रूस ने अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के अहम ठिकानों की सेटेलाइट तस्वीरें की शेयर, पश्चिमी देशों के उपग्रहों पर यूक्रेन के लिए काम करने का भी लगाया आरोप

By आजाद खान | Published: June 29, 2022 05:07 PM2022-06-29T17:07:50+5:302022-06-29T17:50:04+5:30

Russia Ukraine Crisis: नाटो शिखर सम्मेलन पर बोलते हुए रोगोजिन ने कहा, “आज मैड्रिड में नाटो शिखर सम्मेलन शुरू हो रहा है, जिसमें पश्चिमी देश रूस को अपना सबसे बड़ा दुश्मन घोषित करेंगे।”

Russia Ukraine Crisis Russia continues Pentagon integration said Western satellites work our enemy Ukraine statement NATO summit | रूस ने अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के अहम ठिकानों की सेटेलाइट तस्वीरें की शेयर, पश्चिमी देशों के उपग्रहों पर यूक्रेन के लिए काम करने का भी लगाया आरोप

रूस ने अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के अहम ठिकानों की सेटेलाइट तस्वीरें की शेयर, पश्चिमी देशों के उपग्रहों पर यूक्रेन के लिए काम करने का भी लगाया आरोप

Next
Highlightsरूस की अंतरिक्ष एजेंसी ने एक सूची जारी की है। ऐसे में रूस का कहना है कि पश्चिमी उपग्रह ऑपरेटर रूस के दुश्मन यूक्रेन के लिए काम कर रहे है। वहीं रूस ने नाटो गठबंधन के सदस्यों को यूक्रेन मदद करने का भी आरोप लगाया है।

Russia Ukraine Crisis: रूस की अंतरिक्ष एजेंसी ने मंगलवार को यूएस पेंटागन, नाटो शिखर सम्मेलन और पश्चिमी रक्षा मुख्यालयों की एक सूची जारी की है। इस सूची के साथ रूस ने यह दावा किया है कि पश्चिमी उपग्रह ऑपरेटर रूस के दुश्मन यूक्रेन के लिए काम कर रहे है। 

इस पर बोलते हुए रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस के प्रमुख दिमित्री रोगोजिन ने रूसी आरआईए नोवोस्ती समाचार एजेंसी को बताया कि अमेरिका समेत तमाम पश्चिमी देश रूस के खिलाफ काम कर रहे है और वे यूक्रेन की मदद कर रहे है। इसमें निजी और सरकारी समूह भी शामिल है।

नाटो गठबंधन के सदस्य यूक्रेन की कर रहे है मदद- रूस

दिमित्री रोगोजिन ने कहा कि अमेरिका के नेतृत्व वाले नाटो गठबंधन के सदस्य यूक्रेन की मदद कर रहे है और उन्हें रूस के हमले का सामना करने के लिए हथियार भेज रहे है। उन्होंने आगे कहा, एक अमेरिकी अंतरिक्ष टेक्नॉलिजी कंपनी मैक्सार ने फरवरी में रूस द्वारा यूक्रेन पर हमला शुरू होने से पहले रूस की सेना की यूक्रेन के बार्डर वाली तस्वीरें बार बार शेयर की थी। यह वहीं कंपनी है जिसका ग्राहक अमेरिकी रक्षा विभाग भी है। 

उन्होंने कंपनी मैक्सार और अन्य देशों पर आरोप लगाया कि वे यूक्रेन के बार्डर पर रूसी सेना की मौजूदगी की तस्वीरें निकाली थी। उन्होंने कहा कि यह तस्वीरें तब निकाली गई थी जब रूस का कोई इरादा नहीं था कि वह यूक्रेन पर हमला करें। 

नाटो शिखर सम्मेलन पर क्या बोले रोकोसिन 

रोगोजिन ने अपने सोशल मीडिया चैनल टेलीग्राम पर लिखा, “आज मैड्रिड में नाटो शिखर सम्मेलन शुरू हो रहा है, जिसमें पश्चिमी देश रूस को अपना सबसे बड़ा दुश्मन घोषित करेंगे।” आपको बता दें कि रोस्कोस्मोस ने यूक्रेनी राष्ट्रवादियों के समर्थन करने वालों के शिखर के स्थान और ‘निर्णय केंद्रों’ की सेटेलाइट वाली तस्वीरें भी प्रकाशित की है।

यही नहीं इस पोस्ट में मैड्रिड में शिखर सम्मेलन के स्थान, पेंटागन, वाशिंगटन में व्हाइट हाउस, मध्य लंदन में ब्रिटिश सरकार की इमारतें, बर्लिन में जर्मन राष्ट्रपति भवन और रैहस्टाग संसद भवन और ब्रुसेल्स में नाटो मुख्यालय की रूसी सेटेलाइट इमेजरी भी शामिल हैं। इसके अलावा इस पोस्ट में फ्रांसीसी राष्ट्रपति निवास और पेरिस में अन्य सरकारी भवन भी को भी पोस्ट किया गया है। 

रूस ने यूक्रेन हमले को “विशेष सैन्य अभियान” बताया 

इस पर रोगोजिन ने आगे कहा, रूस ने यूक्रेन पर हमले एक “विशेष सैन्य अभियान” के तहत किया है। उनके मुताबिक, यह रूसी भाषा में अपने नागरिकों की रक्षा है। यह रक्षा रूस को बचाने के लिए है जिसको नाटो से खतरा है जो यूक्रेन को इस्तेमाल कर उसके खिलाफ कभी भी आक्रमण कर सकता था। वहीं रूस के इस बात को कीव और नाटो ने दरकिनार कर दिया है और कहा कि जन्ग के लिए यह केवल एक बहाना है। 

Web Title: Russia Ukraine Crisis Russia continues Pentagon integration said Western satellites work our enemy Ukraine statement NATO summit

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे