MP Azam Khan in trouble, administration at bulldozers at Humsafar Resort | मुश्किल में सांसद आजम खान, हमसफर रिजॉर्ट पर प्रशासन ने जेसीबी और बुलडोजर चलवाया
करोड़ों की लागत से बने इस रिसॉर्ट का लोकार्पण पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था।

Highlightsअखिलेश यादव नीत शासन के दौरान उत्तर प्रदेश में कैबिनेट मंत्री रहे खान मोहम्मद अली जौहर विश्विविद्यालय के संस्थापक एवं कुलाधिपति हैं।आजम खान ने रिजॉर्ट के लिए एक हजार मीटर अवैध कब्जा किया था, जिसे दो जेसीबी और बुलडोजर से जमींदोज कर दिया गया।

समाजवादी पार्टी के नेता एवं लोकसभा सांसद आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। 1-2 महीने के बीच उन पर लगभग 30 मामले दर्ज किए गए हैं।

सांसद आजम खान के अवैध निर्माण पर पुलिस का डंडा चला है। शुक्रवार को रामपुर सांसद आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट की दीवार पर शुक्रवार को प्रशासन ने बुलडोजर चलवा दिया। यह जौहर यूनिवर्सिटी रोड पर बना है।

आजम खान की मुश्किलें बढ़ीं,  विश्वविद्यालय के लिए जमीन हथियाने को लेकर 30 प्राथमिकियां दर्ज

समाजवादी पार्टी के नेता एवं लोकसभा सांसद आजम खान के खिलाफ पिछले एक महीने में करीब 30 प्राथमिकियां दर्ज की गईं हैं। पुलिस ने बताया कि ये सभी मामले रामपुर में उनके विश्वविद्यालय के लिए किसानों की जमीन हड़पने से जुड़े हुए हैं।

अखिलेश यादव नीत शासन के दौरान उत्तर प्रदेश में कैबिनेट मंत्री रहे खान मोहम्मद अली जौहर विश्विविद्यालय के संस्थापक एवं कुलाधिपति हैं। इसकी स्थापना 2006 में हुई थी। रामपुर के पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा ने कहा, “11 जुलाई से करीब दो दर्जन किसान विश्वविद्यालय के लिए उनकी जमीन का अतिक्रमण किए जाने के आरोप के साथ पुलिस के पास आ चुके हैं। हमने इन मामलों में 30 प्राथमिकियां दर्ज की हैं और जांच जारी है।”

उन्होंने बताया कि ये मामले भारतीय दंड संहिता के 323 (जानबूझ कर चोट पहुंचाना), 342 (गलत तरीके से बंधक बनाना), 447 (आपराधिक अतिक्रमण), 389 (वसूली के लिए किसी व्यक्ति को आरोपी बनाए जाने का डर दिखाना), 506 (आपराधिक धमकी) के तहत दर्ज किए गए हैं।

शर्मा ने कहा, ‘‘कुछ किसानों ने एक बीघा, दो बीघा और कुछ ने और अधिक बीघा जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है। अब तक 0.349 हेक्टेयर भूमि अतिक्रमण की शिकायत दर्ज हुई है और जरूरी कार्रवाई की गई है।”

अधिकारी ने कहा, “इन मामलों में अर्थ दंड के अलावा गिरफ्तारी और कैद की सजा हो सकती है।” जमीन पर कब्जा करने के अलावा रामपुर पुलिस ने विश्वविद्यालय के अधिकारियों के खिलाफ 16 जून को एक आपराधिक मामला दर्ज किया था। यह मामला 250 साल पुराने रामपुर के ओरियंटल कॉलेज के प्रधानाचार्य की शिकायत पर दर्ज किया गया कि वहां से करीब 9,000 किताबें चोरी कर उन्हें जौहर विश्वविद्यालय के पुस्तकालय में रख लिया गया। 

आजम खान ने रिजॉर्ट के लिए एक हजार मीटर अवैध कब्जा किया था, जिसे दो जेसीबी और बुलडोजर से जमींदोज कर दिया गया। बता दें कि समाजवादी पार्टी के शासनकाल में आजम खान ने इस लग्जरी हमसफर रिसॉर्ट को बनवाया था। करोड़ों की लागत से बने इस रिसॉर्ट का लोकार्पण पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था। शुक्रवार को प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए रिजॉर्ट के अवैध हिस्से को गिराया।

इससे पहले आजम खान की यूनिवर्सिटी मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय विवादों में घिरी हुई थी। आजम खान पर किसानों की जमीन पर अवैध कब्जा करके विश्वविद्यालय बनाने का भी आरोप है। दरअसल, समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान ने उत्तर प्रदेश पुलिस के जरिए पिछले तीन महीनों में उनके खिलाफ दर्जनों मामले दायर किए हैं। वहीं प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने भी आजम खान पर कार्रवाई की थी। ईडी ने आजम खान पर अब मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज किया है। 

वहीं, आजम खान रामपुर में सवा महीने से नहीं आए हैं। बकरीद पर भी वह अपने संसदीय क्षेत्र नहीं पहुंचे। उन्होंने रामपुरवासियों को पत्र लिखकर अपना दर्द बयां किया है। अपने पत्र में उन्होंने जौहर यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के लिए भी बातें लिखी हैं। आजम का यह खत सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ।


Web Title: MP Azam Khan in trouble, administration at bulldozers at Humsafar Resort
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे