17 साल की शेफाली वर्मा ने इंग्लैंड में रचा इतिहास, सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर क्लब में...

By सतीश कुमार सिंह | Published: June 19, 2021 02:38 PM2021-06-19T14:38:51+5:302021-06-19T14:38:51+5:30

Next

युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा अपने पदार्पण टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 50 से अधिक रन बनाने वाली भारत की पहली और दुनिया की चौथी महिला बल्लेबाज बन गयी हैं।

शेफाली ने यह उपलब्धि इंग्लैंड के विरुद्ध एकमात्र टेस्ट मैच के तीसरे दिन हासिल की। उन्होंने पहली पारी में 96 रन बनाये थे जबकि भारतीय टीम के फालोऑन के लिये उतरने के बाद वह तीसरे दिन चाय के विश्राम तक 55 रन पर खेल रही हैं।

शेफाली से पहले यह उपलब्धि इंग्लैंड की लेस्ली कुक (72 एवं 117, बनाम भारत, 1986), श्रीलंका की वनीसा बोवेन (78 एवं 63, बनाम पाकिस्तान, 1998) और आस्ट्रेलिया की जेफ जॉनसेन (99 एवं 54, बनाम इंग्लैंड, 2021) ने हासिल की थी।

17 वर्षीय बल्लेबाज पहली पारी में केवल चार रन से पदार्पण मैच में शतक जड़ने वाली पहली भारतीय बनने से चूक गयी थी।

सचिन तेंदुलकर के बाद टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाले दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज बन गईं। 17 साल और 112 दिन की उम्र में तेंदुलकर ने टेस्ट की दोनों पारियों में 50+ रन बनाए थे। शेफाली ने 17 साल 141 दिन की उम्र में यह कारनामा किया था।

सुनील गावस्कर अब तक के अपने पहले टेस्ट में दोनों पारियों में 50+ रन बनाने वाले एकमात्र भारतीय सलामी बल्लेबाज थे। तभी से शेफाली ने अपना नाम इस लाइन में शामिल कर लिया है। ( Only Two Indian Openers Scored 50s in both Innings of a Debut Test

सबसे कम उम्र में टेस्ट शतक बनाने का अवसर भी था।

पारी में तिहरे अंक में पहुंचकर ये दोनों उपलब्धियां हासिल कर सकती हैं।