Subrata Roy's Sahara enters automobile sector to offer wide range of electric vehicle | जल्द ही सड़कों पर दौड़ती दिखेंगी सहारा की इलेक्ट्रिक गाड़ियां, सुब्रत राय ने बताया ये बड़ा प्लान
इलेक्ट्रिक वाहन पर्यावरण के अनुकूल होने के साथ आने वाली पीढ़ियों के लिए भी फायदेमंद हैं।

Highlightsसहारा इंडिया जल्द ही इवाल्स के साथ मिलकर इलेक्ट्रिक वाहनों की कैटेगरी पेश करने की तैयारी में है।इवाल्स इलेक्ट्रिक वाहन तकनीक, डिज़ाइन और पिक-अप के मामले में कहीं आगे हैं औ उनके रखरखाव का खर्च भी पांच गुना तक कम है।कंपनी ने बताया कि सहारा इवोल्स की इलेक्ट्रिक गाड़ियों को चलाने का खर्च 20 पैसे प्रति किलोमीटर होगा।

वित्तीय सेवाएं और कई अन्य क्षेत्रों में काम करने वाली कंपनी 'सहारा इंडिया' ने मंगलवार को इलेक्ट्रिक वाहन के क्षेत्र में कदम रखने की घोषणा की। समूह ने ‘सहारा इवाल्स’ ब्रांड के तहत इलेक्ट्रिक वाहनों की आधुनिक श्रृंखला पेश की है। इनमें इलेक्ट्रिक स्कूटर, मोटरसाइकिलें, तिपहिया वाहन और मालवाहक वाहन शामिल हैं।

इसके अलावा कंपनी बैटरी चार्जिंग और स्वैपिंग स्टेशन का नेटवर्क भी मुहैया करायेगी। सहारा इण्डिया प्रमुख सुब्रत रॉय ने इस मौके पर कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन पर्यावरण के अनुकूल होने के साथ-साथ हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए भी फायदेमंद हैं। 

पेट्रोल, डीजल के पुराने वाहनों से निकलने वाला धुआं आज वायु प्रदूषण के प्रमुख कारणों में से एक है। उन्होंने आगे कहा कि वैश्विक स्तर पर अधिक स्वच्छ और अधिक स्वस्थ संसार की ओर वापस जाने के उपाय खोजे जा रहे हैं। इस दिशा में ‘सहारा इवॉल्स’ हमारा योगदान है।’

सुब्रत राय ने बताया कि ‘सहारा इवाल्स’ वाहन जर्मन इंजीनियरिंग द्वारा डिज़ाइन और विकसित किये गये हैं। सामान्य वाहनों की तुलना में इवाल्स इलेक्ट्रिक वाहन तकनीक, डिज़ाइन और पिक-अप के मामले में कहीं आगे हैं औ उनके रखरखाव का खर्च भी पांच गुना तक कम है। इसकी बैटरी भी तेज़ी से चार्ज होती हैं।

एक बार पूरी तरह चार्ज होने पर ये वाहन अपनी श्रेणी के आधार पर 55 से 150 किलोमीटर तक की दूरी तय करते हैं। पहले चरण में लखनऊ में शुरुआत करते हुए ‘सहारा इवाल्स’ ने देश के द्वितीय और तृतीय श्रेणी के शहरों में अपना ईको सिस्टम इस वित्तीय वर्ष के अंत तक स्थापित करने का लक्ष्य रखा है। अगले वित्तीय वर्ष में पूरे देश में ‘सहारा इवाल्स’ के विस्तार का लक्ष्य रखा गया है। 

कंपनी ने कहा कि अगले वित्त वर्ष में पूरे भारत में प्रॉडक्ट और सर्विस लॉन्च की जाएगी। कंपनी ने बताया कि सहारा इवोल्स की इलेक्ट्रिक गाड़ियों को चलाने का खर्च 20 पैसे प्रति किलोमीटर होगा, जो पेट्रोल से चलने वाली गाड़ियों के दो रुपये प्रति किलोमीटर खर्च से काफी कम है। यानी सहारा इवोल्स की इलेक्ट्रिक गाड़ियों को 100 किलोमीटर तक चलाने का खर्च मात्र 20 रुपये पड़ेगा।


Web Title: Subrata Roy's Sahara enters automobile sector to offer wide range of electric vehicle
हॉट व्हील्स से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे