Bihar amid liquor ban Atul singh a MBA graduate turns into smuggler arrested | बिहार में बैन के बीच शराब की तस्करी कर ये MBA ग्रेजुएट हर दिन कमाता था 9 लाख रुपये, ऐसे आया पुलिस के हाथ
बिहार: अतुल सिंह के किराये के घर से 1100 लीटर शराब की बोतल बरामद (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsअतुल सिंह को बिहार के वैशाली से चार तस्कर भेजते थे शराब की बोतलेंपटना में किराए के दो कमरों में शराब की इन बोतलों को जमा करके रखा जाता था और सप्लाई किया जाता थाअतुल सिंह के पास आज लग्जरी गाड़ी, आई फोन और 8 लाख की स्पोर्ट्स बाइक भी है

बिहार में शराबबंदी लागू है लेकिन इस बैन के बीच जल्द पैसे कमाने की होड़ ने 28 साल के एमबीए ग्रेजुएट एक शख्स की जिंदगी ऐसी बदली वो एक शराब तस्कर बन गया। नोएडा के एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी से एमबीए करने वाला अतुल सिंह आज एक बिजनेस चलाता है, लग्जरी कार पर घूमता है, आईफोन इस्तेमाल करता है और उसके पास करीब 8 लाख की स्पोर्ट्स बाइक है।

हालांकि, अतुल की किस्मत खराब रही और गुरुवार-शुक्रवार की दरमयानी रात पटना में पत्रकार नगर पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले महात्मा गांधी नगर में किराये के उसके घर से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। अतुल को जहां से गिरफ्तार किया गया, उस घर से पुलिस को 21 लाख रुपये तक के 1100 लीटर शराब की बोतल भी बरामद हुई है।

अतुल हर दिन बेचता था 9 लाख रुपये की शराब

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार पत्रकारनगर पुलिस स्टेशन के एसएचओ मनोरंजन भारती ने बताया है कि अतुल के पास से एक डायरी बरामद की गई है। इस डायरी से पता चलता है कि वह शहर के अलग-अलग हिस्सों में 9 लाख रुपये की शराब हर दिन बेचता था। पुलिस ने अतुल के बैंक पासबुक और कुछ दस्तावेज भी बरामद किए हैं।

पुलिस के अनुसार अतुल पटना देहात के अलावलपुर गांव का रहने वाला है। उसने कई नौकरी खोज रहे युवाओं को पटना में जगह-जगह पर शराब पहुंचाने का काम दे रखा था। हर सफल डिलीवरी पर इन लड़कों को अतुल 500 रुपये देता था। इस काम में 30 से 40 लड़के शामिल थे।

अतुल के बारे में पुलिस को कैसे पता चला

पुलिस को अतुल के बारे में जानकारी दो लड़कों इंद्रजीत सिंह और संजीव कुमार की गिुरफ्तारी के बाद मिली। अतुल ने शुरू में खुद को एक बड़े संस्थान का मैनेजमेंट छात्र बताकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। उसने कॉलेज आईडी कार्ड भी दिखाया।

हालांकि, पुलिस की ओर से सबूत पेश किए जाने के बाद उसने गुनाह मान लिया। उसके कमरे से ही एक बैग में रखे 1.75 लाख रुपये कैश मिले। अतुल ने जो दो कमरे पटना में किराये पर ले रखे थे, वहां शराब को स्टोर किया जाता था। शराब की खेप उसके पास वैशाली से चार तस्करों द्वारा पहुंचाई जाती है। 

इसके बाद अतुल और उसके साथी पटना में इसकी डिलिवरी करते थे। अतुल तक शराब पहुंचाने वाले चार तस्करों की भी तलाश पुलिस कर रही है। अतुल और उसके गिरफ्तार सहयोगियों को फिलहाल कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। सूत्रों के अनुसार पॉलट्री बिजनेस में हुए नुकसान के बाद अतुल ने शराब तस्करी का काम शुरू कर दिया था। 

Web Title: Bihar amid liquor ban Atul singh a MBA graduate turns into smuggler arrested

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे