मोटापा एक गंभीर समस्या है जिससे आपको डायबिटीज और हार्ट डिजीज सहित कई गंभीर बीमारियों का खतरा होता है। अगर तमाम कोशिश के बावजूद आपका वजन कम नहीं हो रहा है, तो आप योगासन के जरिये यह काम मुमकिन कर सकते हैं। इसी तरह पुरुषों में शीघ्रपतन एक बड़ी समस्या है, जिससे आप योगासन द्वारा छुटकारा पा सकते हैं। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) पर हम आपको कुछ योग पोज बता रहे हैं जिन्हें रोजाना करने से आप इन मुसीबतों से राहत पा सकते हैं।  

वजन कम करने, स्लिम फिगर के लिए जानुशीर्षासन

अगर जिम जाकर पसीना बहाने या तमाम तरह की डाइट लेने के बावजूद आपका वजन कम नहीं हो रहा है, तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। आप जानुशीर्षासन के जरिये भी अपने पेट को कम कर सकते हैं।  

जानुशीर्षासन करने की प्रकिया

- पैरों को सामने की ओर सीधे फैलाते हुए बैठ जाएं,रीढ़ की हड्डी सीधी रखें।
- बाएं घुटने को मोड़े और बाएं पैर के तलवे को दाहिनी जांघ के पास रखें, बायां घुटना जमीन पर रहे।
- सांस लेते हुए दोनों हाथों को सिर से ऊपर उठाएं, खींचे ओर कमर को दाहिनी तरफ घुमाएं।
- सांस छोड़ते हुए कूल्हों के जोड़ से आगे झुकें,रीढ़ की हड्डी सीधी रखते हुए, ठोड़ी को पंजों की तरफ बढ़ाएं।
- अगर संभव हो तो अपने पैरों के अंगूठों को पकड़ें,कोहनी को जमीन पर लगायें, उंगलियों को खींचते हुए आगे की ओर बढ़े।
- सांस लें और इसके बाद सांस छोड़ते हुए ऊपर उठें, हाथों को बगल से नीचे ले आएं।
- पूरी प्रक्रिया को दूसरे यानि दाएं पैर के साथ दोहराएं। 

डेली मेल की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुरुषों में सबसे ज्यादा पाए जानी वाली सेक्स समस्या इरेक्टाइल डिस्फंक्शन है। यह वो स्थिति है जिसमें पीड़ित व्यक्ति का लिंग यौन संबंध बनाने के लिए पर्याप्त उत्तेजित नहीं होता है। रिपोर्ट के अनुसार इस समस्या से पीड़ित पुरुष नीचे दिए पांच योगासनों से लाभान्वित हो सकते हैं-

अर्ध मत्स्येन्द्रासन

इस योगासन को करने से पाचन शक्ति को दुरुस्त बनाया जा सकता है। लीवर और पाचक ग्रंथि संबंधी परेशानियां सॉल्व हो जाती हैं।

योगासन करने का तरीका:

जमीन पर बैठकर दोनों पैरों को आगे फैलाएं। 
अब बाएं पैर को इस प्रकार मोड़ें कि एड़ी कूल्हेध के किनारे को स्पर्श कर रही हो
इसके बाद दाहिने पैर को बाएं पैर के पास इस तरह लाएं कि वो बाएं पैर की एड़ी के पास आए
अब बाईं बांह को दाएं घुटने के ऊपर रखें और दाएं पैर के पंजे को बाएं हाथ से पकड़ लें
अब दाईं बांह को पीछे की ओर ले जाकर सीधा खींच कर रखें
अब धीरे से सांस भरें और फिर सांस छोड़ते हुए अपने सिर को दाईं ओर घुमाएं और पीछे की ओर देखें
अब इसी क्रिया को दूसरी दिशा में भी दोहराएं

सिद्धासन

सिद्धासन एक प्रचलित योगासन है जिसे वर्षों से तप अभ्यास के रूप में भी प्रयोग में लाया जाता है। इस योगासन को करने से बॉडी में लचीलापन आता है।

योगासन करने का तरीका:

इस योगासन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर सीधे बैठ जाएं।
अब अपने दाएं पैर को गुदा से सटाकर रखें
बाएं पैर की एड़ी को अंडकोष के नीचे रखें
अब अपने हाथों को घुटनों के ऊपर रखें 
ध्यान रहे कि इस योगासान में आपका पूरा शरीर एकदम सीधा होना चाहिए

गरुड़ासन

इस योगासन को करने से शरीर में रक्त का स्राव बढ़ता है जो कि सेक्स के दौरान इरेक्शन में मदद करता है।

योगासन करने का तरीका:

इस योगासन को खड़े होकर किया जाता है और इसमें संतुलन की बेहद आवश्यकता होती है। अगर आपको परेशानी हो तो आप इसे करने के लिए किसी दिवार का सहारा भी ले सकते हैं
सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं। बाजुओं को उठाएं, कोहनियों को मोड़ें और दाईं बाजू को बाईं बाजू की कोहनी से लेते हुए घेरे में ले लें
अब दायीं टांग को बाईं टांग के घुटने से लेते हुए बाईं टांग पर लपेट दें
अब थोड़ा झुकें ताकि आपकी बाईं कोहनी दाहिनी टांग के घुटने को छू सके
थोड़ी देर इस पोजीशन में रहने के बाद वापिस अपनी पोजीशन में लौट जाएं
3 से 4 बार इसका अभ्यास किया जाना चाहिए

पवनमुक्तासन

जैसा कि नाम से ही जाहिर है  इस योगासन को शरीर में जमा हुई अनावश्यक गैस को बाहर करने के लिए किया जाता है। इस आसन को करने से पाचन शक्ती दुरुस्त होती है और यदि कब्ज है तो उससे भी छुटकारा मिलता है। 

योगासन करने का तरीका:

सबसे पहले जमीन पर सीधे लेट जाएं। 
अब सांस भरें और धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपनी टांगों को मोड़कर पेट की तरफ लाएं और अपनी बाजुओं में टांगों को घुटने वाली तरफ से लपेट लें। 
कोशिश करें कि आपकी टांगें आपके पेट के काफी करीब तक आएं।
इस योगासन को 4 से 5 बार दोहराएं।

शवासन

यह सबसे आसान लेकिन बेहद उपयोगी योगासन है। यह योगासन स्ट्रेस से आराम दिलाता है। 

योगासन करने का तरीका:

जमीन पर सीधा लेट जाएं। इस पोजीशन में आपके दोनों हाथ भी सीधा सामने आपकी कमर के दोनों साइड पर होने चाहिए। 
आपके पैरों की उंगलियों की दिशा ऊपर की ओर होनी चाहिए। 
अब आखें बंद करके धीरे-धीरे सिर से लेकर अपने पांव तक के सभी बॉडी पार्ट्स पर फोकस करें। 
इस योगासन को कम से कम 15 से 20 मिनट तक करना चाहिए। इसे दोहराने की आवश्यक्ता नहीं है। 


Web Title: International Yoga Day 2019: Yoga Poses to beat sexual problems like erectile dysfunction, impotence and to boost sex drive libido in Hindi
स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे