PM narendra modi addresses poll Meeting at Korba Chhattisgarh and attacks on congress over naxal issue | 'छत्तीसगढ़ को फिर से हिंसा के भयानक दौर में धकेलने की चल रही साजिश, नक्सलियों का हौसला बढ़ाने में जुटी कांग्रेस' 
'छत्तीसगढ़ को फिर से हिंसा के भयानक दौर में धकेलने की चल रही साजिश, नक्सलियों का हौसला बढ़ाने में जुटी कांग्रेस' 

कांग्रेस के ढकोसला पत्र से भी नक्सलियों का मनोबल बढ़ रहा है। कांग्रेस ने ऐलान किया कि अगर उसकी सरकार बनी तो वो राष्ट्रद्रोह का कानून समाप्त कर देंगे। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (16 अप्रैल) को छत्तीसगढ़ में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि इससे पहले जब मैं यहां (कोरबा) आया था तब मैंने कांग्रेस के नेताओं के बयान की तरफ आप लोगों का ध्यान दिलाया था। तब नक्सलियों को क्रांतिकारी कहने का दौर कांग्रेस में चल पड़ा था। नक्सली हमले कांग्रेस द्वारा नक्सलियों के हौसला बढ़ाया जाने से हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ को फिर से हिंसा के भयानक दौर में धकेलने की साजिश चल रही है। नक्सलियों और माओवादियों के इन समर्थकों से आपको सावधान रहने की जरूरत है। 

पीएम ने कहा कि कांग्रेस का पंजा सिर्फ नक्सलियों के साथ ही नहीं बल्कि उन लोगों के साथ भी है जो देश के टुकड़े करना चाहते हैं। छत्तीसगढ़ के, भारत के लाखों जवान जम्मू कश्मीर को आतंक की गहरी साजिशों से बचाने में जुटे हैं लेकिन कांग्रेस का पंजा उनको भी कमजोर करना चाहता है। 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस बरसों पहले जमीन से इतना कट चुकी है, कि उसे देश के लोगों की भावनाएं, देश के लोगों की जरूरतें समझ ही नहीं आती। एक परिवार की गुलामी, उस परिवार का हुक्म मानना ही कांग्रेस की सच्चाई है। लोगों के साथ विश्वासघात करने में, उन्हें धोखा देने में कांग्रेस को दशकों का अनुभव है। 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की न नीयत साफ रही है और न ही नीतियां। एक बार मजबूर सरकार बन गई तो ये लोग फिर कोयला खानों की बंदरबांट करेंगे। एक तरफ कांग्रेस आपसे सुविधाएं छीनने की बात कर रही है, वहीं भाजपा ने अपनी योजनाओं को विस्तार देने का संकल्प लिया है।     


Web Title: PM narendra modi addresses poll Meeting at Korba Chhattisgarh and attacks on congress over naxal issue