Rajya Sabha:सत्तारूढ़ गठबंधन राजग से बाहर जदयू, विधेयक पारित कराने के लिए बीजद, वाईएसआरसीपी का सहारा, जानें बीजेपी के पास कितने एमपी, क्या है बहुमत का आंकड़ा

By भाषा | Published: August 10, 2022 09:40 PM2022-08-10T21:40:18+5:302022-08-10T21:43:48+5:30

Rajya Sabha: राज्यसभा में जदयू के पांच सदस्य हैं जिनमें उपसभापति हरिवंश भी शामिल हैं। हरिवंश की किस्मत अब अधर में लटकी हुई है क्योंकि उन्हें इस्तीफा देना पड़ सकता है क्योंकि उनकी पार्टी सत्तारूढ़ गठबंधन राजग से बाहर हो गई है।

Rajya Sabha JDU out NDA, BJD, YSRCP's support get bill passed bjp mp 91, 245-member house BJP need support 123 members simple majority | Rajya Sabha:सत्तारूढ़ गठबंधन राजग से बाहर जदयू, विधेयक पारित कराने के लिए बीजद, वाईएसआरसीपी का सहारा, जानें बीजेपी के पास कितने एमपी, क्या है बहुमत का आंकड़ा

245 सदस्यीय सदन में, भाजपा को साधारण बहुमत के लिए 123 सदस्यों के समर्थन की आवश्यकता होगी।

Next
Highlightsनिचले सदन में भाजपा के पास अपने दम पर पूर्ण बहुमत है।बीजू जनता दल (बीजद) और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा में नौ-नौ सांसद हैं। राज्यसभा में भाजपा के पास अपने दम पर बहुमत नहीं है, जहां भाजपा के पास केवल 91 सदस्य हैं।

नई दिल्लीः जनता दल (यूनाइटेड) के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से बाहर होने के साथ, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को अब राज्यसभा में महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित कराने के लिए बीजू जनता दल (बीजद) और वाईएसआर कांग्रेस जैसे क्षेत्रीय दलों पर अधिक निर्भर रहना होगा।

राज्यसभा में जदयू के पांच सदस्य हैं जिनमें उपसभापति हरिवंश भी शामिल हैं। हरिवंश की किस्मत अब अधर में लटकी हुई है क्योंकि उन्हें इस्तीफा देना पड़ सकता है क्योंकि उनकी पार्टी सत्तारूढ़ गठबंधन राजग से बाहर हो गई है। हालांकि, हरिवंश सोमनाथ चटर्जी के नक्शेकदम पर चलते हुए पद पर बने रह सकते हैं, जो 2008 में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) द्वारा पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद भी लोकसभा अध्यक्ष बने रहे थे। जद(यू) के लोकसभा में 16 सांसद हैं, लेकिन निचले सदन में भाजपा के पास अपने दम पर पूर्ण बहुमत है।

राज्यसभा में भाजपा के पास अपने दम पर बहुमत नहीं है, जहां भाजपा के पास केवल 91 सदस्य हैं। इसे कुल 110 सांसदों का समर्थन प्राप्त है, जिसमें दो निर्दलीय और अन्नाद्रमुक (चार सांसद) शामिल हैं। 245 सदस्यीय सदन में, भाजपा को साधारण बहुमत के लिए 123 सदस्यों के समर्थन की आवश्यकता होगी, जिसके लिए उसे तीन और निर्दलीयों और बीजद या वाईएसआरसीपी के समर्थन की आवश्यकता होगी।

बीजू जनता दल (बीजद) और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा में नौ-नौ सांसद हैं। दोनों ने हाल के दिनों में प्रमुख विधेयकों को पारित कराने में सत्तारूढ़ दल को अपना समर्थन दिया है। राजग के सहयोगी क्षेत्रीय दलों के आठ अन्य सांसदों में आरपीआई-ए के रामदास अठावले, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के हिशे लाचुंगपा, असम गण परिषद (एजीपी) के बीरेंद्र प्रसाद वैश्य, पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) के अंबुमणि रामदास और तमिल मनीला कांग्रेस (मूपनार) जी के वासन शामिल हैं।

नेशनल पीपुल्स पार्टी के वानवीरॉय खारलुखी, मिजो नेशनल फ्रंट के के. वनलालवेना और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी (लिबरल) के आर. नारजारी भी भाजपा का समर्थन कर रहे हैं। इसके अलावा, दो निर्दलीय सांसद - असम से अजीत कुमार भुइयां और हरियाणा से कार्तिकेय शर्मा - भी सत्तारूढ़ राजग के साथ हैं। 

Web Title: Rajya Sabha JDU out NDA, BJD, YSRCP's support get bill passed bjp mp 91, 245-member house BJP need support 123 members simple majority

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे