लखनऊ में 4 मंजिला इमारत गिरीः अब तक 13 लोगों को जिंदा बाहर निकाला गया, मलबे में कई और दबे, बचाव अभियान तेज किया गया

By अनिल शर्मा | Published: January 25, 2023 08:15 AM2023-01-25T08:15:33+5:302023-01-25T08:26:01+5:30

इलाके की रहने वाली अनुजा ने बताया "मैं अपने फ्लैट में थी। शाम करीब छह बजकर 47 मिनट पर हमें कम्पन महसूस हुआ। मुझे लगा कि यह भूकंप के कारण हुआ है। लेकिन मुझे घर से बाहर आने के लिए इसलिए कहा गया, क्योंकि पास का एक अपार्टमेंट ढह गया था।

Lucknow building collapse 13 people have been pulled out alive so far many more buried under the debris | लखनऊ में 4 मंजिला इमारत गिरीः अब तक 13 लोगों को जिंदा बाहर निकाला गया, मलबे में कई और दबे, बचाव अभियान तेज किया गया

लखनऊ में 4 मंजिला इमारत गिरीः अब तक 13 लोगों को जिंदा बाहर निकाला गया, मलबे में कई और दबे, बचाव अभियान तेज किया गया

Next
Highlightsपुलिस के मुताबिक ये अवैध निर्माण इमारत थी जिसका नक्शा पास नहीं हुआ था।प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक यह हादसा शाम करीब छह बजकर 45 मिनट पर हुआ। लखनऊ के संभागीय आयुक्त रोशन जैकब ने बताया कि अभी तक 13 लोगों को जिंदा बाहर निकाला गया है।

लखनऊः यहां के हजरतगंज में मंगलवार एक चार मंजिला आवासीय इमारत के गिरने से 2 दर्जन से अधिक लोग दब गए।  अब तक 13 लोगों को बचाया जा चुका है। हालांकि अभी भी कई लोग मलबे में दबे हुए हैं। लखनऊ के संभागीय आयुक्त रोशन जैकब ने बताया कि अभी तक 13 लोगों को जिंदा बाहर निकाला गया है, 2-3 और लोगों के फंसे होने की सूचना है। सभी की हालत ठीक है।

रोशन जैकब के मुताबिक, ये अवैध निर्माण इमारत थी जिसका नक्शा पास नहीं हुआ था और ये पुरानी इमारत थी। उन्होंने कहा कि जांच के लिए जोन की कमेटी बनी हुई है। 1.5 घंटा और बचाव अभियान चलेगा। वहीं यूपी के डीजीपी डी.एस. चौहान ने कहा कि जिन्हें अस्पताल ले जाया गया है वे सुरक्षित हैं। किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। हादसे के कारणों की जांच व कार्रवाई की जाएगी।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक यह हादसा शाम करीब छह बजकर 45 मिनट पर हुआ। अपनी बेटी उजमा, नाती मुस्तफा और अन्य लोगों को अपनी आंखों के सामने मलबे से सुरक्षित निकलवाने के लिए कुछ रिश्तेदारों के साथ मौके पर जाने को आतुर कुलसुम को बड़ी मुश्किल से रिश्तेदार रोक पाए।

इलाके की रहने वाली अनुजा ने बताया "मैं अपने फ्लैट में थी। शाम करीब छह बजकर 47 मिनट पर हमें कम्पन महसूस हुआ। मुझे लगा कि यह भूकंप के कारण हुआ है। लेकिन मुझे घर से बाहर आने के लिए इसलिए कहा गया, क्योंकि पास का एक अपार्टमेंट ढह गया था। अपार्टमेंट में लगभग सात-आठ परिवार रह रहे थे।"

Web Title: Lucknow building collapse 13 people have been pulled out alive so far many more buried under the debris

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे

टॅग्स :Lucknowलखनऊ