वंदना कटारिया के परिवार पर जातिसूचक टिप्पणी, महिला हॉकी कप्तान रानी रामपाल ने कहा-जो कुछ हुआ, वह बहुत खराब...

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: August 7, 2021 04:17 PM2021-08-07T16:17:22+5:302021-08-07T16:18:37+5:30

Tokyo Olympics: अर्जेंटीना के खिलाफ सेमीफाइनल में भारतीय महिला टीम के हारने के बाद उनके परिवार के लिये हरिद्वार में उनके घर के बाहर कथित रूप से जातिसूचक टिप्पणी की गयी थी।

Tokyo Olympics Vandana Kataria's family women's hockey captain Rani Rampal whatever happened is very bad | वंदना कटारिया के परिवार पर जातिसूचक टिप्पणी, महिला हॉकी कप्तान रानी रामपाल ने कहा-जो कुछ हुआ, वह बहुत खराब...

लेकिन ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने हमारे पदक नहीं जीतने के बावजूद हमें इतना प्यार दिया।

Next
Highlightsहम अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के लिये इतनी कड़ी मेहनत करते हैं।धर्म, जाति के आधार पर भेदभाव करना बंद कीजिए क्योंकि हम इन सभी चीजों से ऊपर काम करते हैं।भारतीय महिला टीम कांस्य पदक के प्ले-ऑफ में ग्रेट ब्रिटेन से 3-4 से हारकर चौथे स्थान पर रहीं।

Tokyo Olympics: भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने साथी खिलाड़ी वंदना कटारिया के परिवार के लिये की गयी कथित जातिसूचक टिप्पणी की शनिवार को निंदा की और इसे शर्मनाक करार दिया।

वंदना ने ओलंपिक के दौरान चार गोल किये थे लेकिन बुधवार को अर्जेंटीना के खिलाफ सेमीफाइनल में भारतीय महिला टीम के हारने के बाद उनके परिवार के लिये हरिद्वार में उनके घर के बाहर कथित रूप से जातिसूचक टिप्पणी की गयी थी। रानी ने वर्चुअल कांफ्रेंस में कहा, ‘‘जो कुछ हुआ, वह बहुत खराब है। हम अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के लिये इतनी कड़ी मेहनत करते हैं। इस तरह धर्म, जाति के आधार पर भेदभाव करना बंद कीजिए क्योंकि हम इन सभी चीजों से ऊपर काम करते हैं। ’’

भारतीय महिला टीम कांस्य पदक के प्ले-ऑफ में ग्रेट ब्रिटेन से 3-4 से हारकर चौथे स्थान पर रहीं। रानी ने कहा, ‘‘हम भारत के विभिन्न हिस्सों से आते हैं, विभिन्न धर्मों के हैं। लेकिन जब हम यहां आते हैं तो हम भारत के लिये काम करते हैं। लोगों का इस तरह का व्यवहार शर्मनाक है। ’’

उन्होंने कहा, ‘लेकिन ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने हमारे पदक नहीं जीतने के बावजूद हमें इतना प्यार दिया। उन्हें इन लोगों से सीख लेनी चाहिए। अगर हम भारत को हॉकी का देश बनाना चाहते हैं तो हमें सभी लोगों की जरूरत है।’ खबरों के अनुसार दो व्यक्तियों ने सेमीफाइनल मैच में हारने के बाद वंदना के रोशनाबाद में स्थित घर के बाहर पटाखे फोड़े और हंसी उड़ाते हुए डांस किया।

जब वंदना के परिवार के कुछ सदस्य आवाज सुनकर बाहर आये तो दो व्यक्ति उन पर जातिसूचक टिप्पणी करते हुए भाग गये। स्थानीय अधिकारियों के अनुसार उन्होंने कहा कि टीम इसलिये हारी क्योंकि इसमें काफी ज्यादा दलित खिलाड़ी हैं। रानी ने उम्मीद जतायी कि लोग इस घटना से सबक सीखेंगे और भविष्य में इस तरह की चीजें नहीं होंगी। उन्होंने कहा, ‘‘यह बुरी चीज है, ऐसा नहीं होना चाहिए था, शायद वे इससे सीख लेंगे और भविष्य में ऐसा नहीं करेंगे।’  

Web Title: Tokyo Olympics Vandana Kataria's family women's hockey captain Rani Rampal whatever happened is very bad

हॉकी से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे