Kangana is rightly saying - 'Ku' is like home, everything else is for rent: Co-founder of Ku | सही कह रही हैं कंगना - ‘कू’ घर जैसा है, बाकी सब किराये का है : कू की सह-संस्थापक
सही कह रही हैं कंगना - ‘कू’ घर जैसा है, बाकी सब किराये का है : कू की सह-संस्थापक

नयी दिल्ली, पांच मई घृणा भाषण संबंधी नियमों के उल्लंघन को लेकर ट्विटर द्वारा अभिनेत्री कंगना रनौत का हैंडल प्रतिबंधित किए जाने के कुछ ही घंटों बाद प्रतिद्वंद्वी एप ‘कू’ ने अभिनेत्री का स्वागत किया और कहा कि उनका यह मानना बिल्कुल सही है कि ‘मेड इन इंडिया’ प्लेटफॉर्म घर जैसा लगता है, बाकि सब किराये का लगता है।

अमेरिकी कंपनी ट्विटर पर चुटकी लेते हुए ‘कू’ की सह-संस्थापक अप्रामेया राधाकृष्णन ने 16 फरवरी, 2021 का रनौत का संदेश साझा किया।

राधाकृष्णन ने ‘कू’ पर लिखा है, ‘‘यह कंगना रनौत का पहला कू था। उनका कहना सही है कि कू घर जैसा लगता है, बाकी सब किराए जैसा।’’

मंच के सह-संस्थापक मयंक बिडावटका ने रनौत का स्वागत करते हुए कहा कि इस मंच पर वह गर्व के साथ अपने विचार रख सकती हैं।

कू पर कंगना के 4.48 लाख फॉलोवर्स हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Kangana is rightly saying - 'Ku' is like home, everything else is for rent: Co-founder of Ku

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे