सुरेश रैना के 'मैं भी ब्राह्मण' विवाद के बाद अब रविंद्र जडेजा के कमेंट पर बवाल, ट्विटर पर लिखी ये बात

क्रिकेटर सुरेश रैना के मैं भी ब्राह्माण हूं वाले बयान के बाद सोशल मीडिया पर रविंद्र जडेजा के ट्विट को लेकर बवाल मच गया है । उन्होंने ट्विट करके खुद को राजपूत बताया ।

By दीप्ती कुमारी | Published: July 23, 2021 12:17 PM2021-07-23T12:17:50+5:302021-07-23T12:23:35+5:30

rajput boy forever after suresh raina ravindra jadeja polarises twitter csk team india | सुरेश रैना के 'मैं भी ब्राह्मण' विवाद के बाद अब रविंद्र जडेजा के कमेंट पर बवाल, ट्विटर पर लिखी ये बात

फोटो सोर्स - सोशल मीडिया

Next
Highlightsरविंद्र जडेजा ने किया ट्वीट, कहा- राजपूचब्वॉय फॉरेवर जडेजा की इस टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया पर अलग विवाद शुरू हो गया है इससे पहले सुरेश रैना के भी ब्राह्माण वाली बात को लेकर काफी विवाद हुआ था

मुंबई :   भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना के बाद ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने ट्विटर पर जातिगत ट्वीट किया है , जिसको  लेकर अब सोशल मीडिया पर अलग चर्चा शुरू हो गई है । दरअसल चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाड़ी सुरेश रैना ने हाल ही में खुद को ब्राह्माण कहकर संबोधित किया था । उसके बाद सोशल मीडिया पर उन्हें काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी । अब रविंद्र जडेजा ने ट्वीट कर कहा- 'राजपूतब्वॉय फॉरेवर', जय हिंद । ऐसे में सोशल मीडिया पर अब अलग विवाद शुरू हो गया है । प्रशंसको का मानना है कि क्रिकेट को कास्ट और धर्म से परे रखना चाहिए ।  

हालांकि जडेजा खुद को राजपूत कहने से पीछे नहीं हटे हैं , जिसके कारण 2020 में एक विवाद भी हो गया था । इस बीच 'मैं भी एक ब्राह्माण हूं' टिप्पणी के लिए सुरेश रैना को फैंस की नाराजगी झेलनी पड़ी लेकिन पूर्व बल्लेबाज को कीर्ति आजाद का समर्थन मिला । क्रिकेटर से नेता बने आजाद ने कहा कि मैं भी एक ब्राह्माण हूं और समझ नहीं पा रहा हूं कि इस बात को लेकर आखिर इतना आक्रोश क्यों है । 

इससे पहले रैना ने कहा था कि 'मुझे लगता है कि कि मैं भी एक ब्राह्माण हूं । मैं 2004 से चेन्नई में खेल रहा हूं । मुझे यहां की संस्कृति से प्यार है । मुझे अपने साथियों से प्यार है । मैं अनिरूद्ध, श्रीकांत के साथ खेल चुका हूं । सुब्रमण्यम बद्रीनाथ और एल बालाजी भी हैं । मुझे चेन्नई की संस्कृति पसंद है । मैं सीएसके का हिस्सा बनकर खुद को भाग्यशाली मानता हूं । 

सुरेश रैना की टिप्पणी सोशल मीडिया पर वायरल होते ही लोगों ने इसपर अपने-अपने ढ़ंग से प्रतिक्रिया दी और  बल्लेबाज पर जातिवादी टिप्पणी करने का आरोप लगाया । एक यूजर ने कहा कि रैना ने सालों तक सीएसके फ्रेंचाइजी के लिए खेलने के बावजूद वास्तविक चेन्नई संस्कृति को कभी नहीं अपनाया । 
 

Open in app