pravin togadia wrote letter to pm narendra modi | प्रवीण तोगड़िया ने PM मोदी को लिखा भावुक खत, मांगा मिलने का समय

वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए हैं। इस बार वह पीएम मोदी को खत खिलने के कारण चर्चा में आए हैं। दरअसल प्रवीण तोगडि़या अब राम मंदिर के साथ-साथ किसानों, मजदूरों और बेरोजगारों की बात कही है। खबर के मुताबिक तोगड़िया ने पीएम से मिले का वक्त भी मांगा है। उन्होंने खत के जरिए केंद्र सरकार से कई मुद्दों को लेकर नाराज चल रहे तोगड़िया ने पीएम को कई पुरानी बातें भी याद दिलाई हैं। 

उन्होंने मोदी को अपने साथ गुजारे समय को याद दिलाया है। खबर के अनुसार इस खत में उन्होंने लिखा है 'बहुत वक्त से हम दोनों का दिल से संवाद नहीं हुआ, जो 1972 से 2005 तक होता रहा था। समय-समय पर देश के, गुजरात के और आपके भी जीवन में जो प्रश्न उपस्थित हुए, उनपर हम दोनों ने साथ रहकर बहुत काम किया। हमारे घर, ऑफिस में आपका आना, साथ में भोजन, चाय ठहाके लगाकर हंसना, मुझे विश्वास है आप कुछ भी नहीं भूले हो।'

इतना ही नहीं उन्होंने ये भी लिखा है 'मित्रता और मोटा भाई के नाते हमारी कई विषयों पर खुलकर चर्चा होती थी, एक दूसरे के साथ, एक दूसरे के लिए खड़े रहे थे। जो 2002 से कम होता गया, जब हजारों हिंदू गुजरात में जेल भेजे गए और 300 के करीब हिंदू गुजरात की पुलिस की गोलियों से मारे गए।

तोगड़िया ने तंज कसते हुए कहा कि  'विकास के लिए हिंदुओं को अपमानित करने की आवश्यकता नहीं होती। दोनों साथ साथ चल सकते हैं, लेकिन बातचीत होनी चाहिए। खत के अंत में उन्होंने लिखा कि मुझे पता है मेरे खत का जवाब नहीं आएगा, एक बिछड़ा मित्र फोन उठाकर बात कर मिलने का समय तय करेगा ऐसी उम्मीद के साथ।' 
 


भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे