IPL 2022: डगर चुनौतीपूर्ण, यह मुश्किल होगी, कड़ी मेहनत जारी रखो और नतीजे मिलेंगे, बेटे अर्जुन को आईपीएल में ना खेलने पर बोले सचिन तेंदुलकर

IPL 2022: बाएं हाथ के तेज गेंदबाज और बल्लेबाज अर्जुन तेंदुलकर को पांच बार के आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियन्स ने अपने साथ जोड़ा था लेकिन इस लुभावनी लीग के दो सत्र में उन्हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला।

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: May 24, 2022 09:40 PM2022-05-24T21:40:39+5:302022-05-24T21:42:02+5:30

IPL 2022 mumbai indians Sachin Tendulkar son Arjun Tendulkar not playing ipl says Challenging difficult keep working hard get results | IPL 2022: डगर चुनौतीपूर्ण, यह मुश्किल होगी, कड़ी मेहनत जारी रखो और नतीजे मिलेंगे, बेटे अर्जुन को आईपीएल में ना खेलने पर बोले सचिन तेंदुलकर

सारी चीजें टीम प्रबंधन पर छोड़ देता हूं क्योंकि मैंने हमेशा ऐसे ही काम किया है।

Next
Highlightsमुंबई इंडियन्स के 28 मैच के दौरान एक बार भी खेलने का मौका नहीं मिला।अर्जुन के साथ हमेशा मेरी यही बात होती है कि डगर चुनौतीपूर्ण होगी, यह मुश्किल होगी।घरेलू टीम मुंबई की ओर से सिर्फ दो टी20 मुकाबले खेले हैं। 

IPL 2022:  सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को इंडियन प्रीमियर लीग के दो सत्र में मुंबई इंडियन्स के 28 मैच के दौरान एक बार भी खेलने का मौका नहीं मिला और इस पूर्व महान क्रिकेटर ने इस उभरते हुए आलराउंडर से कहा है कि उनके लिए राह चुनौतीपूर्ण होने वाली है और उन्हें कड़ी मेहनत जारी रखनी होगी।

मुंबई इंडियन्स से जुड़े हुए तेंदुलकर ने साथ ही स्पष्ट किया कि वह चयन मामलों में हस्तक्षेप नहीं करते। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज और बाएं हाथ के बल्लेबाज अर्जुन को पांच बार के आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियन्स ने अपने साथ जोड़ा था लेकिन इस लुभावनी लीग के दो सत्र में उन्हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला।

तेंदुलकर से जब यह पूछा गया कि क्या वह इस साल अर्जुन को खेलते हुए देखना पसंद करते तो उन्होंने शो ‘सैचइनसाइट’ पर कहा, ‘‘यह अलग सवाल है। मैं क्या सोच रहा हूं या मैं क्या महसूस कर रहा हूं यह महत्वपूर्ण नहीं है। सत्र खत्म हो चुका है (मुंबई इंडियन्स के लिए)।’’

कई विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले तेंदुलकर ने कहा, ‘‘और अर्जुन के साथ हमेशा मेरी यही बात होती है कि डगर चुनौतीपूर्ण होगी, यह मुश्किल होगी। तुमने क्रिकेट खेलना शुरू किया क्योंकि तुम्हें क्रिकेट से प्यार है, ऐसा करना जारी रखो, कड़ी मेहनत जारी रखो और नतीजे मिलेंगे।’’ दो सौ टेस्ट खेलने वाले एकमात्र क्रिकेटर तेंदुलकर ने कहा कि जहां तक चयन का सवाल है तो वह इसे टीम प्रबंधन पर छोड़ देते हैं।

तेंदुलकर ने कहा, ‘‘अगर हम चयन के बारे में बात करते हैं तो मैं कभी स्वयं को चयन में शामिल नहीं करता। मैं ये सारी चीजें टीम प्रबंधन पर छोड़ देता हूं क्योंकि मैंने हमेशा ऐसे ही काम किया है।’’ बाइस साल के अर्जुन ने अपने करियर में अब तक अपनी घरेलू टीम मुंबई की ओर से सिर्फ दो टी20 मुकाबले खेले हैं। 

Open in app