AB de Villiers column: Team needs first goal | एबी डिविलियर्स का कॉलम: टीम की जरूरत पहला लक्ष्य
एबी डिविलियर्स का कॉलम: टीम की जरूरत पहला लक्ष्य

गुरुवार की रात काफी इवेंटफुल रही. साफ कर देना चाहता हूं मैं एक टीम मैन हूं. अगर कोच और कप्तान किसी रणनीति पर सहमत होते हैं तो मैं उन पर किसी तरह का संदेह नहीं करता. टीम के खेल में ऐसा ही होता है और इसी तरह से एक सफल टीम काम करती है. पहले बल्लेबाजी के निर्णय के बाद मैं स्वाभाविक रूप से चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की उम्मीद कर रहा था. यहां तक कि जब छठे ओवर में 62 रन के स्कोर पर दूसरा विकेट गिरा तो मैंने उस गेट को पार करना शुरू कर दिया जिसका रास्ता मैदान की ओर जाता है.

मगर ठीक उसी वक्त मुझे इंतजार करने को कहा गया. बताया गया कि उस वक्त गेंदबाजी कर रहे पंजाब के दो लेग स्पिनर्स के सामने दाएं-बाएं का संयोजन बनाए रखना है. ये बिल्कुल सही फैसला था. मैंने इस फैसले पर कोई सवाल नहीं उठाया जब ये लिया गया और न ही मैं अब इस पर कोई सवाल खड़ा कर रहा हूं. मेरी तरफ से इसे लेकर किसी तरह की कोई समस्या नहीं है.

क्रिस मौरिस की आक्रामक बल्लेबाजी से टीम 171 रन तक पहुंच गई. संभव है कि शारजाह की धीमी पिच पर अपेक्षा से कम ही रन बन पाए थे. राहुल, अग्रवाल और गेल ने लक्ष्य का पीछा करने में अहम योगदान दिया. आखिरी वक्त में कुछ डरावने अनुभव के बावजूद पंजाब की टीम आईपीएल में अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने वाली जीत हासिल करने में सफल रही. मेरे हिसाब से पंजाब की टीम की अंक तालिका में जो स्थिति है, वो असल में उससे कहीं अधिक बेहतर टीम है.

हमें इस निराशाजनक हार से बाहर निकलकर मेहनत जारी रखनी है और शनिवार को राजस्थान के खिलाफ दुबई में होने वाले अगले मुकाबले में लय हासिल करनी है. अपनी बात करूं तो मैं टीम की जरूरत के हिसाब से कभी भी कहीं भी बल्लेबाजी के लिए तैयार हूं ताकि इस लीग को जीतने के अभियान में टीम की मदद कर सकूं.

Web Title: AB de Villiers column: Team needs first goal
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे