Highlightsसामना में शिवसेना ने कहा कि केपी ओली जिसे राम की जन्मभूमि बता रहे हैं, वो वाल्मीकि आश्रम है।नेपाल में चितवन के माड़ी में एक और आश्रम है जिसे बाल्मीकि आश्रम के नाम से जाना जाता है। केपी ओली ने नेपाली कवि भानुभक्त जयंती समारोह में राम को नेपाल का राजकुमार बताया था।

मुंबई: पिछले दिनों नेपाल के पीएम केपी ओली ने भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि वास्तविक अयोध्या भारत में नहीं बल्कि नेपाल में है। केपी ओली के इसी बयान पर शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में पटवार किया है। 

शिवसेना ने सामना में लिखा कि ओली की ये बातें हास्यास्पद हैं। शिवसेना ने कहा कि भगवान श्रीराम पूरे विश्व के थे लेकिन श्रीरान जन्मभूमि अयोध्या केवल हिंदुस्तान की है...इस पर किसी प्रकार की विवाद की आवश्यकता नहीं है। यही नहीं अपने लेख की हेडिंग ही शिवसेना ने सामना में लिखा कि केपी ओली के दिमाग पर पड़े ओले!, बाल्मीकि आश्रम को अयोध्या बता रहे हैं।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में ...

बाल्मीकि आश्रम को अयोध्या बता रहे हैं ओली?

सामना में शिवसेना ने कहा कि केपी ओली जिसे राम की जन्मभूमि बता रहे हैं, वो वाल्मीकि आश्रम है जो नेपाल के तराई इलाके के परसा जिले के ठोरी गांव में है। यह भारत के बिहार राज्य से सटा इलाका है।

जनकपुर भी पास में ही है जो सीता की जन्मस्थली है। नेपाल में चितवन के माड़ी में एक और आश्रम है जिसे बाल्मीकि आश्रम के नाम से जाना जाता है। वाल्मीकि ने ही रामायण की रचना की थी।

ओली ने नेपाली कवि भानुभक्त जयंती समारोह में राम को नेपाल का राजकुमार बताया था। भानुभक्त ने ही नेपाली भाषा में रामायण का अनुवाद किया था। राम के अलग-अलग रूप अलग-अलग इलाकों में हैं। 

अयोध्या: सुप्रीम कोर्ट के फैसले से ...

राम के मौजूदगी के साक्ष्य कई देशों में हैं-

सामना में कहा गया है कि राम के मौजूदगी के साक्ष्य केवल भारत में ही नहीं बल्कि थाईलैंड में भी है और वहां भी अयोध्या है। इसी तरह दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया में राम की मौजूदगी आज भी है। यहां की रामलीला अपने अंदाज की होती है। इसकी तुलना बनारस या उत्तर भारत की किसी रामलीला से नहीं की जा सकती। यहां के किरदार भी अलग-अलग होते हैं।

Know Which Day Will Be Elected

अयोध्या शोध संस्थान में निदेशक योगेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि वाल्मीकि जी द्वारा लिखित रामायण कोई भूगोल की किताब नहीं है और यह किसी स्थल के बारे में नहीं बताती है। इस रामायण में जो मिथिला का हिस्सा है वह जनकपुर नेपाल का है, जो माता जानकी का जन्म स्थान है। 

Web Title: On the statement of Nepal's PM KP Oli regarding Lord Ram, the Shiv Sena retaliated, saying - Oli is on Oli's mind!
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे