adr report reveals 26% rise in MPs with criminal history 233 MPs or 43% have criminal charges | ADR की रिपोर्ट: दागी सांसदों की संख्या में इस बार 26 फीसदी का इजाफा, बीजेपी के 39 फीसदी आपराधिक इतिहास वाले
दागी सांसदों की संख्या में 26 फीसदी का इजाफा (फाइल फोटो)

Highlights17वीं लोकसभा को लेकर एडीआर की रिपोर्ट में आये चौंकाने वाले आंकड़ेदागी सांसदों की संख्या में इस बार 26 फीसदी का इजाफा, कुल 475 सांसद करोड़पतिबीजेपी के 116 सांसदों के खिलाफ आपराधिक मामले, कांग्रेस के 29 सांसद इस लिस्ट में

एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की एक रिपोर्ट के अनुसार इस बार 17वीं लोकसभा चुनाव के लिए संसद पहुंचने वाले सांसदों में से 233 (करीब 43 प्रतिशत) दागी छवि के हैं। यह संख्या 2014 में हुए लोकसभा चुनाव से चुने गये सांसदों के मामले में 26 प्रतिशत ज्यादा है। एडीआर ने 539 सांसदों का विश्लेषण किया है। यही नहीं, नयी लोकसभा में कुल 475 सांसद करोड़पति हैं। इनमें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ शीर्ष पर हैं। एडीआर ने शनिवार को लोकसभा चुनाव परिणाम संबंधी रिपोर्ट जारी की।

बीजेपी के सबसे ज्यादा अपराधिक रिकॉर्ड वाले सांसद

इस बार संसद पहुंचने वालों में सबसे ज्यादा आपराधिक मामले बीजेपी के सांसदों के खिलाफ हैं। बीजेपी के 302 सांसदों में 116 (39 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामला है। इसमें 87 (29 प्रतिशत) के खिलाफ गंभीर अपराध के मामले हैं। वहीं, कांग्रेस के 29 सांसदों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसमें 19 के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं। 

इसके बाद जेडीयू से 13, डीएमके से 10 और टीएमसे 9 ऐसे सांसद चुने गये हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज है। इससे पहले साल 2014 में 185 सांसदों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज था। इसमें 112 के खिलाफ गंभीर मामले थे। वहीं, 2009 में आपराधिक रिकॉर्ड वाले 162 सांसद संसद में पहुंचे थे। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि 17वीं लोकसभा में सांसदों से जुड़े 29 प्रतिशत केस हत्या, रेप, हत्या की कोशिश और महिलाओं के खिलाफ अपराध शामिल हैं। रिपोर्ट के मुताबिक गंभीर अपराधों के रिकॉर्ड वाले सांसदों की संख्या में 2009 के मुकाबले इस बार करीब 109 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

बिहार-बंगाल के सांसदों पर सबसे ज्यादा मामले 

आपराधिक मामलों में फंसे सबसे ज्यादा सांसद केरल और बिहार से आए हैं। रिपोर्ट के अनुसार केरल से चुने गये 90 फीसदी, बिहार से 82 फीसदी, पश्चिम बंगाल से 55 फीसदी, उत्तर प्रदेश से 56 और महाराष्ट्र से 58 प्रतिशत सांसदों पर केस लंबित हैं। सबसे कम 9 प्रतिशत सांसद छत्तीसगढ़ के और 15 प्रतिशत गुजरात के हैं।

11 सांसदों के खिलाफ हत्या के मामले

एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार इस बार 11 सांसद ऐसे हैं जिनके खिलाफ हत्या के मामले दर्ज हैं। इसमें 5 बीजेपी से, दो बीएसपी से हैं। साथ ही एक-एक सांसद कांग्रेस, एनसीपी, वाईएसआर और निर्दलीय हैं। रिपोर्ट बताती है कि जहां प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ मालेगांव ब्लास्ट मामले में आतंक का मामला है, वहीं 29 के खिलाफ हेट स्पीच (भड़काने वाले बयान) के मामले दर्ज हैं।


Web Title: adr report reveals 26% rise in MPs with criminal history 233 MPs or 43% have criminal charges