महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए संयुक्त घोषणापत्र जारी कर सकता है महा विकास अघाड़ी, सर्वोच्च प्राथमिकता हो सकते हैं किसान

By मनाली रस्तोगी | Published: June 19, 2024 07:44 AM2024-06-19T07:44:33+5:302024-06-19T07:53:54+5:30

महा विकास अघाड़ी ने 48 में से 30 सीटें हासिल कीं, जिससे उन्हें आगामी राज्य विधानसभा चुनावों के लिए काफी उम्मीदें हैं। नतीजतन, तीनों पार्टियों ने अपनी चुनावी तैयारियां तेज करने का फैसला किया है। 

Maha Vikas Aghadi Likely To Release Joint Manifesto For Maharashtra Assembly Polls, Farmers May Be Top Priority | महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए संयुक्त घोषणापत्र जारी कर सकता है महा विकास अघाड़ी, सर्वोच्च प्राथमिकता हो सकते हैं किसान

Photo Credit: ANI

Highlightsमहाराष्ट्र विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। इसी क्रम में महा विकास अघाड़ी कभी भी एक संयुक्त घोषणापत्र जारी कर सकता है।कांग्रेस, शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार) महा विकास अघाड़ी का हिस्सा हैं।आम चुनावों में महा विकास अघाड़ी ने राज्य में सत्तारूढ़ महायुति गठबंधन से बेहतर प्रदर्शन किया।

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। इसी क्रम में महा विकास अघाड़ी कभी भी एक संयुक्त घोषणापत्र जारी कर सकता है। बता दें कि कांग्रेस, शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार) महा विकास अघाड़ी का हिस्सा हैं। न्यूज18 ने सूत्रों के हवाले से बताया कि घोषणापत्र उनके सीट-बंटवारे के फॉर्मूले की घोषणा से पहले भी जारी किया जा सकता है।

हाल ही में हुए आम चुनावों में महा विकास अघाड़ी ने राज्य में सत्तारूढ़ महायुति गठबंधन से बेहतर प्रदर्शन किया। महा विकास अघाड़ी ने 48 में से 30 सीटें हासिल कीं, जिससे उन्हें आगामी राज्य विधानसभा चुनावों के लिए काफी उम्मीदें हैं। नतीजतन, तीनों पार्टियों ने अपनी चुनावी तैयारियां तेज करने का फैसला किया है। 

महा विकास अघाड़ी के एक सूत्र ने कहा, "गठबंधन सहयोगियों को लगता है कि लोगों को उनसे बहुत उम्मीदें हैं। घोषणापत्र का मसौदा तैयार करते समय, वे यह सुनिश्चित करेंगे कि समुदायों के सभी हितधारकों को समान और निष्पक्ष प्रतिनिधित्व मिले।" सूत्रों ने आगे कहा कि महा विकास अघाड़ी गठबंधन के लिए संयुक्त घोषणापत्र का अध्ययन और मसौदा तैयार करने के लिए एक घोषणापत्र समिति का गठन करेगा। 

इस समिति में गठबंधन के सभी दलों का प्रतिनिधित्व होगा। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि समिति का नेतृत्व कौन करेगा और इसमें कितने सदस्य होंगे। सूत्र ने कहा, इस घोषणापत्र में किसानों के मुद्दे प्रमुख हो सकते हैं। पिछले हफ्ते महा विकास अघाड़ी ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन आयोजित किया जहां उन्होंने आगामी राज्य विधानसभा चुनाव, जो अगले कुछ महीनों में होने वाला है, एक साथ लड़ने के अपने फैसले की घोषणा की।

सूत्रों ने बताया कि प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले महा विकास अघाड़ी के शीर्ष नेताओं ने एक बैठक की, जहां उन्होंने राज्य विधानसभा में उठाए जाने वाले मुद्दों और अपनाई जाने वाली रणनीति के बारे में शुरुआती बातचीत की। बैठक में सीट बंटवारे के फॉर्मूले पर भी चर्चा हुई। 

राज्य विधानसभा के आगामी मानसून सत्र के दौरान कुछ और दौर की बातचीत होने की उम्मीद है। बैठक में चर्चा का एक मुख्य विषय यह था कि सीटों का वितरण ऐतिहासिक आंकड़ों के बजाय योग्यता और उम्मीदवारों की जीत की संभावना के आधार पर किया जाना चाहिए।

जब महा विकास अघाड़ी ने 2019 के राज्य चुनावों के बाद अपनी सरकार स्थापित की, तो उन्होंने एक सामान्य न्यूनतम कार्यक्रम बनाया था, जिस पर गठबंधन के सभी हितधारकों ने सहमति व्यक्त की, जिससे महा विकास अघाड़ी और राज्य सरकार का गठन हुआ। महा विकास अघाड़ी के एक सूत्र ने कहा कि महा विकास अघाड़ी द्वारा एक समान कार्यक्रम तैयार किए जाने की संभावना है।

Web Title: Maha Vikas Aghadi Likely To Release Joint Manifesto For Maharashtra Assembly Polls, Farmers May Be Top Priority

भारत से जुड़ीहिंदी खबरोंऔर देश दुनिया खबरोंके लिए यहाँ क्लिक करे.यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Pageलाइक करे