India china stand-off, china claim Incident of firing on LAC Eastern Ladakh sector pangong tso lake | लद्दाख में LAC पर भारत-चीन के सैनिकों के बीच फिर से झड़प, चीन ने भारतीय सैनिकों पर लगाए फायरिंग करने के आरोप
प्रतीकात्मक तस्वीर

Highlightsपीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) वेस्टर्न थियेटर कमांडर के प्रवक्ता झांग शुई ने आरोप लगााते हुए कहा, 'भारतीय पक्ष ने द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन किया है। सीमा पर फायरिंग की घटना ऐसे वक्त हुई है, जब पिछले हफ्ते मास्को में चीनी रक्षा मंत्री और भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बीच बैठक हुई है। नयी दिल्ली, छह सितंबर (भाषा) भारतीय और चीनी सेनाओं ने तनाव को कम करने के प्रयासों में पूर्वी लद्दाख में रविवार (6 सितंबर) को एक और दौर की वार्ता की गई थी

नई दिल्ली: भारत और चीन का सीमा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार (7 सितंबर) देर रात भारत और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबर है। चीन ने भारतीय सैनिकों पर सीमा पार करने और फायरिंग करने का आरोप लगाया है। चीन ने दावा किया है कि ये मामला लद्दाख के पैंगोंग सो झील के दक्षिणी छोर पर स्थित एक पहाड़ी पर हुई है। चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने चीनी सेना के वेस्टर्न थियेटर कमांड के प्रवक्ता के हवाले से ये दावा किया है। हालांकि भारत की ओर से अभी इस फायरिंग को लेकर कोई अधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है, 'भारतीय सेना ने पैंगोंग सो झील के दक्षिणी छोर के पास शेनपाओ की पहाड़ी पर एलएसी (LAC) को पार किया। भारतीय जवानों ने बातचीत की कोशिश कर रहे पीएलए (PLA) के बॉर्डर पट्रोल से जुड़े सैनिकों पर वार्निंग शॉट फायर किए जिसके बाद चीनी सैनिकों को हालात काबू में करने के लिए कदम उठाने पड़े।'

पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) वेस्टर्न थियेटर कमांडर के प्रवक्ता झांग शुई ने आरोप लगााते हुए कहा, 'भारतीय पक्ष ने द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन किया है। इससे क्षेत्र में तनाव और गलतफहमी बढ़ेंगे। भारतीय सैनिकों की ओर से कथित "उकसावे" की कार्रवाई की गई जिससे चीनी सैनिकों की ओर से जवाबी कार्रवाई गई है। 

कर्नल झांग शुइली ने कहा- भारत  सुनिश्चित करे कि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हो

चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के वेस्टर्न थियेटर कमान के प्रवक्ता कर्नल झांग शुइली की ओर से देर रात दिए गए बयान में कहा गया कि भारतीय सैनिकों की ओर से कथित "उकसावे" की कार्रवाई की गई जिससे चीनी सैनिकों की ओर से जवाबी कार्रवाई की गई।

उन्होंने यह भी कहा कि हम भारतीय पक्ष से मांग करते हैं कि खतरनाक कदमों को रोके और फायरिंग करने वाले शख्स को सजा दे। कर्नल झांग शुइली ने भी लिखा है कि भारत यह भी सुनिश्चित करे कि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हो। 

वेस्टर्न थियेटर कमांडर के प्रवक्ता झांग शुई ने कहा कि हम भरोसा दिलाते हैं कि पीएलए के वेस्टर्न कामांड के सैनिक अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे और राष्ट्र की क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा करेंगे। 

भारत और चीन के रक्षा मंत्री के बीच मास्को में हुई बैठक 

पिछले तीन महीने से भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को सुलझाने के लिए बातचीत जारी है। शुक्रवार 4 सितंबर को भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंगही ने भारत-चीन सीमा क्षेत्र के साथ भारत-चीन संबंधों पर मास्को में बैठक की। रूस की राजधानी मास्को में एक प्रमुख होटल में रात करीब साढ़े नौ बजे (भारतीय समयानुसार) शुक्रवार (4 सितंबर) को भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंगही के बीच बैठक हुई। 

पूर्वी लद्दाख में मई में सीमा पर हुए तनाव के बाद से दोनों देशों की ओर से यह पहली उच्च स्तरीय आमने-सामने की बैठक थी। इससे पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल गतिरोध दूर करने के लिए चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ टेलीफोन पर बातचीत कर चुके हैं।

Web Title: India china stand-off, china claim Incident of firing on LAC Eastern Ladakh sector pangong tso lake
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे