Congress attack pm narendra modi government filed false affidavit Supreme Court regarding agricultural laws | कांग्रेस का हमला, कृषि क़ानूनों को लेकर सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में दाख़िल किया है झूठा हलफ़नामा
सरकार और किसान संगठनों के बीच अब तक बातचीत बेनतीजा रही है। (file photo)

Highlightsप्रदर्शनकारी संगठनों ने समिति के सदस्यों को लेकर सवाल उठाए हैं।उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को तीन कृषि कानूनों के अमल पर अस्थायी रोक लगा दी।गतिरोध को खत्म करने के मकसद से और चार सदस्यीय एक समिति का गठन किया।

नई दिल्लीः किसानों की मांगों को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में दाखिल किये हलफ़नामे में गलत जानकारियाँ दे कर अदालत को गुमराह किया है।

इस हमले के बीच राहुल गाँधी ने भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुये ट्वीट किया कि 60 से ज़्यादा अन्नदाता की शहादत से मोदी सरकार शर्मिंदा नहीं हुई लेकिन ट्रैक्टर रैली से इन्हें शर्मिंदगी हो रही है! कांग्रेस ने अदालत को गुमराह करने के अपने आरोप को साबित करने के लिये सूचना के अधिकार के तहत मिली जानकारी को साझा किया, जिसमें पूछा गया था कि अध्यादेश और कानून लाने से पहले सरकार ने तीनों क़ानूनों को लेकर कब, कितनी बार और किस किस से परामर्श किया था।

आरटीआई के जबाब में बताया गया कि सरकार के पास इसका कोई रिकॉर्ड नहीं है, जबकि हलफ़नामे में सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय को बताया की उसने पिछले कई वर्षों तक इन क़ानूनों को लेकर परामर्श किया है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने इसे सरासर झूठ बताते हुये दलील दी कि 2003और 2013 में जो सुझाव आये यह सरकार उसे परामर्श बता रही है जबकि सच्चाई यह है कि इन सुझावों साफ़ इशारा किया गया था कि ऐसा क़ानून बनाने का अधिकार राज्यों के पास है केंद्र केवल प्रस्तावित कर सकता है।

लेकिन अध्यादेश लाने और क़ानून बनाने से पहले सरकार ने कोई परामर्श किया ही नहीं था। उल्लेखनीय है कि कृषि कानूनों के विरोध में किसान संगठन पिछले करीब 50 दिनों से दिल्ली के निकट विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार और किसान संगठनों के बीच अब तक बातचीत बेनतीजा रही है।

Web Title: Congress attack pm narendra modi government filed false affidavit Supreme Court regarding agricultural laws

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे