Women's T20 Challenge 2022: गत चैंपियन ट्रेलब्लेजर्स बाहर, वेलॉसिटी और सुपरनोवाज में 28 मई को फाइनल, किरण ने रचा इतिहास

Women's T20 Challenge 2022: वेलोसिटी गुरुवार को महिला टी20 चैलेंज मुकाबले में गत चैम्पियन ट्रेलब्लेजर्स से 16 रन से हारने के बावजूद फाइनल में पहुंची, जिसमें उसका सामना 28 मई को सुपरनोवाज से होगा।

By सतीश कुमार सिंह | Published: May 26, 2022 10:53 PM2022-05-26T22:53:42+5:302022-05-26T23:24:59+5:30

Women's T20 Challenge 2022 Velocity through playoffs Defending champion Trailblazers out, Velocity and Supernovas finals May 28 Kiran Navgire fastest fifty 25 balls history  | Women's T20 Challenge 2022: गत चैंपियन ट्रेलब्लेजर्स बाहर, वेलॉसिटी और सुपरनोवाज में 28 मई को फाइनल, किरण ने रचा इतिहास

टीम को फाइनल में पहुंचा दिया।

Next
Highlightsकिरण नवगीरे ने इतिहास रच दिया।मात्र 25 गेंद पर छक्के के साथ फिफ्टी पूरा किया। किरण नवगीरे ने महिला टी20 चैलेंज मुकाबले में धमाकेदार प्रदर्शन किया।

Women's T20 Challenge 2022: गत चैम्पियन ट्रेलब्लेजर्स टीम फाइनल रेस से बाहर हो गई है। गुरुवार को महिला टी20 चैलेंज मुकाबले में वेलॉसिटी ने 159 रन बनाकर फाइनल के लिए क्वालीफाइ कर लिया। फाइनल मुकाबला 28 मई को वेलॉसिटी और सुपरनोवाज के बीच पुणे में खेला जाएगा। 

ट्रेलब्लेजर्स टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 191 रन बनाए। वेलॉसिटी की टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 174 रन बनाए। टीम को 16 रन से हार का सामना करना पड़ा। इसके बावजूद भी टीम फाइनल में पहुंच गई। वेलॉसिटी को 158 रन पर रोकना था। 

महाराष्ट्र की आल राउंडर किरण नवगिरे (69 रन) के अर्धशतक की बदौलत वेलोसिटी ने गुरुवार को यहां महिला टी20 चैलेंज मुकाबले में गत चैम्पियन ट्रेलब्लेजर्स से 16 रन हारने के बावजूद बेहतर रन रेट से 28 मई को होने वाले फाइनल के लिये क्वालीफाई किया, जिसमें उसका सामना सुपरनोवाज से होगा।

ट्रेलब्लेजर्स के लिये सलामी बल्लेबाज एस मेघना (73 रन) और जेमिमा रॉड्रिग्स (66 रन) के अर्धशतक भी टीम को फाइनल तक पहुंचाने के लिये काम नहीं आ सके। टीम ने दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिये 113 रन की साझेदारी से वेलोसिटी को जीत के लिये 191 रन का विशाल लक्ष्य दिया।

किरण नवगिरे ने इतिहास रच दिया। मात्र 25 गेंद पर छक्के के साथ फिफ्टी पूरा किया। किरण ने महिला टी20 चैलेंज मुकाबले में धमाकेदार प्रदर्शन किया। 34 गेंद में 69 रन की पारी खेली, जिसमें 5 चौके और 5 छक्के शामिल हैं। टीम को फाइनल में पहुंचा दिया।

वेलोसिटी किरण (34 गेंद, पांच चौके, पांच छक्के) के अर्धशतक के बावजूद नौ विकेट पर 174 रन ही बना सकी। पर टीम इस स्कोर से फाइनल में पहुंच गयी क्योंकि उसे फाइनल के लिये क्वालीफाई करने के लिये कम से कम 159 रन बनाने की जरूरत थी। ट्रेलब्लेजर्स को फाइनल में जगह सुनिश्चित करने के लिये कम से कम 32 या उससे ज्यादा रन से जीत की दरकार थी लेकिन ऐसा नहीं हो सका।

वेलोसिटी के लिये किरण के अलावा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने 29 रन और लौरा वोलवार्ट ने 17 रन का योगदान दिया। ट्रेलब्लेजर्स के लिये राजेश्वरी गायकवाड़ और पूनम यादव ने दो दो विकेट अपने नाम किये जबकि रेणुका सिंह, हेली मैथ्यूज, सलमा खातून और सोफिया डंकले को एक एक विकेट मिला।

वेलोसिटी ने भी तेज शुरुआत करते हुए तीन ओवर में 32 रन जड़ दिये थे। पर अगले दो ओवर में दो विकेट गंवा दिये। चौथे ओवर में यास्तिका भाटिया (19 रन, तीन चौके) और पांचवें ओवर में शेफाली वर्मा (15 गेंद, पांच चौके) के विकेट खो दिये। पांच ओवर में वेलोसिटी का स्कोर दो विकेट पर 50 रन था।

किरण नवगिरे ने छठे ओवर में सलमा खातून पर दो छक्के और एक चौके से टीम के खाते में 18 रन जोड़े। वेलोसिटी ने 10 ओवर में दो विकेट पर 105 रन बना लिये थे जिससे 60 गेंद में उसे 86 रन बनाने की जरूरत थी। पूनम रावत ने फिर लौरा वोलवार्ट (17) को विकेटकीपर के हाथों कैच आउट कराकर टीम को तीसरा विकेट दिलाया।

कप्तान दीप्ति शर्मा केवल तीन गेंद ही खेल सकीं और राजेश्वरी गायकवाड़ का दूसरा शिकार बनीं। फिर किरण नवगिरे ने 14वें ओवर में लगातार छक्के जड़े, उन्होंने पहला छक्का जड़कर से 25 गेंद में चार चौके, चार छक्के से अपना अर्धशतक भी पूरा किया। ऐसा लग रहा था कि मैच ट्रेलब्लेजर्स के हाथों से निकल रहा था लेकिन उसकी गेंदबाजों ने जल्दी जल्दी कुछ विकेट झटककर वेलोसिटी को जीत तक नहीं पहुंचने दिया। पर इस जीत का भी ट्रेलब्लेजर्स को कोई फायदा नहीं हुआ।

Open in app