Highlightsचीनी सरकारी अखबार ने ये भी लिखा है कि चीन और पाकिस्तान के साथ विवाद के अलावा, भारत का नेपाल के साथ भी सीमा विवाद है।भारत के सभी पड़ोसी मुल्कों के साथ विवाद के बारे में चर्चा कर चीन सरकार के मुखपत्र ने यह बताने की कोशिश की है कि भारत हर तरफ से घिरा हुआ है। भारतीय आर्मी दावा करती है कि वो ढाई मोर्चे से जंग के लिए पूरी तरह से तैयार है, लेकिन यदि दोनों देशों से युद्ध होती है तो भारती नहीं जीत पाएगा।

नई दिल्ली: भारत व चीन के बीच सीमा पर विवाद हर रोज घटने के बजाय बढ़ता ही जा रहा है। चीनी सेना पिछले करीब दो सप्ताह से सीमा पर काफी आक्रमक होकर भारतीय जवानों से उलझ रहे हैं। यही वजह है कि पिछले 20 दिनों में बॉर्डर पर 3 बार गोलीबारी की घटना हुई है।

इस बीच चीन के सरकार अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अपने लेख के माध्यम से भारत को धमकी दी है। ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि कमजोर अर्थव्यस्था के बीच यदि भारत चीन व पाकिस्तानी सेना से एक साथ युद्ध करता है, तो कभी नहीं जीत पाएगा। 

इस लेख में चीनी लेखक ने पाकिस्तान के उकसाने का प्रयास किया है। लेख में लिखा गया है कि पाकिस्तान यदि सही समय पर कश्मीर के लिए भारत के खिलाफ सख्त कदम उठाने के बजाय यदि चुप रहेगा तो वहां के लोगों में सरकार के खिलाफ गुस्सा पैदा होगा।

लेख में आगे कहा गया है कि ऐसे हालात में भले ही पाकिस्तान सैन्य मामले में भारत से कमजोर हो लेकिन यदि चीन व पाकिस्तान दोनों एक साथ भारत से जंग लड़ता है तो भारत को मुंह की खानी होगी।

चीनी विदेश मंत्रालय ने भी भारत से ये कहा-

बता दें कि संसद में रक्षा मंत्रालय के बयान के बाद चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा है कि भारत जितना जल्दी अपनी गलती को सुधार ले, उतना ही भारत के लिए अच्छा है।

ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक,  चीनी विदेश प्रवक्ता ने कहा कि भारत अपने सेना को लद्दाख के ब्लैक टॉप चोटी से वापस जमीन पर बुला ले। उन्होंने यह भी कहा कि भारत को मॉस्को में चीन के विदेश मंत्री के साथ हुए समझौते के मुताबिक, सैन्य व राजनयिक स्तर पर बात कर अपनी सेना को तुरंत वापस बुलाना चाहिए।

चीनच्या मुजोरीला भारताचं उत्तर, ड्रॅगनला सुनावले खडे बोल!, Talks between military commanders of India and China are over | National - News18 Lokmat, Today's Latest Marathi News

ऐसा नहीं करने पर चीन ने भारत को आगे किसी भी कार्रवाई के लिए जिम्मेदार बताने का प्रयास किया है। 

पिछले 20 दिनों में दोनों देशों की सेना के बीच तीन बार गोलीबारी की घटना हुई

पूर्वी लद्दाख में भारत व चीन सीमा पर तनाव जारी है। मिल रही जानकारी के मुताबिक, पिछले 20 दिनों में दोनों देशों की सेना के बीच तीन बार गोलीबारी की घटना हुई है। दोनों देशों के बीच पहली बार फायरिंग की घटना 29 व 31 अगस्त के बीच हुई। इसके बाद, भी दो बार और दोनों देशों की सेना के बीच फायरिंग हुई है। 

यही वजह है कि दोनों देशों के बॉर्डर पर भारी तनाव है। चीनी सेना ने एक बार फिर से पैंगोंग झील के दक्षिणी हिस्से पर घुसपैठ करने की कोशिश की थी, जिसे भारतीय सेनाओं ने असफल कर दिया था। मिल रही जानकारी के मुताबिक, 7 सितंबर को मुखपरी में दूसरी बार दोनों देशों की सेना के बीच गोली चलने की घटना हुई थी। 

लडाखमध्ये तणाव! चीनने वाढवले पुन्हा सैनिक; भारतानं जवानांना धाडलं - Marathi News | tension mounts in ladakh as china brings in more troops india maintains aggressive vrd | Latest national News at ...

यही नहीं 8 सितंबर को पैंगोंग झील के पास फिर से दोनों देशों की सेना आमने सामने हो गई, इस बार चीनी सेना के काफी उग्र होने की वजह से दोनों तरफ से करीब 100 राउंड गोली चलने की खबर है।

Web Title: Chinese government newspaper Global Times threatens, India will never win from Pakistan and China together
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे