पाकिस्‍तान में एक चपरासी पद के लिए 15 लाख लोगों ने किया आवेदन, बेरोजगारी दर सबसे उच्‍चतम स्‍तर पर

By सतीश कुमार सिंह | Published: September 27, 2021 09:58 PM2021-09-27T21:58:32+5:302021-09-27T21:59:47+5:30

डॉन के अनुसार, पीआईडीई ने बेरोजगारी की बढ़ती दर की एक गंभीर तस्वीर को उजागर किया है और कहा है कि पाकिस्तान में इस समय कम से कम 24 प्रतिशत शिक्षित लोग बेरोजगार हैं।

Pakistan one peon post 15 lakh people applied Imran Khan unemployment rate at the highest level | पाकिस्‍तान में एक चपरासी पद के लिए 15 लाख लोगों ने किया आवेदन, बेरोजगारी दर सबसे उच्‍चतम स्‍तर पर

सत्ता में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के पहले वर्ष में पुरुषों और महिलाओं दोनों के मामले में बेरोजगारी में वृद्धि देखी गई। (file photo)

Next
Highlightsइमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान सरकार के 6.5 प्रतिशत के दावे के विपरीत है।पीआईडीई ने कहा कि 40 प्रतिशत शिक्षित (स्नातक से कम या स्नातक) महिलाएं भी देश भर में बेरोजगार थीं।2017-18 में पाकिस्तान की बेरोजगारी 5.8 प्रतिशत से बढ़कर 2018-19 में 6.9 प्रतिशत हो गई है।

इस्लामाबादः पाकिस्तान में बेरोजगारी दर 16 प्रतिशत तक पहुंच गई है। पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान रोजगार के मुद्दे पर विफल साबित हुए है। पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ डेवलपमेंट इकोनॉमिक्स (पीआईडीई) के आंकड़ों के अनुसार, इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान सरकार के 6.5 प्रतिशत के दावे के विपरीत है।

डॉन के अनुसार, पीआईडीई ने बेरोजगारी की बढ़ती दर की एक गंभीर तस्वीर को उजागर किया है और कहा है कि देश में इस समय कम से कम 24 प्रतिशत शिक्षित लोग बेरोजगार हैं। पीआईडीई ने कहा कि 40 प्रतिशत शिक्षित (स्नातक से कम या स्नातक) महिलाएं भी देश भर में बेरोजगार थीं।

पीआईडीई के अधिकारियों ने बताया कि कुछ शिक्षित लोग पढ़ाई जारी रखने के लिए एम.फिल की पढ़ाई में दाखिला लेते हैं, क्योंकि वे बेहतर नौकरी पाने के लिए संघर्ष करते हैं। इसने बेरोजगारी दर को भी कम कर दिया क्योंकि उन्हें आंकड़ों में शामिल नहीं किया गया था। 

अधिकारियों का हवाला देते हुए, डॉन ने आगे बताया कि हाल ही में विज्ञापित एक उच्च न्यायालय में एक चपरासी के पद के लिए कम से कम 1.5 मिलियन लोगों ने आवेदन किया था। अधिकारियों ने कहा, "नौकरी के लिए आवेदन करने वालों में एम.फिल डिग्री धारक भी शामिल हैं।" समिति ने कहा कि देश में कई शोध संस्थान चल रहे हैं, लेकिन शोध के उद्देश्य पूरे नहीं हो रहे हैं।

इस बीच, पाकिस्तान की सांख्यिकी ब्यूरो (पीबीएस) द्वारा प्रकाशित श्रम बल सर्वेक्षण (एलएफएस) के अनुसार, 2017-18 में पाकिस्तान की बेरोजगारी 5.8 प्रतिशत से बढ़कर 2018-19 में 6.9 प्रतिशत हो गई है। सत्ता में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के पहले वर्ष में पुरुषों और महिलाओं दोनों के मामले में बेरोजगारी में वृद्धि देखी गई, पुरुष बेरोजगारी दर 5.1 प्रतिशत से बढ़कर 5.9 प्रतिशत और महिला बेरोजगारी दर 8.3 प्रतिशत से बढ़कर 8.3 प्रतिशत हो गई। 

Web Title: Pakistan one peon post 15 lakh people applied Imran Khan unemployment rate at the highest level

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे