Bihar News: सुरेंद्र किशोर को पद्मश्री पुरस्कार, पटना के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने घर जाकर भेंट किया, देखें तस्वीरें

By एस पी सिन्हा | Published: June 14, 2024 04:53 PM2024-06-14T16:53:13+5:302024-06-14T16:54:02+5:30

Bihar News: बिहार के बहुचर्चित बॉबी हत्याकांड से लेकर पशुपालन घोटाले तक को उजागर करने में सुरेंद्र किशोर की रिपोर्ट को राष्ट्रीय ख्याति मिली।

Bihar News Surendra Kishore presented Padmashree award Patna District Magistrate Kapil Ashok his home see photos | Bihar News: सुरेंद्र किशोर को पद्मश्री पुरस्कार, पटना के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने घर जाकर भेंट किया, देखें तस्वीरें

photo-lokmat

Highlightsस्वास्थ्य कारणों से दिल्ली जाकर पुरस्कार नहीं ले पाए थे। सुरेंद्र किशोर पिछले पांच दशक से विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में लेखन करते रहे हैं।कर्पूरी ठाकुर ने सुरेंद्र किशोर का अपने पीए के रूप में चयन किया था।

Bihar News: राष्ट्रपति की ओर से पटना के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने शुक्रवार को वरिष्ठ पत्रकार सुरेंद्र किशोर को पद्मश्री पुरस्कार भेंट किया। सुरेंद्र किशोर को भाषा, शिक्षा तथा पत्रकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। शीर्षत कपिल अशोक ने लब्धप्रतिष्ठ पत्रकार सुरेंद्र किशोर को अपनी शुभकामनाएं देते हुए उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना की। इस वर्ष घोषित पद्म पुरस्कारों में सुरेंद्र किशोर का नाम शामिल था। हालांकि, स्वास्थ्य कारणों से दिल्ली जाकर पुरस्कार नहीं ले पाए थे। अब उनके सम्मान में पटना के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने उनके आवास पर जाकर उन्हें पद्मश्री पुरस्कार प्रदान किया। बता दें कि समाजवादी विचारधारा से जुड़े सुरेंद्र किशोर पिछले पांच दशक से विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में लेखन करते रहे हैं।

बिहार के बहुचर्चित बॉबी हत्याकांड से लेकर पशुपालन घोटाले तक को उजागर करने में सुरेंद्र किशोर की रिपोर्ट को राष्ट्रीय ख्याति मिली। कर्पूरी ठाकुर ने सुरेंद्र किशोर का अपने पीए के रूप में चयन किया था। उन्हें बुलावा भेजा, लेकिन सुरेंद्र किशोर कतराते रहे। बाद में खुद कर्पूरी जी उनके पास पहुंच गए थे और आग्रहपूर्वक उन्हें अपना पीए बनाने का प्रस्ताव दिया था।

अपनी लेखनी और सादगी पूर्ण जीवन के लिए सुरेंद्र किशोर एक प्रेरक  व्यक्तित्व के रूप में जाने जाते हैं। वहीं सुरेंद्र किशोर एक दौर में जॉर्ज फर्नांडीस से भी जुड़े रहे। चर्चित डायनामाइट कांड में जॉर्ज फर्नांडीस आरोपी हुए तो सुरेंद्र किशोर की भी तलाश शुरू हुई। वे आपातकाल के दौरान जेल भी गए।

हालांकि जेपी सेनानियों को बिहार सरकार की ओर से पेंशन देने की घोषणा हुई तो उन्होंने इसे लेकर से इंकार कर दिया। अपने उच्च आदर्श और नैतिकता के लिए पत्रकारिता जगत में सुरेन्द्र किशोर एक सम्मानित नाम रहे हैं। उनके भाषा, शिक्षा तथा पत्रकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित करने की घोषणा की गई। अब जिलाधिकारी ने खुद उनके आवास पर जाकर उन्हें देश का प्रसिद्ध नागरिक सम्मान भेंट दिया।

Web Title: Bihar News Surendra Kishore presented Padmashree award Patna District Magistrate Kapil Ashok his home see photos

भारत से जुड़ीहिंदी खबरोंऔर देश दुनिया खबरोंके लिए यहाँ क्लिक करे.यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Pageलाइक करे