सीएनएन की टीवी पत्रकार ने हिजाब नहीं पहना तो ईरानी राष्ट्रपति ने इंटरव्यू देने से कर दिया इनकार

By विनीत कुमार | Published: September 23, 2022 07:16 AM2022-09-23T07:16:52+5:302022-09-23T07:27:19+5:30

ईरान में हिजाब पर जारी विवाद के बीच ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने सीएनएन की महिला पत्रकार को इसलिए इंटरव्यू देने से इनकार कर दिया क्योंकि महिला ने हिजाब पहनने से इनकार कर दिया।

US journalist Christiane Amanpour denied interview with Iran President for not wearing hijab | सीएनएन की टीवी पत्रकार ने हिजाब नहीं पहना तो ईरानी राष्ट्रपति ने इंटरव्यू देने से कर दिया इनकार

सीएनएन की पत्रकार क्रिस्टियान अमनपोर खाली कुर्सी के सामने (फोटो- ट्विटर)

Next
Highlights सीएनएन की चीफ इंटरनेशनल एंकर क्रिस्टियान अमनपोर के साथ तय था ईरानी राष्ट्रपति का इंटरव्यू।यह इंटरव्यू न्यूयॉर्क में होना था, पत्रकार के अनुसार उसे हेडस्कार्फ पहनने का सुझाव दिया गया था।टीवी एंकर द्वारा इनकार के बाद ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी इंटरव्यू के लिए नहीं आए।

न्यूयॉर्क: ईरान में इन दिनों जहां हिजाब के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं और कई महिलाएं खुलकर इसके खिलाफ सामने आ रही हैं, वहीं एक नया विवाद भी सामने आया है। दरअसल, ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने गुरुवार को अमेरिकी महिला पत्रकार के साथ निर्धारित इंटरव्यू इसलिए रद्द कर दिया क्योंकि पत्रकार ने बातचीत के दौरान हिजाब पहनने से इनकार कर दिया।

यह नया विवाद उस समय आया है जब हाल में हिबाज नहीं पहनने की वजह से गिरफ्तार की गई एक महिला की पुलिस हिरासत में मौत के बाद ईरान में बड़े पैमाने पर हिजाब और रूढ़ीवादी विचारधारा के खिलाफ विरोध हो रहा है।

सीएनएन पत्रकार ने ट्विटर पर सुनाया पूरा वाकया

ईरानी राष्ट्रपति का इंटरव्यू सीएनएन की चीफ इंटरनेशनल एंकर क्रिस्टियान अमनपोर के साथ होना था। अमनपोर ने ट्विटर पर लिखा कि उन्हें हेडस्कार्फ पहनने का सुझाव दिया गया था, लेकिन उनके इनकार के बाद इंटरव्यू को रद्द कर दिया गया। 

कई ट्वीट्स में एंकर ने कहा कि उसने अन्य कई विषयों के साथ-साथ ईरानी राष्ट्रपति से वहां हो रहे उन प्रदर्शनों पर बात करने की योजना बनाई थी, जो ईरान में इन दिनों बढ़ रहे हैं। ईरान में हाल में कई ऐसी घटनाएं हुई हैं जहां महिलाएं पुलिस हिरासत में महसा अमिनी नाम की युवती की मौत के विरोध में अपने हिजाब जला रही हैं।

अमनपोर ने कहा, 'संयुक्त राष्ट्र महासभा के लिए न्यूयॉर्क की यात्रा के दौरान यह अमेरिकी धरती पर राष्ट्रपति रायसी का पहला इंटरव्यू होता। हफ्तों की योजना और अनुवाद के उपकरण, लाइट्स और कैमरे लगाने में आठ घंटे बिताने के बाद हम तैयार थे। लेकिन राष्ट्रपति रायसी नहीं आए।'

टीवी एंकर ने कहा कि उसने 40 मिनट तक ईरानी राष्ट्रपति का इंतजार किया लेकिन आखिरकार इंटरव्यू रद्द हो गया। 

अमेरिकी पत्रकार के अनुसार, 'इंटरव्यू शुरू होने के तय समय के 40 मिनट बाद उनका एक सहयोगी आया। वह मुझे हेडस्कार्फ पहनने का सुझाव दे रहा था, क्योंकि यह मुहर्रम और सफर के पवित्र महीने हैं। मैंने विनम्रता से मना कर दिया। हम न्यूयॉर्क में हैं, जहां हेडस्कार्फ के संबंध में कोई कानून या परंपरा नहीं है। मैंने बताया कि किसी भी पूर्व ईरानी राष्ट्रपति ने ऐसी कोई मांग नहीं रखी जब जब मैंने उनका इंटरव्यू किया।' 

अमनपोर ने एक खाली कुर्सी के सामने बैठे होने की तस्वीर भी शेयर की। पत्रकार ने ट्विटर पर लिखा, 'और हम चले गए। इंटरव्यू नहीं हुआ। ईरान में विरोध प्रदर्शन जारी है और लोग मारे जा रहे हैं, यह राष्ट्रपति रायसी के साथ बात करने का एक महत्वपूर्ण क्षण होता।'

ईरान में विरोध-प्रदर्शन तेज

इस बीच ईरान में महिला की मौत को लेकर विरोध प्रदर्शन तेज बुधवार को और तेज हो गए। ईरानी सुरक्षाबलों के बीच हुई झड़पों में अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। ये आंकड़ा और बढ़ सकता है। गौरतलब है कि ईरान की पुलिस का कहना है कि उसकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई थी और उसके साथ दुर्व्यवहार नहीं किया गया था, लेकिन उसके परिवार ने इस बारे में संदेह जताया है। 

दूसरी ओर गुरुवार को अमेरिका ने की ईरान धर्माचार पुलिस और अन्य सरकारी एजेंसियों के अधिकारियों पर पाबंदियां लगा दीं। ईरान में 22 साल की युवती को इस आरोप में हिरासत में लिया गया था कि उसने हिजाब सही तरीके से नहीं पहनकर देश के ‘ड्रेस कोड’ का उल्लंघन किया है। 

Web Title: US journalist Christiane Amanpour denied interview with Iran President for not wearing hijab

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे