NEET Exam Result 2020: Topper Akansha Singh from delhi scores 720/720, hopes to become neurosurgery researcher, here the details | NEET Result 2020: लड़कियों में आकांक्षा सिंह ने किया टॉप, जानें क्यों 720 में से 720 मार्क्‍स लाने पर भी मिली सेकेंड रैंक
लड़कियों में दिल्ली की आकांक्षा सिंह ने टॉप किया है।

HighlightsNEET परीक्षा में ओडिशा के शोएब आफताब ने 720 में से 720 अंक हासिल करके टॉप किया है। लड़कियों में दिल्ली की आकांक्षा सिंह ने टॉप किया है।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने नीट मेडिकल प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट (NEET Result 2020) जारी कर दिया। इसमें ओडिशा के शोएब आफताब ने 720 में से 720 अंक हासिल करके टॉप किया है। उन्होंने इतिहास रचते हुए ऑल इंडिया रैंक 1 हासिल की है। इसके साथ ही लड़कियों में दिल्ली की आकांक्षा सिंह ने टॉप किया है। हालांकि आकांक्षा सिंह को भी 720 में से 720 अंक मिला है लेकिन उम्र की वजह से उन्हें दूसरा स्थान हासिल हुआ है।

दरअसल इस परीक्षा में ओडिशा के शोएब आफताब के साथ सिंह को शत प्रतिशत अंक मिले हैं लेकिन राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) की टाई-ब्रेकिंग नीति (समान अंक आने पर वरिष्ठता तय करने की प्रणाली) के तहत कम उम्र होने की वजह से उन्हें दूसरी रैंक मिली।अधिकारियों ने बताया कि टाई-ब्रेकर नीति में उम्र, विषयों में अंक और गलत उत्तर को संज्ञान में लिया जाता है। उन्होंने बताया कि शोएब और अकांक्षा को बराबर अंक मिले थे। इसलिए उम्र के आधार पर रैंकिंग तय की गई।

अधिकारी ने कहा, ‘‘समान अंक होने पर पहले रसायन विज्ञान और फिर जीव विज्ञान के अंकों से तुलना की जाती है। अगर दोनों विषयों में समान अंक होते हैं तो परीक्षा में गलत उत्तर पर विचार किया जाता है। यहां पर भी फैसला नहीं होने पर उम्र को आधार बनाया जाता है।’’

ऐसे में आइए जानते हैं कौन है आंकाक्षा सिंह

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आकांक्षा सिंह मूल रूप से कुशीनगर के अभिनायकपुर गांव से हैं। 10वीं के बाद 11 वीं और 12वीं की पढ़ाई दिल्ली में की और यहीं से नीट की कोचिंग भी की। शुरुआत में आकांक्षा सिविल सर्विस में जाने की सोच रही थी लेकिन दिल्ली स्थित एम्स उनके लिए एक प्रेरणा बना और उसे ही अपना सपना मानकर नीट की तैयारी की शुरू कर दी।आकांक्षा ने सफलता का श्रेय ईश्वर, माता पिता और अपने कोचिंग इंस्टीट्यूट को दिया और आकांक्षा को गाना सुनना और पढ़ना पसंद है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक आकांक्षा के पिता राजेंद्र कुमार राव एयरफोर्स से सेवानिवृत्त हैं जबकि मां रुचि सिंह शिक्षिका हैं और भाई अमृतांश चौथी कक्षा में पढ़ाई कर रहा है।  वह बताती हैं कि मैंने ये कभी नहीं सोचा था कि मैं टॉप की श्रेणी में होऊंगी। हां लेकिन मैंने मेहनत से तैयारी की थी इसलिए मुझे टॉप 40 में आने की उम्मीद थी। वहीं, परीक्षा में प्रथम रैंकिग लाने वाले शोएब ने कहा कि उन्हें कभी उम्मीद नहीं थी कि वह प्रथम आएंगे।

उन्होंने बातचीत में कहा, ‘‘ मैं अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां को देता हूं जो हमेशा मुझे डॉक्टर बनने के लिए प्रेरित करती हैं और मेरे साथ खड़ी रहती हैं।’’ उल्लेखनीय है कि शोएब की मां सुल्ताना रजिया गृहिणी हैं जबकि पिता शेख मोहम्मद अब्बास का छोटा सा कारोबार है।नीट परीक्षा का रिजल्ट पहले 12 अक्टूबर को घोषित किया जाना था। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद कोविड-19 महामारी से प्रभावित छात्रों और कंटेनमेंट जोन के छात्रों के लिये 14 अक्टूबर को परीक्षा का दूसरा चरण आयोजित कराया गया। यही कारण है परीक्षा का रिजल्ट आज यानी 16 अक्टूबर को घोषित किया गया। 

Web Title: NEET Exam Result 2020: Topper Akansha Singh from delhi scores 720/720, hopes to become neurosurgery researcher, here the details
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे