एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने छोड़ी कांग्रेस, BBC डॉक्यूमेंट्री पर ट्वीट को हटाने के लिए पार्टी ने बनाया था दबाव, यहाँ पढ़ें त्यागपत्र

By अनिल शर्मा | Published: January 25, 2023 09:52 AM2023-01-25T09:52:54+5:302023-01-25T11:47:37+5:30

अनिल एंटनी ने बुधवार अपने ट्विटर खाते से त्यागपत्र साझा करते हुए लिखा, मैंने कांग्रेस में अपनी भूमिकाओं से इस्तीफा दे दिया है। अनिल ने कहा कि कांग्रेस बोलने की आजादी के लिए लड़ने वालों द्वारा असहिष्णु एक ट्वीट को वापस लेने की मांग करता है। मैंने मना कर दिया।

former Kerala Chief Minister AK Antony son Anil Antony resigned from the Congress | एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने छोड़ी कांग्रेस, BBC डॉक्यूमेंट्री पर ट्वीट को हटाने के लिए पार्टी ने बनाया था दबाव, यहाँ पढ़ें त्यागपत्र

एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने छोड़ी कांग्रेस, BBC डॉक्यूमेंट्री पर ट्वीट को हटाने के लिए पार्टी ने बनाया था दबाव, यहाँ पढ़ें त्यागपत्र

Next
Highlightsएके एंटनी के बेटे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर आपत्ति जताई थी।अनिल ने दावा किया कि कांग्रेस चाहती थी कि वह अपना ट्वीट वापस ले लें।

केरलःकेरल के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने कांग्रेस पार्टी से बुधवार इस्तीफा दे दिया है। अनिल एंटनी ने कांग्रेस के डिजिटल मीडिया के संयोजक और AICC सोशल मीडिया और डिजिटल संचार सेल के राष्ट्रीय सह-समन्वयक के रूप में पद से इस्तीफा दे दिया और कहा कि मेरे लिए कांग्रेस में अपनी सभी भूमिकाओं को छोड़ना उचित होगा।

गौरतलब है कि एके एंटनी के बेटे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर आपत्ति जताई थी। अनिल एंटनी ने अपनी पार्टी और नेता राहुल गांधी से अलग रुख अपनाते हुए एक ट्वीट में कहा कि भारतीय संस्थानों पर ब्रिटिश ब्रॉडकास्टर के विचारों को रखना देश की संप्रभुता को "कमजोर" करेगा। 

अनिल एंटनी ने दावा किया कि कांग्रेस ने उन्हें बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर किए ट्वीट को हटान के लिए कहा था।  बुधवार अपने ट्विटर खाते से त्यागपत्र साझा करते हुए उन्होंने लिखा, ''मैंने कांग्रेस में अपनी भूमिकाओं से इस्तीफा दे दिया है। मुझ पर एक ट्वीट को वापस लेने के असहिष्णुता से दबाव बनाया जा रहा था। वह भी उनकी तरफ से जो अभिव्यक्ति की आजादी के लिए खड़े होने की बात करते हैं। मैंने ऐसा करने से इनकार कर दिया"

नीचे पढ़ें अनिल के एंटनी के त्याग पत्र का हिंदी अनुवाद
  

कल की घटनाओं पर विचार करते हुए, मेरा मानना है कि मेरे लिए कांग्रेस में अपनी सभी भूमिकाओं - KPCC डिजिटल मीडिया के संयोजक और AICC सोशल मीडिया और डिजिटल संचार सेल के राष्ट्रीय सह-समन्वयक के पद को छोड़ना उचित होगा। कृपया इसे मेरा त्याग पत्र समझें।

मैं हर किसी को, विशेष रूप से केरल राज्य नेतृत्व को और डॉ. शशि थरूर के साथ अनगिनत पार्टी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने यहां मेरी संक्षिप्त अवधि के दौरान कई बार पूरे दिल से मेरा समर्थन और मार्गदर्शन किया।  मुझे यकीन है कि मेरे पास अपनी अनूठी ताकत है जो मुझे कई तरीकों से पार्टी में बहुत प्रभावी ढंग से योगदान करने में सक्षम बनाती। हालाँकि, अब तक मुझे अच्छी तरह से पता चल गया है कि आप, आपके सहकर्मी, और नेतृत्व के आस-पास के मंडली केवल चाटुकारों और चमचों के झुंड के साथ काम करने के इच्छुक हैं जो निर्विवाद रूप से आपके इशारे पर काम करेंगे। यह योग्यता का अकेला मानदंड बन गया है। अफसोस की बात है कि हमारे पास ज्यादा सामान्य जमीन नहीं है।

मैं अपने अन्य पेशेवर प्रयासों को इस नकारात्मकता से प्रभावित हुए बिना जारी रखना पसंद करूंगा। मेरा दृढ़ विश्वास है कि ये समय के साथ इतिहास के कूड़ेदान में समा जाएंगे।

मैं आप सभी के अच्छे होने की कामना करता हूं, और धन्यवाद देता हूं।
नमस्कार,
अनिल के. एंटनी

Web Title: former Kerala Chief Minister AK Antony son Anil Antony resigned from the Congress

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे