rishi kapoor talks about artiste respect in india | ऋषि कपूर ने लगाई सरकार को फटकार-जहां-तहां दिखते नेताओं के नाम, कलाकारों को क्यों सम्मान नहीं?
ऋषि कपूर ने लगाई सरकार को फटकार-जहां-तहां दिखते नेताओं के नाम, कलाकारों को क्यों सम्मान नहीं?

Highlightsदिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर का मानना है कि विदेशों में कलाकारों को पूरा सम्मान मिलता हैऋषि ने कहा, ''हमारी सरकार कलाकारों को कैसे रखती है, जब मैं इस बारे में सोचता हूं तो बेहद दुखी हो जाता हूं

दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर का मानना है कि विदेशों में कलाकारों को पूरा सम्मान मिलता है, लेकिन हमारे देश की सरकार कलाकारों को उतना उचित सम्मान भी नहीं देती है, जिसके वे हकदार होते हैं. उन्होंने यह सवाल भी उठाया कि नई सड़कों से लेकर फ्लाईओवर और हवाई अड्डों तक सब कुछ नेताओं के नाम पर होता है, लेकिन कलाकारों के नाम पर ऐसा क्यों नहीं किया जाता. एक इंटरव्यू में ऋषि ने कहा, ''हमारी सरकार कलाकारों को कैसे रखती है, जब मैं इस बारे में सोचता हूं तो बेहद दुखी हो जाता हूं.

हमारा देश दुनियाभर में सिनेमा, म्यूजिक और कल्चर के लिए जाना जाता है लेकिन देखिए कि हमारे आइकन्स के साथ कैसा व्यवहार होता है. क्या सरकार दूसरे देशों की तरह हमारे कलाकारों को पहचान देती है? सारी नई सड़कें, फ्लाईओवर, ब्रिज, एयरपोर्ट्स राजनेताओं के नाम पर रखे जाते हैं. इनके नाम कलाकारों के नाम पर क्यों नहीं रखे जाते हैं?'' उन्होंने आगे कहा, ''हमारे पास पंडित रविशंकर, उस्ताद अल्लाह रक्खा, लता मंगेशकर जी जैसे दिग्गज हैं. मैं आप से यह इसलिए नहीं कह रहा हूं कि ये मेरे परिवार से हैं, लेकिन क्या आप फिल्म इंडस्ट्री में राज कपूर और पृथ्वीराज कपूर जी के योगदान को नजरअंदाज कर सकते हैं? वह दुनियाभर में पहचाने जाते हैं, लेकिन मेरे देश में नहीं. ऐसा क्यों?''

ऋषि का कहना है कि अमेरिका में एल्विस प्रेस्ली, माइकल जैक्सन और कई अन्य कलाकारों के नाम पर जगहें हैं और युवा पीढ़ी उनके योगदान से अच्छी तरह से वाकिफ है. लेकिन हमारे यहां सब कुछ नेताओं के नाम पर है. अभिनेता ने कहा, ''हमारे पास अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला जैसी उपलब्धि है. वह कई युवाओं के लिए प्रेरणा हैं. उनके बारे में हमारे बच्चे कितना अच्छे से जानते हैं? नेता केवल एक एजेंडे के तहत नाम बदल रहे हैं. बता दें कि ऋषि कपूर लगभग पांच दशक से बॉलीवुड में सक्रिय हैं. इस दौरान उन्होंने एक से बढ़कर एक यादगार फिल्में दी हैं. कुछ महीनों पहले उन्होंने कैंसर के इलाज के चलते लगभग एक साल का ब्रेक लिया था. इस दौरान भी उनकी एक फिल्म 'झूठा कहीं का' रिलीज हुई थी.

ऋषि जल्द ही फिल्म 'द बॉडी' में नजर आएंगे. ऋषि को सिनेमा में उनके योगदान के लिए कई पुरस्कार मिल चुके हैं. साल 1970 में आई फिल्म 'मेरा नाम जोकर' के छोटा राजू के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ बाल अभिनेता श्रेणी का राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला था. दारा सिंह को किया याद ऋषि कपूर ने दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता और पहलवान दारा सिंह की जयंती पर उन्हें याद किया.

ऋषि ने ट्वीट करते हुए लिखा, ''हैप्पी बर्थडे दाराजी सिंह साहेब. मुंबई में उन्हें लाइव कुश्ती करने के सौभाग्य के साथ ही कुछ फिल्मों में काम करने का मौका भी मिला. इस धरती पर बहुत ही विनम्र और प्यारे इंसान. उन्हीं को लेकर कहा जाता था कि अपने आपको दारा सिंह समझता है? कमाल की हस्ती थे.''

Web Title: rishi kapoor talks about artiste respect in india
बॉलीवुड चुस्की से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे