karnataka political crisis live updates supreme court to hear on today for 10 rebel legislators of congress jds | कर्नाटक सियासी संकट: राजनीतिक अस्थिरता के बावजूद शुक्रवार से होगा विधानसभा सत्र, मुंबई लौटे बागी विधायक
कर्नाटक सियासी संकट: राजनीतिक अस्थिरता के बावजूद शुक्रवार से होगा विधानसभा सत्र, मुंबई लौटे बागी विधायक

Highlightsकर्नाटक में बागियों की संख्या में इजाफाः कांग्रेस कोटे से मंत्री रहे दो अन्य विधायकों ने स्पीकर को सौंपा इस्तीफा!बागी विधायकों ने कहा है कि उनके त्यागपत्र स्वेच्छा से दिये गये हैं और सही हैं।

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों के इस्तीफे वाले मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने विधायकों शाम 6 बजे तक स्पीकर के सामने पेश होने को कहा है। इसके साथ ही कोर्ट ने डीजीपी को उन्हें सुरक्षा प्रदान करने का आदेश भी दिया है। वहीं कर्नाटक में संकट में घिरी कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन सरकार को ताजा झटका देते हुए कांग्रेस के दो विधायकों आवास मंत्री एम टी बी नागराज और के. सुधाकर ने बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष को अपने इस्तीफे सौंप दिये जिससे असंतुष्ट विधायकों की संख्या बढ़कर 16 हो गयी है।

11:53 PM

कर्नाटक के 14 बागी विधायक वापस मुंबई लौटे

कर्नाटक के 14 बागी विधायक बेंगलुरू में विधानसभा अध्यक्ष को अपने त्यागत्र सौंपकर बृहस्पतिवार शाम मुंबई के होटल में लौट आए। भाजपा के एक नेता ने यह जानकारी दी। भाजपा नेता ने कहा कि विधायक उपनगरीय पोवई स्थित होटल रेनेशॉ लौट आए हैं और वे वहां दो दिन और रुकेंगे।

07:32 PM

बागी विधायकों ने ऐसा व्यवहार किया जैसे कोई भूकंप आया हो: केआर रमेश

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार ने कहा, बागी विधायकों ने मुझे बताया कि कुछ लोगों ने उन्हें धमकी दी थी और वे डर से मुंबई भाग गए थे। लेकिन मैंने उनसे कहा कि उन्हें मुझसे संपर्क करना चाहिए था और मैं उन्हें सुरक्षा दिलाता। केवल 3 वर्किंग डे बीत चुके हैं लेकिन उन्होंने ऐसा व्यवहार किया जैसे कोई भूकंप आया हो। 

07:30 PM

मैंने सारी चीजों की विडियोग्राफी की है और मैं उसे सुप्रीम कोर्ट को भेजूंगा: केआर रमेश

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार ने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने मुझसे आज ही फैसला लेने के लिए कहा है। मैंने सारी चीजों की विडियोग्राफी की है और मैं उसे सुप्रीम कोर्ट को भेजूंगा। 

07:28 PM

मुझे पूरी रात इन इस्तीफों की जांच करने के लिए वक्त चाहिए: स्पीकर केआर रमेश

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर केआर रमेश ने कहा, मुझे पूरी रात इन इस्तीफों की जांच करने के लिए वक्त चाहिए और यह पता लगाऊंगा कि क्या ये वास्तविक है या नहीं। 

07:26 PM

मैं देरी कर रहा हूं क्योंकि मैं इस मिट्टी से प्यार करता हूं: कर्नाटक विधानसभा स्पीकर

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर केआर रमेश ने कहा, विधायकों ने मुझसे कोई बात नहीं की वे सीधा गवर्नर के पास बस दौड़ गए। वे क्या करते? क्या यह दुरुपयोग नहीं है? उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से संपर्क किया। मेरा दायित्व देश के संविधान और इस राज्य के लोगों के प्रति है। मैं देरी कर रहा हूं क्योंकि मैं इस मिट्टी से प्यार करता हूं। मुझे जल्दबाजी में काम नहीं करना। 

07:19 PM

केआर रमेश कुमार ने कहा- विधानसभा के रूल 202 के आधार पर इस्तीफों की जांच की गई

केआर रमेश कुमार ने कहा, सोमवार को कर्नाटक विधानसभा के रूल 202 के आधार पर इस्तीफों की जांच की गई। 8 पत्र निर्धारित रूप में नहीं पाए गए। बाकी के मामलों में मैं यह देखने के लिए बाध्य था कि क्या ये इस्तीफे स्वैच्छिक और वास्तविक हैं। हम इस्तीफे की स्वैच्छिक और वास्तविक प्रकृति के बारे में बात नहीं करेंगे। 
 

07:15 PM

केआर रमेश कुमार ने कहा, यह गलत है कि वे आ रहे थे इसलिए मैं वहां से भाग गया। 

केआर रमेश कुमार ने कहा है कि 6 जुलाई को मैं अपने ऑफिस में दोपहर 1.30 तक था। विधायक वहां 2 बजे आए, यहां तक कि उन्होंने पहले से कोई सूचना भी नहीं दिया था। तो यह गलत है कि वे आ रहे थे इसलिए मैं वहां से भाग गया। 
 

07:08 PM

धीमी सुनवाई की वजह से दूखी हूं: विधानसभा स्पीकर

विधानसभा स्पीकर केआर रमेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि धीमी सुनवाई की वजह से दूखी हूं।

07:08 PM

मैं ये सुनकर बहुत दुखी हूं लोग कह रहे हैं कि मैं काम को धीरे करना चाह रहा हूं: केआर रमेश

कर्नाटक के विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार का प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा है, मैं ये सुनकर बहुत दुखी हूं लोग कह रहे हैं कि मैं काम को धीरे करना चाह रहा हूं। राज्यपाल ने मुझे 6 जुलाई को सूचित किया था। मैं तब तक ऑफिस में था और उसके बाद कुछ निजी काम के लिए मैं चला गया। इससे पहले किसी भी विधायक ने यह जानकारी नहीं दी कि वे मुझसे मिलने आ रहे हैं।

07:04 PM

विधानसभा स्पीकर के आर रमेश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस शरू कर दी है। 

विधानसभा स्पीकर के आर रमेश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस शरू कर दी है। 

06:58 PM

र्नाटक के विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं

कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों के साथ मुलाकात के बाद कर्नाटक के विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन करेंगे। प्रेस कॉन्फ्रेंस कुछ देर में शुरू होने वाला है। 

06:38 PM

गुरुवार को कर्नाटक कांग्रेस के बागी विधायक मुंबई से बेंगलुरु पहुंचे। इसके बाद विधानसभा स्पीकर से मिलने पहुंचे। बागी विधायक कड़ी सुरक्षा के बीच भागते हुए स्पीकर के पास पहुंचे। कर्नाटक के बागी विधायक बी बसावराज, रमेश जारकिहोली, शिवराम हेब्बर, बीसी पाटिल, सोमशेकर, नारायण गौड़ा, गोपाल, विश्वनाथ, महेश कुमताहल्ली और प्रताप पाटिल समेत 11 बागी विधायक स्पीकर के चैंबर में प्रवेश कर गए हैं। फिलहाल ये विधायक विधानसभा स्पीकर से मुलाकात कर रहे हैं, वहीं, विधानसभा में सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम किए गए हैं।

06:37 PM



 

06:21 PM

बेंगलुरू में विधानसभा में स्पीकर से मिलने पहुंचे कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायक

कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायक बेंगलुरू में विधानसभा में स्पीकर से मिलने पहुंचे है। 

04:21 PM

कर्नाटक: कोलकाता की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन, हिरासत में लिए गये यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता

पश्चिम बंगाल में यूथ कांग्रेस के सदस्यों और कार्यकर्ताओं ने कर्नाटक की राजनीतिक स्थिति को लेकर कोलकाता की सड़कों पर विरोध प्रदर्शन किया। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है।

04:19 PM

बागी विधायकों को सुप्रीम कोर्ट ने आज शाम 6 बजे कर्नाटक विधानसभा स्पीकर से मिलने को वक्त किया है

कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी, कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार और अन्य ने बेंगलुरु में विधानसभा के सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। बागी विधायकों को सुप्रीम कोर्ट ने आज शाम 6 बजे कर्नाटक विधानसभा स्पीकर से मिलने और उन्हें फिर से इस्तीफा सौंपने के लिए कहा है।

02:40 PM

मुंबई एयरपोर्ट पहुंचे बागी विधायक

मुंबई: कांग्रेस के बागी विधायक छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा उन्हें आज शाम 6 बजे कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष से मिलने और यदि वे चाहें तो अपना इस्तीफा सौंपने का निर्देश दिया गया है।



 

02:25 PM

मैं इस्तीफा क्यों दूं : कुमारस्वामी

कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस- जद (एस) गठबंधन 16 विधायकों के इस्तीफे के बाद सरकार पर खतरे के बादल मंडराने के बावजूद मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी इस्तीफा देने को तैयार नहीं है। कुमारस्वामी ने उनके इस्तीफे की तमाम अटकलों को खारिज करते हुए पत्रकारों से कहा, ‘‘ मैं इस्तीफा क्यों दूं? मुझे इस्तीफा देने की क्या जरूरत है? ’’ उन्होंने 2009-10 के उस वाकये की याद दिलायी, जब कुछ मंत्रियों सहित 18 विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तत्कालीन मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा का "विरोध" किया था, लेकिन उन्होंने इस्तीफा नहीं दिया था।

कांग्रेस के दो और विधायकों के बुधवार को इस्तीफा देने के बाद मुख्यमंत्री ने गुरुवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से भी बातचीत की। अभी तक 16 विधायक इस्तीफे सौंप चुके हैं। अगर बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए जाते हैं तो सत्तारूढ़ गठबंधन बहुमत गंवा सकता है। 224 सदस्यीय विधानसभा में अध्यक्ष को छोड़कर गठबंधन विधायकों की कुल संख्या 116 (कांग्रेस-78, जद(एस)-37 और बसपा-1) है।

02:17 PM

कर्नाटक स्पीकर पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

कर्नाटक विधानसभा स्पीकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं। उन्होंने बागी विधायकों के इस्तीफे पर फैसले के कोर्ट से समय मांगा है। 

01:47 PM

मुझे ऐसे फैसले लेने वाली सरकार नहीं चाहिए: एसटी सोमशेखर

बागी कांग्रेस विधायक एसटी सोमशेखर ने कहा, विधायकों के इस्तीफे के कुछ दिनों पहले से वे एक्टिव हैं। पहले क्यों नहीं दिखाई ऐसी तेजी। मुझे बीडीए अध्यक्ष पद से हटाने के लिए बेंगलुरु डिवेलपमेंट अथॉरिटी में आईएएस अफसर की तैनाती हुई थी। मुझे ऐसे फैसले लेने वाली सरकार नहीं चाहिए। 

01:45 PM

राहुल गांधी का मान रखने के लिए इस सरकार के साथ थे: विधायक एसटी सोमशेखर

कर्नाटक के बागी कांग्रेस विधायक एसटी सोमशेखर ने कहा कि हम अपने नेता राहुल गांधी का मान रखने के लिए इस सरकार के साथ थे। लेकिन हमसे किए वादे पूरे नहीं किए गए। हमने अचानक से यह फैसला नहीं लिया है। हमने पहले भी विरोध जताया था, लेकिन तब किसी को कोई परवाह नहीं थी।

01:44 PM

कर्नाटक, गोवा में हमने जो देखा इसका अर्थव्यवस्था पर बहुत हानिकारक प्रभाव पड़ता है: पी चिदंबरम

पी चिदंबरम ने राज्यसभा में कहा है कि कर्नाटक, गोवा में हमने जो देखा वह राजनीतिक उत्थान के रूप में तो दिखाई दे सकता है लेकिन इसका अर्थव्यवस्था पर बहुत हानिकारक प्रभाव पड़ता है। विदेशी निवेशकों, रेटिंग एजेंसियों को भारतीय मीडिया को फॉलो नहीं करना चाहिए। राजनीतिक अस्थिरता पर वे जो सुनते हैं और पढ़ते हैं उसका अर्थव्यवस्था पर प्रभाव पड़ेगा। 

12:03 PM

कर्नाटक और गोवा के मामले पर सोनिया गांधी की अगुवाई में विपक्ष ने संसद परिसर में धरना दिया

