Indian Railway starts second reservation chart system, will issued 30 minutes before departure | Railway Reservation: रेलवे ने टिकट आरक्षण के नियमों में किया बड़ा बदलाव, अब यात्रियों को मिलेगी ये सुविधा
रेलवे ने टिकट आरक्षण के नियमों में किया बदलाव (फाइल फोटो)

Highlightsरेलवे में टिकट आरक्षण के नियमों को लेकर बड़ा बदलाव, ट्रेनों में रिजर्वेशन का दूसरा चार्ट आधे घंटे पहले जारी होगाआधे घंटे पहले तक खाली सीटों पर टिकट बुकिंग की मिलेगी सुविधा, 10 अक्टूबर से बदला हुआ नियम होगा लागू

कोरोना संकट के बीच भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने टिकट आरक्षण के नियमों को लेकर बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत अब ट्रेनों में रिजर्वेशन का दूसरा चार्ट ट्रेन के स्टेशन से खुलने से आधे घंटे (30 मिनट) पहले जारी किया जाएगा। ये सुविधा 10 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी। ये सिस्टम पहले भी लागू था लेकिन कोरोना संक्रमण के फैलने के बाद इसे पिछले कुछ महीनों से रोक दिया गया था।

कोविड से पहले की व्यवस्था के मुताबिक पहला रिजर्वेशन चार्ट ट्रेनों के निर्धारित प्रस्थान के समय से कम से कम चार घंटे पहले तैयार किया जाता था। ऐसा इसलिए ताकि बाद में उपलब्ध बर्थ द्वितीय आरक्षण तालिका के तैयार होने तक पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर पीआरएस काउंटरों और इंटरनेट के माध्यम से बुक किये जा सकें।

कोरोना वायरस के कारण बदली थी व्यवस्था

पहले की व्यवस्था के अनुसार दूसरा रिजर्वेशन चार्ट ट्रेनों के निर्धारित या परिवर्तित प्रस्थान समय से 30 मिनट से लेकर पांच मिनट पहले तक तैयार किया जाता था। पहले से बुक टिकट भी रिफंड के प्रावधानों के अनुसार इस दौरान रद्द किये जा सकते थे। 

हालांकि, कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए दूसरी आरक्षण तालिका बनाने का समय ट्रेनों के निर्धारित/परिवर्तित प्रस्थान समय से आधा घंटा पहले से बढ़ाकर दो घंटा पहले कर दिया गया था।

रेल यात्रियों की सुविधा को देखते हुए जोनल रेलवे द्वारा किये गये अनुरोध के बाद इस मामले पर विचार किया गया। ये फैसला हुआ कि दूसरी चार्ट ट्रेनों के निर्धारित/परिवर्तित प्रस्थान समय से कम से कम आधा घंटा पहले तैयार कर ली जाए। 

आधे घंटे पहले तक टिकट बुकिंग की सुविधा

साथ ही ऑनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों पर टिकट बुकिंग की सुविधा भी दूसरी चार्ट के तैयार होने से पहले तक मौजूद होगी। यात्री रेल टिकट आईआरसीटीसी वेबसाइट और एप के जरिए भी बुक कर सकेंगे। आरक्षण के नए सिस्टम के लिए सीआरआईएस सॉफ्टवेयर में जरूरी बदलाव होगा ताकि दस अक्टूबर से इस व्यवस्था को बहाल किया जा सके।

बता दें कि लॉकडाउन के बाद से रेलवे ने 25 मार्च से ही सभी पैसेंजर ट्रेनों को रद्द कर रखा है। हालांकि, चरणबद्ध तरीके से इनकी शुरुआत अब हो रही है लेकिन ये स्पेशल ट्रेन के तौर पर चलाए जा रहे हैं। रेलवे ने सबसे पहले 1 मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुरू की थी। बाद में कई और ट्रेनों को शुरू किया गया। हाल में रेलवे ने 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनों की भी शुरुआत की है।

Web Title: Indian Railway starts second reservation chart system, will issued 30 minutes before departure
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे