'देश में तनाव और हिंसा का माहौल', पीएम मोदी की मौजूदगी में बोले राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत

By रुस्तम राणा | Published: January 20, 2022 10:37 PM2022-01-20T22:37:51+5:302022-01-21T08:03:25+5:30

गहलोत ने कहा, ‘'हम चाहते हैं कि देश में शांति-सद्भाव-भाईचारा उत्पन्न हो, मजबूत हो, जिसकी आज सबसे बड़ी आवश्यकता भी है क्योंकि थोड़ा देखने में आ रहा है कि देश के अंदर तनाव का, हिंसा का माहौल है। उससे छुटकारा मिले, यह आपकी-हमारी, हम सबकी इच्छा है।’' 

Rajasthan CM Ashok Gehlot says there is atmosphere of 'violence' in country in PM Modi's Presence | 'देश में तनाव और हिंसा का माहौल', पीएम मोदी की मौजूदगी में बोले राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत

'देश में तनाव और हिंसा का माहौल', पीएम मोदी की मौजूदगी में बोले राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत

Next
Highlightsमाउंट आबू में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे सीएम गहलोत इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हुए थे सम्मिलितसीएम के इस बयान पर गरमाई सियासत, भाजपा-कांग्रेस में सियासी जंग

जयपुर:राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शांति सद्भाव पर जोर देते हुए बृहस्पतिवार को एक बार फिर कहा कि देश में तनाव और हिंसा का माहौल है। उन्होंने कहा कि सत्य-अहिंसा के मार्ग पर चलकर ही समाज और देश आगे बढ़ सकता है। गहलोत माउंट आबू स्थित ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा आयोजित ‘आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर’ कार्यक्रम के शुरुआत समारोह को ऑनलाइन माध्यम से संबोधित कर रहे थे। 

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शरीक हुए थे। गहलोत ने कहा, ‘'हम चाहते हैं कि देश में शांति-सद्भाव-भाईचारा उत्पन्न हो, मजबूत हो, जिसकी आज सबसे बड़ी आवश्यकता भी है क्योंकि थोड़ा देखने में आ रहा है कि देश के अंदर तनाव का, हिंसा का माहौल है। उससे छुटकारा मिले, यह आपकी-हमारी, हम सबकी इच्छा है।’' 

उन्होंने कहा,'‘ मैं समझता हूं कि सत्य-अहिंसा के मार्ग पर चलकर ही हम समाज को और इस देश को आगे बढ़ा सकते हैं। जहां शांति होगी, वहां विकास होगा। इसलिए, शांति-सद्भाव-भाईचारा-सत्य-अहिंसा हमारे मूल मंत्र हैं, मुझे लगता है कि इन्हें मजबूत करने का काम प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय का परिवार बहुत अच्छे ढंग से निभा सकता है, यह मेरा विश्वास है।’’ 

उन्होंने कहा कि भविष्य की पीढ़ी को सत्य-अहिंसा-भाईचारा-सद्भावना के माहौल में शिक्षित होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘75 साल में हम लोग इस देश को कहां से कहां ले आए हैं और प्रधानमंत्री मोदी जब दुनिया के मुल्कों में जाते हैं , तब इस देश को मान-सम्मान मिलता है क्योंकि देश ने 75 साल विज्ञान व तकनीकी सहित हर क्षेत्र में तरक्की की है।’’ 

गहलोत ने कहा, ‘‘प्राचीन काल से ही हमारे यहां वसुधैव कुटुंबकम की बात की गई है। हमारे ऋषि-मुनियों ने, हमारे पूर्वजों ने, प्राचीन काल से ही वसुधैव कुटुंबकम, पूरा विश्व हमारा कुटुंब है सिखाया है। ऐसी भावना रखने वाला देश है हमारा हिन्दुस्तान और हमें इसपर बहुत गर्व महसूस होता है कि हमारे संस्कार-संस्कृति-परंपराएं महान हैं।’’ 

वहीं भाजपा की राजस्थान इकाई ने इस वर्चुअल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री गहलोत के भाषण के एक हिस्से को ‘सोच का फर्क है’ शीर्ष से ट्वीट किया है। इस क्लिप में गहलोत देश में हिंसा और तनाव के माहौल की बात कर रहे हैं वहीं प्रधानमंत्री मोदी देश में भेदभाव मुक्त व्यवस्था, सामाजिक न्याय और नए विचार व दृष्टिकोण के बारे में बोल रहे हैं।

भाजपा ने लिखा है, ‘‘एक तरफ कांग्रेस की नफरत वाली सोच है, दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सकारात्मक सोच है।’’ वहीं मुख्यमंत्री गहलोत के विशेषाधिकारी लोकेश शर्मा ने भाजपा के वीडियो के जवाब में लिखा है, ‘‘1.39 मिनट के तुलनात्मक वीडियो में मुख्यमंत्री की 26 सेकेंड की क्लिप लेकर सोच की तुलना करना किस प्रकार की सोच है? 

मुख्यमंत्री ने वसुधैव कुटुंबकम की बात की है, उनकी सोच है देश में शांति-सद्भाव-भाईचारा मजबूत हो जिसकी सबसे बड़ी आवश्यकता है.. आग्रह है ऐसा दुष्प्रचार न करें व इसे पूरा सुनें।’’

Web Title: Rajasthan CM Ashok Gehlot says there is atmosphere of 'violence' in country in PM Modi's Presence

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे