for termed violence in tractor rally wrong Congress said government responsible | ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा को कांग्रेस सहित विपक्ष ने बताया गलत, कहा सरकार ज़िम्मेदार
ट्रैक्टर मार्च के दौरान हुयी हिंसा। (फोटो सोर्स- ट्विटर)

Highlightsट्रैक्टर पर बैठे प्रदर्शनकारी ने पुलिसकर्मियों की एक भी बात नहीं सुनी और हिंसा को बढ़ावा दिया।दिल्ली पुलिस मुख्यालय के सामने रखे बैरिकेड्स को किसानों ने ट्रैक्टर से तोड़ दिया।आईटीओ में खड़ी सरकारी बसों में तोड़फोड़ की गई।

राजधानी दिल्ली में किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हुयी हिंसा की कांग्रेस ने आलोचना करते हुये किसानों से अपने आंदोलन को शांतिपूर्ण रखने की अपील की है। राहुल गाँधी ने इस हिंसा को लेकर किये ट्वीट में कहा " हिंसा किसी समस्या का हल नहीं है। चोट किसी को भी लगे, नुक़सान हमारे देश का ही होगा। देश हित के लिए कृषि-विरोधी क़ानून वापस लो!" 

राहुल के साथ साथ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया " दिल्ली का दृश्य हैरत करने वाला था ,कुछ तत्वों ने जो हिंसा की वह स्वीकार्य नहीं। इससे शांतिपूर्ण आंदोलनकारियों ने अब तक जो इज़्ज़त कमाई उस पर बुरा प्रभाव होगा। किसान नेताओं ने इससे अपने को अलग किया और टेक्टर रैली को मुल्तवी कर दिया।  

कैप्टन ने सभी वास्तविक किसानों से अपील की कि वह दिल्ली को खाली कर सीमाओं पर आंदोलन के स्थान पर लौट जायें। " इधर राकपा नेता शरद पवार ने भी हिंसा को गलत ठहराते हुये ज़िम्मेदारी सरकार पर डालते हुये इशारा किया कि तीनों काले कानून वापस ले लिये जाते तो ऐसी घटना नहीं होती। उन्होंने तीनों कृषि क़ानूनों को तुरंत वापस लिये जाने की सलाह दी। कांग्रेस ,राकांपा सहित दूसरे दलों ने भी हिंसा की निंदा लेकिन इस हिंसा के लिये मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया।   

Web Title: for termed violence in tractor rally wrong Congress said government responsible

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे