टी20 विश्व कप सेमीफाइनल से पहले भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी पत्नियों व प्रेमिकाओं संग 'ब्रिटिश राज' रेस्टोरेंट में खाया खाना

टीम गतिविधियों की जानकारी रखने वाले भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘टीम और खिलाड़ियों को आराम करने और विश्व कप जैसे कड़े टूर्नामेंट में होने वाले दबाव से ध्यान हटाने का अधिक मौका नहीं मिला है क्योंकि मुकाबलों के बीच बामुश्किल समय मिला है। ’’

By भाषा | Published: November 9, 2022 10:55 AM2022-11-09T10:55:45+5:302022-11-09T11:06:52+5:30

T20 World Cup Indian players enjoy dinner in British Raj before semi-final England | टी20 विश्व कप सेमीफाइनल से पहले भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी पत्नियों व प्रेमिकाओं संग 'ब्रिटिश राज' रेस्टोरेंट में खाया खाना

टी20 विश्व कप सेमीफाइनल से पहले भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी पत्नियों व प्रेमिकाओं संग 'ब्रिटिश राज' रेस्टोरेंट में खाया खाना

Next
Highlightsसेमीफाइनल मुकाबले से पूर्व खिलाड़ियों ने जाने माने भारतीय रेस्टोरेंट में भोजन किया। यहां मौजूद उनकी जोड़ीदारों (पत्नियों और प्रेमिकाओं) ने भी टीम रात्रि भोज का आनंद लिया।भारतीय टीम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा मुहैया कराए जा रहे भोजन को लेकर समस्या थी।

एडीलेडः इंग्लैंड के खिलाफ टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल मुकाबले से पूर्व भारतीय टीम ने यहां ‘ब्रिटिश राज’ रेस्टोरेंट में रात्रि भोज का आनंद लिया। ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद से ही भारतीय टीम को लगातार यात्रा करनी पड़ी है और अब जब टी20 विश्व कप अपने अंतिम चरण में है तब बड़े सेमीफाइनल मुकाबले से पूर्व खिलाड़ियों ने जाने माने भारतीय रेस्टोरेंट में भोजन किया। गुरुवार को रोहित शर्मा की अगुआई वाली टीम मौजूदा टूर्नामेंट में इंग्लैंड का सफर खत्म करने के इरादे से उतरेगी।

टोरेन्सविले की हेन्ली बीच रोड पर स्थित यह रेस्टोरेंट अपने चिकन टिक्का, कश्मीरी पुलाव और रोगन जोश के लिए प्रसिद्ध है। टूर्नामेंट की शुरुआत में भारतीय टीम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा मुहैया कराए जा रहे भोजन को लेकर समस्या थी क्योंकि यह खिलाड़ियों की पसंद के अनुसार नहीं था। टीम गतिविधियों की जानकारी रखने वाले भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘टीम और खिलाड़ियों को आराम करने और विश्व कप जैसे कड़े टूर्नामेंट में होने वाले दबाव से ध्यान हटाने का अधिक मौका नहीं मिला है क्योंकि मुकाबलों के बीच बामुश्किल समय मिला है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया के अंदर भी काफी उड़ान लेनी पड़ी इसलिए एडीलेड में तीन दिन सुखद रहे। इसलिए खिलाड़ियों और यहां मौजूद उनकी जोड़ीदारों (पत्नियों और प्रेमिकाओं) ने टीम रात्रि भोज का आनंद लिया। यह टीम को एकजुट करने की व्यवस्था भी है। ’’

भारतीय क्रिकेट टीम व्यावसायिक रूप से सबसे व्यावहारिक टीम है इसलिए उसे ऑस्ट्रेलिया के सभी बड़े शहरों में मुकाबले खेलने के लिए यात्रा करनी पड़ी। टीम मुंबई से पर्थ पहुंची। टीम सात दिन पर्थ में रुकी जहां उसने कड़ी ट्रेनिंग और अभ्यास मैच में हिस्सा लिया। टीम ने इसके बाद आधिकारिक अभ्यास मैच खेले (ब्रिसबेन में एक मैच बारिश की भेंट चढ़ा)। ये दोनों अलग ‘टाइम जोन’ थे जिसके बाद टीम मेलबर्न पहुंची। टीम इसके बाद चार दिन मेलबर्न, फिर चार दिन सिडनी और तीन दिन पर्थ (अलग-अलग टाइम जोन) में रुकी। टीम ने इसके बाद तीन दिन एडीलेड और तीन दिन मेलबर्न में बिताए। मैच खेलने के अगले दिन टीम को सफर करना होता था और फिर एक आराम का दिन और एक वैकल्पिक ट्रेनिंग सत्र का दिन होता था। 

Open in app