कर्नाटक और गोवा में कई विपक्षी विधायकों इस्तीफे और भाजपा के पाले में आने को लेकर कांग्रेस एवं कई अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने बृहस्पतिवार को संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी के नेतृत्व में संसद भवन परिसर में धरना दिया। विपक्षी दलों ने भाजपा पर ‘लोकतंत्र की हत्या की साजिश’ का आरोप लगाया। कांग्रेस ने कहा कि संसद में इस विषय पर गंभीर चर्चा की जाए। संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा समक्ष विपक्षी दलों के धरना में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी, वरिष्ठ नेता ए के एंटनी, मोतीलाल वोरा, आनंद शर्मा और तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय एवं समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान सहित कई नेता शामिल हुए।

11:56 AM

डीके शिवकुमार का दावा, बागी विधायक हमारे साथ



 

11:53 AM

स्पीकर से मिले बागी विधायक

उच्चतम न्यायालय ने कर्नाटक के 10 असंतुष्ट विधायकों को बृहस्पतिवार की शाम छह बजे विधानसभा अध्यक्ष से मुलाकात करने और उन्हें अपने इस्तीफे के निर्णय से उन्हें अवगत कराने की अनुमति दी। उच्चतम न्यायालय ने विधानसभा अध्यक्ष से आज दिन में विधायकों के इस्तीफे पर निर्णय लेने को कहा। कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष द्वारा लिए गए निर्णय की जानकारी शुक्रवार को मामले की अगली सुनवाई के दौरान दी जाए। उच्चतम न्यायालय ने कर्नाटक के डीजीपी को 10 असंतुष्ट विधायकों के मुम्बई से यहां पहुंचने के बाद उन्हें बेंगलुरू हवाई अड्डे से विधानसभा तक सुरक्षा मुहैया करने का निर्देश दिया।

07:49 AM

बागी विधायकों ने कहा, स्वेच्छा से दिया इस्तीफा

विधायकों ने कहा है कि उनके त्यागपत्र स्वेच्छा से दिये गये हैं और सही हैं। यही नहीं, उन्होंने खुद अनेक टेलीविजन साक्षात्कार और बयान देकर अध्यक्ष से बार-बार इस्तीफे को स्वीकार करने का अनुरोध किया है। याचिका में कहा गया है, ‘‘अल्पमत में आने के बावजूद मुख्यमंत्री सदन का विश्वास मत प्राप्त करने से इंकार कर रहे हैं। अध्यक्ष और सरकार के बीच संगठित प्रयासों का ही नतीजा है कि ऐसी सरकार जिसे सदन का विश्वास हासिल नहीं है, गैरकानूनी तरीके से सत्ता में बनी है।’’

07:48 AM

जानें सियासी समीकरण

विधानसभा अध्यक्ष के अलावा गठबंधन के पास 116 विधायक (कांग्रेस - 78, जदएस - 37 और बसपा - 1) हैं। सत्तारूढ़ गठबंधन सरकार से इनके अलावा दो निर्दलीय विधायकों ने भी सोमवार को मंत्रालय से इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफा देने वाले इन निर्दलीय विधायकों के समर्थन से अब भाजपा के पास 224 सदस्यीय विधानसभा में 107 विधायक हैं, जबकि बहुमत के लिये 113 का आंकड़ा चाहिए। अगर इन 16 विधायकों के इस्तीफे स्वीकृत कर लिये जाते है तो गठबंधन का आंकड़ा घटकर 100 हो जायेगा।

07:48 AM

दो अन्य विधायकों ने स्पीकर को सौंपा इस्तीफा!

कर्नाटक में संकट में घिरी कांग्रेस-जद(एस) गठबंधन सरकार को ताजा झटका देते हुए कांग्रेस के दो विधायकों आवास मंत्री एम टी बी नागराज और के. सुधाकर ने बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष को अपने इस्तीफे सौंप दिये जिससे असंतुष्ट विधायकों की संख्या बढ़कर 16 हो गयी है। यह घटनाक्रम तब सामने आया जब कांग्रेस के संकटमोचक माने जाने वाले कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री डी के शिवकुमार को हिरासत में ले लिया गया और मुंबई से वापस बेंगलुरू भेजा गया।


Web Title: karnataka political crisis live updates supreme court to hear on today for 10 rebel legislators of congress jds
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे