Indian mission confirms UK MP denied India entry for invalid vasa | लंदन में भारतीय उच्चायोग ने कहा- ब्रिटिश सांसद के पास वैध वीजा नहीं थी वैध वीजा, इसीलिए भारत में एंट्री पर लगी रोक
ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स

Highlightsलंदन में भारतीय उच्चायोग ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि की कि ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स के पास वैध वीजा नहीं था इसलिए उन्हें सोमवार को भारत में प्रवेश से रोक दिया गया था। ब्रिटिश नागरिकों के लिए आगमन पर वीजा का प्रावधान भी नहीं है। इस हिसाब से उनसे लौटने का अनुरोध किया गया।

लंदन में भारतीय उच्चायोग ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि की कि ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम्स के पास वैध वीजा नहीं था इसलिए उन्हें सोमवार को भारत में प्रवेश से रोक दिया गया था। विपक्षी लेबर पार्टी की सांसद और कश्मीर पर सर्वदलीय सांसद समूह की अध्यक्ष अब्राहम्स ने दावा किया था कि वह अपने परिवार के सदस्यों और दोस्तों से मिलने के लिए वैध ई-वीजा पर भारत की यात्रा कर रही थीं लेकिन उनके वीजा को बिना स्पष्टीकरण के रद्द कर दिया गया। 

उन्होंने सवाल उठाया कि अचानक से उनका वीजा क्यों खारिज कर दिया गया? भारतीय उच्चायोग ने ट्विटर पर एक बयान में कहा, ‘‘मिशन ने भारत के आव्रजन अधिकारियों से इस बात की पुष्टि की है कि डेबी अब्राहम्स के पास वैध वीजा नहीं था।’’ इसमें कहा गया, ‘‘ब्रिटिश नागरिकों के लिए आगमन पर वीजा का प्रावधान भी नहीं है। इस हिसाब से उनसे लौटने का अनुरोध किया गया।’’ 

जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त करने के भारत सरकार के फैसले की मुखर आलोचक अब्राहम्स ने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की है जो एक ई-वीजा जैसी लगती है। उन्होंने यह दर्शाना चाहा कि उन्हें पिछले साल सात अक्टूबर को वीजा जारी किया गया था जो पांच अक्टूबर 2020 तक वैध था। 

लेबर पार्टी की सांसद ने सवाल किया, ‘‘एक बार फिर अहम सवाल यह उठता है कि इसे क्यों रद्द किया गया और कब?’’ दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के अपने अनुभव को याद करते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि सोमवार सुबह वह यहां पहुंची थीं और उन्हें बताया गया कि उनका ई वीजा रद्द कर दिया गया है। 

ब्रिटिश सांसद ने कहा कि वह अपने दस्तावेजों और ई-वीजा के साथ आव्रजन डेस्क के सामने पेश हुईं। उन्होंने कहा, ‘‘... अधिकारी ने अपनी स्क्रीन पर देखा और अपना सिर हिलाने लगा। उन्होंने मुझसे कहा कि मेरा वीजा रद्द कर दिया गया है। उन्होंने मेरा पासपोर्ट ले लिया और वह करीब दस मिनट के लिए गायब हो गये।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ जब वह लौटे तो बड़े बदमिजाज और आक्रामक थे, उन्होंने मुझ पर चिल्लाते हुए कहा, ‘मेरे साथ आइए।’ मैंने उनसे कहा कि मेरे साथ इस तरह बात मत कीजिए। तब मुझे वह एक क्षेत्र में ले गये जिसका नाम ‘‘डिपोर्टी सेल’’ था। उन्होंने (अधिकारी ने) मुझे बैठने का आदेश दिया और मैंने मना कर दिया। मुझे नहीं पता था कि वे क्या करेंगे या वे मुझे कहां ले जायेंगे इसलिए मैं चाहती थी कि लोग मुझे देखें।’’ 

इसके बाद अधिकारी ने अब्राहम्स की रिश्तेदार काई को फोन किया जिनके दिल्ली स्थित घर पर वह ठहरने वाली थीं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘काई ने नयी दिल्ली में ब्रिटिश उच्चायोग से संपर्क किया और उन्होंने यह पता करने का प्रयास किया कि चल क्या रहा है।’’ लेकिन बताया गया कि इस मुद्दे पर भारत की तरफ से स्थिति स्पष्ट नहीं है।

ब्रिटेन के विदेश कार्यालय ने कहा कि उन्हें वाणिज्यिक दूतावास की तरफ से सहायता प्रदान की गयी और उनके प्रवेश की परिस्थितियो का पता लगाने के लिए भारतीय अधिकारियों से संपर्क किया गया। विदेश और राष्ट्रमंडल कार्यालय (एफसीओ) के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम भारतीय अधिकारियों के साथ संपर्क में हैं तथा दक्षिण एशिया और राष्ट्रमंडल मामलों के मंत्री ने यह पता लगाने के लिए भारतीय उच्चायुक्त से बात की है कि उन्हें भारत में प्रवेश क्यों नहीं दिया गया।’’ 

Web Title: Indian mission confirms UK MP denied India entry for invalid vasa
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे