुश्ती?

अगरतला (15 फरवरी): त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीति काफी गरमाई हुई है। लोगों को लुभाने के लिए सभी राजनीतिक दल जोर-शोर से प्रचार कर रहे हैं वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी अगरतला में अपनी पार्टी बीजेपी की एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस और त्रिपुरा की मानिक सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने मानिक सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'तुम्हारा खेल अब तक चल रहा था क्यूंकि तुम पर दिल्ली में बैठी कांग्रेस सरकार की कृपा रहती थी, और यहां कांग्रेस चुनाव लड़ने का नाटक कर रही है। दिल्ली में दोस्ती और त्रिपुरा में कुश्ती?'



उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार ने त्रिपुरा के विकास कार्यों के लिए धन आवंटित किया लेकिन यहां की वामपंथी सरकार ने इसका इस्तेमाल भी नहीं किया। वे केवल 'गुलाब घाटी' जैसे घोटाले में दिलचस्पी रखते थे।

पीएम मोदी ने कहा कि, दिल्ली में कम्युनिस्ट रोजगार के लिए रैलियां करते हैं और वेतन के लिए नारे देते हैं और यहां 20 साल त्रिपुरा की सरकार है। त्रिपुरा के मजदूरों को न्यूनतम मजदूरी नहीं मिलती? कम्युनिस्टों को गरीब और मजदूरों के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है। यह उनका दोहरा मानदंड है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अरुणाचल प्रदेश की जनता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा, अभी स्वास्थ्य नें बहुत कुछ करने की आवश्यकता है। जो दवाइयां 150 में मिलती हैं 15 रु में मिलने का ओर कदम बढ़ाया गया। पीएम ने कहा कि मैं राज्य सरकार ने निवेदन करता हूं कि वह नई हेल्थ पॉलिसी बनाएं।देश में सबसे ज्यादा जय हिंद अरुणाचल प्रदेश में सुनने को मिलता है। 

बता दें कि, 60 सदस्यीय त्रिपुरा विधानसभा के लिए मतदान 18 फरवरी को होगा और वोटों की गिनती तीन मार्च को मेघालय और नगालैंड के साथ ही होगी। इससे पहेल 8 फरवरी को  त्रिपुरा के सोनामुरा में पीएम चुनावी रैली का आगाज कर चुके हैं। इस रैली में उन्होंने माणिक सरकार पर जमकर जुबानी हमला भी किया था। ऐसे में आज एक बार फिर से सभी की निगाहें की पीएम के संबोधन पर होंगी कि इस बार वह जनता को रैली में किस तरह से संबोधित करेंगे।