मर्डर मिस्ट्री का खुलासा, 2000 किमी की यात्रा, महाराष्ट्र में साजिश रची, कोलकाता में मारा और शव फेंका झारखंड में

Published: June 17, 2021 09:46 PM2021-06-17T21:46:47+5:302021-06-17T21:46:47+5:30

Next

झारखंड के जामताड़ा में अनैतिक संबंध में एक व्यक्ति की हत्या कर दी। खलासी की पत्नी का ट्रक ड्राइवर से अफेयर चल रहा था। नासिक में आरोपियों ने की हत्या की साजिश रची और कोलकाता में मार डाला।

पुलिस ने खुलासा किया कि खलासी ने कोलकाता के चमारेल में एक पार्किंग में ट्रक चालक की हत्या कर दी। इसके बाद वह शव को ट्रक में ले गया। दुर्गंध आने पर वह झारखंड के जामताड़ा में फेंक दिया।

सड़क किनारे लाश पड़ी देखकर कुछ ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने शव की तलाश की। कुछ दिनों बाद मृतक की पहचान विजय कुमार उर्फ ​​आकाश यादव के रूप में हुई।

पुलिस ने शवों की शिनाख्त के लिए काफी मशक्कत की। सड़क किनारे शव पड़ा होने की जानकारी होने पर ग्रामीण सहम गए। पुलिस को पता चला कि ट्रक मृतक आकाश यादव चला रहा था। उसका एक महिला से अफेयर था

पुलिस ने शव को परिजनों को सौंपकर अंतिम संस्कार कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। इस बारे में एसपी दीपक सिन्हा ने कहा, ''शुरुआत में हमारे लिए शव की शिनाख्त करना एक चुनौती थी.'' हालांकि पुलिस को उसकी शिनाख्त हो गई।

पुलिस अधिकारी संजय ने शव की फोटो मुख्यालय समेत सभी थानों को भेजी। धनबाद में एक सोशल मीडिया ग्रुप पर फोटो वायरल होने के बाद, मृतक के परिवार ने उसकी पहचान आकाश यादव के रूप में की और मिहिजामा ठाणे पुलिस को फोन किया।

फोटो देखने के बाद परिवार ने मृतक की पहचान की और बताया कि यह एक ट्रक चालक था, सह चालक रवींद्र यादव को सूचित किया। जांच के दौरान रवींद्र यूपी के बलिया के एक गांव में अपनी भाभी के घर छिपा था।

मृतक आकाश यादव के रवींद्र यादव की पत्नी के साथ अनैतिक संबंध थे। जब रवींद्र को इसकी जानकारी हुई तो उसने अपनी पत्नी को समझाने की बहुत कोशिश की।

रवींद्र और आकाश नासिक से ट्रक से कोलकाता पहुंचे थे। मौका का फायदा उठाकर रवींद्र ने आकाश पर टायर लीवर रॉड से हमला किया और उसे मार डाला। इसके बाद जामताड़ा के सतसाल में शव को सड़क किनारे फेंक दिया।

एसपी दीपक कुमार सिन्हा ने बताया कि रवींद्र यादव की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसके पास से एक टायर लीवर रॉड और ट्रक की सीट पर एक मोबाइल फोन व खून का ढक्कन बरामद किया है. आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है। रवींद्र ने 5 जून को आकाश की हत्या की थी।