रैनसमवेयर के सुरक्षित पनाहगाहों के खिलाफ कार्रवाई का संकल्प लेने वाले 30 देशों में भारत, अमेरिका भी

By भाषा | Published: October 14, 2021 10:48 PM2021-10-14T22:48:55+5:302021-10-14T22:48:55+5:30

India, America among 30 countries that have pledged to take action against ransomware safe havens | रैनसमवेयर के सुरक्षित पनाहगाहों के खिलाफ कार्रवाई का संकल्प लेने वाले 30 देशों में भारत, अमेरिका भी

रैनसमवेयर के सुरक्षित पनाहगाहों के खिलाफ कार्रवाई का संकल्प लेने वाले 30 देशों में भारत, अमेरिका भी

Next

(ललित के. झा)

वाशिंगटन, 14 अक्टूबर रैनसमवेयर रोधी पहल पर बृहस्पतिवार को अब तक की पहली वैश्विक बैठक हुई, जिसमें भारत सहित 30 देश शरीक हुए।

बैठक में साइबर क्षेत्र में बढ़ते खतरे को घटाने के लिए तत्काल कार्रवाई, साझा प्राथमिकताएं और पूरक कोशिशों का आह्वान किया गया।

चीन और रूस ने व्हाइट हाउस की मेजबानी में आयोजित दो दिवसीय डिजिटल बैठक में भाग नहीं लिया।

रैनसमवेयर एक तरह का सॉफ्टवेयर है, जो वसूली की रकम दिये जाने तक कंप्यूटर के संचालन को 'ब्लॉक' कर देता है।

बैठक के समापन पर एक संयुक्त बयान में 30 देशों ने कहा कि रैनसमवेयर आर्थिक एवं सुरक्षा प्रभावों वाला एक बढ़ता वैश्विक खतरा है।

रैनसमवेयर के खिलाफ कार्रवाई में अहम भूमिका निभा रहे भारत ने परिचर्चा का नेतृत्व किया।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: India, America among 30 countries that have pledged to take action against ransomware safe havens

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे