Bihar: Tabligi mobilization activities continue in many districts, video footage received by central intelligence agencies, alert made | बिहार: कई जिलों में जारी है तबलीगी जमातियों की गतिविधियां, केंद्रीय खुफिया एजेंसियों को मिले वीडियो फुटेज, किया गया अलर्ट
पटना में पकड़े गए 17 जमातियों को जेल भेज दिया गया है.

Highlightsतबलीगी जमातियों की गतिविधियां जारी रहने की खबर आने के बाद शासन-प्रशासन में हडकंप मच गया है.बिहार में तबलीगी जमातियों के छुपे होने और उनके जत्थे का वीडियो मिला है.

पटना: बिहार में गुपचुप तरीके से तबलीगी जमातियों की गतिविधियां जारी रहने की खबर आने के बाद शासन-प्रशासन में हडकंप मच गया है. केंद्रीय खुफिया एजेंसियों को राज्य के विभिन्न जिलों के कई इलाकों में तब्लीगी जमातियों के छुपे होने और उनके जत्थे का वीडियो मिला है. यह वीडियो सात अप्रैल की सुबह 7.50 बजे की बताई जा रही है. एक वीडियो मुजफ्फरपुर जिले के कांटी थाना क्षेत्र के एक मदरसे का बताया जा रहा है. इस वीडियो में उस मदरसे की ओर तब्लीगी जमात के लोग जाते दिख रहे हैं.

बताया जाता है कि इस आधार पर खुफिया विभाग ने जिले के विभिन्न इलाकों में दो दर्जन से अधिक तब्लीगी जमातियों के छुपे होने की सूचना पटना स्थित मुख्यालय को दी है. राज्य मुख्यालय को उक्त वीडियो फुटेज भी सौंपा गया है. स्थानीय जिला व पुलिस प्रशासन को इसकी जानकारी दी गई है. इस सूचना के आधार पुलिस गुप्त रूप से जमातियों की तलाश व सत्यापन कर रही है. प्रशासन की इन्हें खोजकर क्वारंटाइन कराना चाह रही है. हालांकि पुलिस के वरीय अधिकारी इस तरह की सूचना व वीडियो के संबंध में अपनी अनभिज्ञता जता रहे हैं. लेकिन सूत्रों की अगर मानें तो ऐसी गतिविधियों के बारे में कई जिलों से जानकारी मिली है. इसके बाद प्रशासन गुप्त रूप से उनकी टोह लेने में जुट गया है. वहीं, सूत्रों की अगर मानें तो केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने यह भी जानकारी दी है कि कोरोना से संक्रमित कई जेहादी भारत के सीमावर्ती नेपाल की कई मस्जिदों में छिपे बैठे हैं. इनमें कई पाकिस्‍तानी भी शामिल हैं. कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए भारत-नेपाल सीमा बीते 24 मार्च से ही सील कर दी गई है.

सूत्रों के अनुसार भारतीय सीमा से लगे नेपाल की मस्जिदों में भारत में घुसने को इच्‍छुक लोग रह रहे हैं. इनमें से अधिकतर विदेशों में काम करने गए भारतीय हैं. इन्‍हीं की आड में जालिम मुखिया ने कोरोना फैलाने की साजिश रच रहे कोरोना से संक्रमितो  को मस्जिद में छुपा रखा है. 

इसबीच, पटना में पकड़े गए 17 जमातियों को जेल भेज दिया गया है. बता दे कि इन जमातीयो को  23 मार्च के दिन दीघा थाना अंतर्गत क्षेत्र के गेट नंबर 74 से पकड़ा गया था. जिसके बाद वहां के स्थानीय लोगों ने कोरोना संक्रमण फैलने की आशंका होने की वजह से  शोर मचाना शुरू कर दिया. जिसकी सुचना पुलिस को दी गई. जिसके बाद मौके पर पुलिस ने पहुंचकर मामले को देखने पहुंची. साथ ही स्थानीय लोगो के हंगामें के बाद पुलिस ने सभी जमातियों को कोरोना वायरस की जांच के लिए भेजा दिया था. ये सभी जमाती दीघा एवं  फुलवारी के इलाके में छुपे थे. जहां सभी जमातियों ने अंधेरे का सहारा लेकर मस्जिद में चुपचाप जाकर अपना डेरा डाला हुआ था. बताया जाता है कि पकडे गए सभी जमाती कजाकिस्तान, किर्गिस्तान एवं मलेशिया से धार्मिक प्रचार करने के लिए पटना पहुचे थे. जिसके बाद सभी जमातियों को वीजा के नियमो का उलंघ्न करने के मामले में बेउर जेल भेज दिया गया है. अभी इन सभी जमातियों को बेऊर जेल के अलग- अलग वार्ड में रखा गया है. वैसे गिरफ्तार किए गए सभी जमाती के टेस्ट कोरोना संक्रमण से निगेटिव आया था. बावजूद इसके इनपर निगरानी रखी जा रही है.

Web Title: Bihar: Tabligi mobilization activities continue in many districts, video footage received by central intelligence agencies, alert made
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे