Jammu and Kashmir Former Chief Minister Mehbooba Mufti re-elected PDP President | जम्मू-कश्मीरः पांचवीं बार पीडीपी अध्यक्ष चुनी गईं महबूबा मुफ्ती, कहा- बीजेपी को हराना मकसद
जून 2018 में जम्मू-कश्मीर में पीडीपी-भाजपा गठबंधन सरकार के गिरने के बाद वह विभाजन की कगार पर थी। (file photo)

Highlightsजम्मू में पार्टी के निर्वाचन मंडल ने मुफ्ती को सर्वसम्मति से पुन: पार्टी प्रमुख चुना। वरिष्ठ नेता सुरिंदर चौधरी चुनाव के पीठासीन अधिकारी थे। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) का वर्ष 1998 में गठन किया था।

जम्मूः जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को सोमवार को तीन साल के लिए सर्वसम्मति से फिर से पीडीपी अध्यक्ष चुना गया।

अकेले मैदान में होने का लाभ एक बार फिर महबूबा मुफ्ती को मिला और वे एक बार फिर ‘सर्वसम्मति’ से पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष चुन ली गई हैं। पीडीपी में अध्यक्ष का कार्यकाल 3 वर्ष का होता है। आज सुबह पीडीपी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हुए।

अध्यक्ष पद के चुनाव हेतु जम्मू और कश्मीर संभाग से पीडीपी के 150 नेताओं ने इस मतदान प्रक्रिया में भाग लिया। हालांकि पीडीपी में अध्यक्ष पद के लिए केवल महबूबा मुफ्ती ही एकमात्र उम्मीदवार थी। लिहाजा सभी ने सर्वसम्मति से उन्हें फिर से तीन वर्षों के लिए पीडीपी का अध्यक्ष चुन लिया।

गौरतलब है कि महबूबा मुफ्ती का कार्यकाल गत 31 अक्तूबर 2020 को ही समाप्त हो गया था। यही वजह है कि एक बार फिर से प्रधान पद के चुनाव की प्रक्रिया पूरी की गई। महबूबा अब 22 फरवरी 2024 तक पीडीपी की अध्यक्ष बनी रहेंगी।

इससे पहले रविवार को पीडीपी की कोर कमेटी सहित राजनीतिक सलाहकार कमेटी व अन्य इकाईयों के पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई। जम्मू में पीडीपी के पूर्व एमएलसी सुरेंद्र चौधरी निर्वाचन अधिकारी थे जबकि सतपाल चाढ़क पर्यवेक्षक थे। कश्मीर में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्यक्ष पद के चुनाव एआर वीरी की देखरेख में हुए।

आज होने वाले चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए महबूबा मुफ्ती के खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं था। ऐसे में उनका सर्वसम्मति से अध्यक्ष बनना पहले से ही तय समझा जा रहा था। वर्ष 2009 से ही पीडीपी की कमान महबूबा मुफ्ती संभालती आ रही हैं। अध्यक्ष पद के चुनाव की औपचारिकता को निभाने के लिए श्रीनगर में महबूबा मुफ्ती और जम्मू में महासचिव सुरेंद्र चौधरी की मौजूदगी में निर्वाचक मंडल की बैठक आज सुबह हुई।  निर्वाचक मंडल में शामिल सभी नेताओं को चुनाव में हिस्सा लेने के लिए कहा गया था।

निर्वाचक मंडल में प्रदेश के पीडीपी के जिला अध्यक्षों के अलावा पार्टी पदाधिकारी और पूर्व विधायक शामिल भी हैं। महबूबा मुफ्ती का कार्यकाल 22 फरवरी 2021 से लेकर 22 फरवरी 2024 तक के लिए होगा। वहीं पार्टी सूत्रों के अनुसार अध्यक्ष बनते ही महबूबा मुफ्ती प्रदेश स्तर पर पीडीपी में पुनगर्ठन की प्रक्रिया को शुरू करेंगी और प्रदेश उपाध्यक्षों से लेकर महासचिवों, सचिवों, कोषाध्यक्ष, कोर ग्रुप व जिला अध्यक्षों में भी बड़ा बदलाव करेंगी।

Web Title: Jammu and Kashmir Former Chief Minister Mehbooba Mufti re-elected PDP President

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे