प्रोफेसर को मिली धमकी पर भाजपा ने नीतीश सरकार साधा निशाना, कहा-पीएफआई की गठजोड़ से बनी है बिहार सरकार

By एस पी सिन्हा | Published: November 24, 2022 06:45 PM2022-11-24T18:45:16+5:302022-11-24T18:45:16+5:30

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने आरोप लगाया है कि यह जो सरकार बनी है पीएफआई की गठजोड़ से बनी है। पीएफआई के कई लोग राजद में मतदाता के रूप में जुड़ें हुए हैं, वहीं जदयू में सरकारी अदिकारी के तौर पर जुड़ें हुए हैं। इसलिए यह सरकार इस तरह कि धमकी एक प्रोफेसर को दिया जाता है। 

BJP targeted Nitish government on the threat received by the professor | प्रोफेसर को मिली धमकी पर भाजपा ने नीतीश सरकार साधा निशाना, कहा-पीएफआई की गठजोड़ से बनी है बिहार सरकार

प्रोफेसर को मिली धमकी पर भाजपा ने नीतीश सरकार साधा निशाना, कहा-पीएफआई की गठजोड़ से बनी है बिहार सरकार

Next
Highlights भाजपा ने आरोप लगाया कि यह सरकार पीएफआई की गठजोड़ से बनी हैबीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- यह पूरा मामला बिहार में कानून व्यवस्था खराब होने के कारण हो रहा हैबिहार में दरभंगा स्थित ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ललित मोहन मिश्रा को मिली सर तन से जुदा की धमकी

पटना:बिहार में दरभंगा स्थित ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ललित मोहन मिश्रा को मिली सर तन से जुदा करने की धमकी मिलने के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कई अन्य मामलों में भी सरकार पर सवाल उठया है। 

उन्होंने आरोप लगाया है कि यह जो सरकार बनी है पीएफआई की गठजोड़ से बनी है। पीएफआई के कई लोग राजद में मतदाता के रूप में जुड़ें हुए हैं, वहीं जदयू में सरकारी अधिकारी के तौर पर जुड़े हुए हैं। इसलिए यह सरकार इस तरह कि धमकी एक प्रोफेसर को दिया जाता है। 

डॉ. जायसवाल ने कहा कि भाजपा किसी भी हालत में इनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि हमलोग सरकार को चेतावनी देते हैं कि यदि इस तरह के बातों के बाद प्रोफेसर को सुरक्षा दें, इसके साथ ही तुरंत उस अपराधी को गिरफ्तार करें जो इस तरह का संदेश दे रहा है। यह पूरा मामला बिहार में कानून व्यवस्था खराब होने के कारण हो रहा है। 

आदित्य ठाकरे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से हुई मुलाकात को लेकर डॉ. जायसवाल ने कहा कि अब पहले तो नीतीश कुमार को समझना चाहिए की अब वो बिहार में एक डमी मुख्यमंत्री हैं, आज ठाकरे भी आते हैं तो तेजस्वी यादव से मिलते हैं। अब तेजस्वी मजबूरी में उनको नीतीश जी के पास ले जाते हैं। यह तो वहीं बात हो गई की कोई भी मेहमान आता हो तो उसे घर के बूढ़े मुखिया के पास जो अकेले चुपचाप पड़ा रहता है तो बस उसके पास आशीर्वाद लेने के लिए चला जाता है। 

वहीं, कुढ़नी उपचुनाव को लेकर डॉ जायसवाल ने कहा कि जिनको जितना उछलना- कूदना हैं, कूदने दीजिये। इसका सही फैसला उस समय आएगा जब रिजल्ट भाजपा के पक्ष में आएगा। 

वहीं, मुख्यमंत्री के प्रचार में जाने को लेकर कहा कि यह तो उनका शुरू से ही नियत रहा है कि खुद के पार्टी का सिर्फ प्रचार करे हैं, यह तो हमारे साथ जब सरकार थी तब भी करते थे। इसलिए इसमें कोई नई बात नहीं है। 

इसके साथ ही उन्होंने कहा असल चीज तो यह है कि इससे पहले जब राजद चुनाव लड़ी थी तो वो पेट दिखाते थे और पटना में घूमते थे, अब जब खुद कि पार्टी चुनाव लड़ रही है तो पूरा राजद को अपने साथ ले जायेंगे।

Web Title: BJP targeted Nitish government on the threat received by the professor

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे