Football makes gleeful return to coronavirus-scarred Wuhan | कोरोना वायरस के गढ़ वुहान में लौटा फुटबॉल, 1 करोड़ की आबादी के बीच मैदान पर खिलाड़ियों की वापसी
कोरोना वायरस के गढ़ वुहान में लौटा फुटबॉल, 1 करोड़ की आबादी के बीच मैदान पर खिलाड़ियों की वापसी

कोरोना वायरस के गढ़ रहे चीनी शहर वुहान में अब जनजीवन सामान्य होता जा रहा है और लगभग तीन महीने तक घरों में कैद रहने वाले फुटबॉलर भी मैदान पर उतरने लग गये हैं।

वुहान की आबादी एक करोड़ दस लाख है और यहां लगभग तीन महीने तक लॉकडाउन रहा जो अप्रैल में जाकर समाप्त हुआ। इसके बाद अब एमेच्योर फुटबॉलरों ने भी अपनी खेल गतिविधियां शुरू कर दी हैं।

एमेच्योर फुटबॉलर वांग जीजुन ने कहा, ‘‘हमें लंबे समय तक लॉकडाउन में रहना पड़ा जहां हम कुछ कसरत ही कर सकते थे। मैं घर के अंदर ही अपने बेटे के साथ फुटबॉल खेलता था। हम एक दूसरे को गेंद देते थे। कई बार गैराज में जाकर व्यायाम कर लेते थे।’’

दूधिया रोशनी में फुटबॉल का अभ्यास करने वाले एक अन्य खिलाड़ी ने कहा कि दोस्तों और टीम के साथियों के साथ फिर फुटबॉल खेलना सुखद अहसास है। उन्होंने मास्क लगाये बिना ऐसा किया हालांकि कुछ खिलाड़ी ऐसे थे जिनकी गर्दन पर मास्क लटक रहा था।

वेन नाम के एक खिलाड़ी ने कहा, ‘‘लॉकडाउन से पहले सभी बेहद परेशान थे। लॉकडाउन हटने के बाद हमने सप्ताह में एक बार अभ्यास शुरू कर दिया है। मैं बहुत खुश हूं।’’

पेशेवर फुटबॉलर भी इससे प्रभावित रहे। चीनी महिला टीम की स्टार खिलाड़ी और वुहान की निवासी वांग शुआंग ने भी फिर से अभ्यास शुरू कर दिया है। वह टोक्यो ओलंपिक के लिये टीम में जगह बनाने की प्रबल दावेदार है।

चीनी सुपर लीग की टीम वुहान जॉल और तीसरे स्तर की टीम वुहान थ्री टाउन्स दोनों शहर लौट आयी हैं। महामारी फैलने के कारण उन्हें दूसरे स्थानों पर जाकर अभ्यास करना पड़ा था। चीनी सुपर लीग का सत्र 22 फरवरी से शुरू होना था लेकिन इसे अनिश्चितकाल के लिये स्थगित कर दिया गया था।

Web Title: Football makes gleeful return to coronavirus-scarred Wuhan
फुटबॉल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे