Harry Kane wins FIFA World Cup 2018 Golden Boot Award, See World Cup Golden Boot Winners List | FIFA World Cup: इंग्लैंड के हैरी केन ने जीता गोल्डन बूट, देखें 1930 से अब तक के विनर्स की पूरी लिस्ट

फीफा विश्व कप 2018 के फाइनल में फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। यह उसका दूसरा खिताब है, इससे पहले उसने साल 1998 में यह खिताब अपने नाम किया था। पूरे विश्व कप के दौरान गोल्डन बूट खिताब के लिए खिलाड़ियों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली, लेकिन यह खिताब इंग्लैंड को सेमीफाइनल तक पहुंचाने वाले कप्तान हैरी केन जीतने में सफल रहे।

हैरी केन ने किए इस साल 6 गोल

24 साल की उम्र में इंग्लैंड की कप्तानी करने वाले हैरी केन ने अपने प्रदर्शन के सभी को अपनी ओर आकर्षिक किया, उन्होंने इस साल फीफा वर्ल्ड कप में खेले 6 मैचों में कुल 6 गोल किए और फीफा वर्ल्ड कप 2018 के गोल्डन बूट का खिताब अपने नाम किया। हैरी इस साल वर्ल्ड कप में हैट्रिक लगाने वाले पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बाद दूसरे खिलाड़ी रहे। हैरी केन ने कोलंबिया के खिलाफ एक गोल किया। इससे पहले उन्होंने पनामा के खिलाफ 3 गोल किए थे, वहीं उन्होंने ट्यूनीशिया के खिलाफ दो गोल दागे थे।

विश्व कप में गोल्डन बूट के पिछले विजेता

खिलाड़ीदेशसालगोल
हैरी केनइंग्लैंड20186 गोल
जेम्स रोड्रिगेजकोलंबिया20146 गोल
थोमस म्युलर, डिएगो फोर्लन, वेस्ले सनेजर, डेविड विलाजर्मनी, उरुग्वे, नीदरलैंड्स, स्पेन20105 गोल
मिरोस्लाव क्लोसेजर्मनी20065 गोल
रोनाल्डोब्राजील20028 गोल
दावोर सुकरक्रोएशिया19986 गोल
ओलेग सालेन्को, हिस्टो स्टोइचकोवरूस, बुल्गारिया19946 गोल
साल्वाटोर चिलाचीइटली19906 गोल
गैरी लाइनकरइंग्लैंड19866 गोल
पाओलो रॉसीइटली19846 गोल
मारियो केम्प्सअर्जेंटीना19786 गोल
रोग्रेज लाटोपोलैंड19747 गोल
गेर्ड मुलरजर्मनी197010 गोल
यूसेबियोपुर्तगाल19669 गोल
फ्लोरियन अल्बर्ट, गैरिंचा, वैलेंटाइन इवानोव, ड्रैजन जेरिकोविच, लियोनेल संचेज, वावाहंगरी, ब्राजील, सोवियत संघ, यूगोस्लाविया, चिली, ब्राजील19624 गोल
जस्ट फॉनटेनफ्रांस195813 गोल
सैंडर कॉक्सिसहंगरी195411 गोल
एडमिरब्राजील19508 गोल
लियोनिदासब्राजील19387 गोल
ओल्डरिच नेजेडलीचेकोस्लोवाकिया19345 गोल
गुइलेर्मो स्टेबलअर्जेंटीना19308 गोल

किसे दिया जाता है गोल्डन बूट

गोल्डन बूट देने की शुरुआत साल 1930 में फीफा वर्ल्ड कप के शुरुआत के साथ ही हुई थी। टूर्नामेंट खत्म होने के बाद गोल्डन बूट का खिताब उस खिलाड़ी को दिया जाता है, जो पूरे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा गोल दागता है। फीफा वर्ल्ड कप के इतिहास में सिर्फ तीन बार ऐसा हुआ है कि सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ियों की संख्या एक से ज्यादा रहने पर संयुक्त रूप से यह पुरस्कार दिया गया था।


फुटबॉल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे