Hurricane 'Hagibis' havoc, 35 dead in Japan, 17 missing, thousands of houses damaged, power and communication system in trouble | तूफान ‘हगिबिस’ का कहर, जापान में अब तक 43 मरे, 16 लापता, हजारों मकान क्षतिग्रस्त, बिजली एवं संचार व्यवस्था बेहाल
कीचड़ वाला पानी सड़कों पर, खेतों में और रिहायशी इलाकों में भर गया।

Highlightsदमकल एवं आपदा प्रबंधन एजेंसी के आधिकारिक आंकड़ों में 19 लोगों को मृत व 13 को लापता बताया गया है।मौसम विभाग के अधिकारियों का कहना है कि तूफान ‘हगिबिस’ के कारण भीषण बारिश हुई जिससे कई नदियों में जलस्तर क्षमता से अधिक बढ़ गया।

जापान की राजधानी तोक्यो समेत देश के अन्य हिस्सों में प्रचंड तूफान ‘हगिबिस’ का कहर 43 लोगों की जान लेने के बाद थमा तो सोमवार को हजारों की संख्या में राहतकर्मी बचे हुए लोगों की तलाश में शामिल हुए, हालांकि फिर बारिश होने से बचाव अभियान के बाधित होने का खतरा है।

तूफान ने शनिवार रात को देश में दस्तक दी जिसकी वजह से मूसलाधार बारिश हुई और तेज हवाएं चलीं। देश के 47 प्रांतों में से 36 इस तूफान की चपेट में आ गए जिसकी वजह से भूस्खलन और विनाशकारी बाढ़ आई। प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने सोमवार को एक आपात आपदा बैठक में बताया, ‘‘अब भी, आपदा प्रभावित इलाकों में बहुत से लोगों की जानकारी नहीं है।’’ आबे ने कहा, ‘‘आपदा प्रबंधन इकाइयां दिन रात काम कर उनकी तलाश कर बचाने के लिये अपनी तरफ से हर संभव कोशिश कर रही हैं।’’

सैनिकों समेत राहतकर्मी जहां मलबों में फंसी जिंदगियों की तलाश में जुटे हैं, वहीं मौसम एजेंसी के इस पूर्वानुमान ने उनकी चिंता बढ़ा दी है कि मध्य और पूर्वी जापान में बारिश हो सकती है और चेतावनी दी कि इससे नए सिरे से बाढ़ आ सकती है व भू-स्खलन भी हो सकता है।

मुख्य कैबिनेट सचिव योशीहाइड सुगा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं लोगों से कहना चाहूंगा कि वे लगातार सतर्क रहें और भूस्खलन व बाढ़ की स्थिति पर नजर बनाए रखें।’’ सबसे बुरी तरह प्रभावित इलाकों में से एक नागानो में बारिश पहले ही शुरू हो गई है और इसके तेज होने की आशंका है।

स्थानीय अधिकारी हिरोकी यामागुची ने एएफपी को बताया, ‘‘हम राहत और बचाव अभियान पर इस ताजा बारिश के प्रभाव को लेकर चिंतित हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मौजूदा बारिश के मद्देनजर आपदा के फिर दस्तक देने की आशंका पर नजर रखते हुए हम अपना अभियान जारी रखेंगे।’’

सोमवार दोपहर बाद राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके ने कहा कि इस तूफान के कारण आई आपदा में मृतकों की संख्या बढ़कर 43 हो गई है जबकि 16 अन्य लापता हैं। आपदा में 200 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। सरकार ने कम आंकड़े दिये हैं लेकिन वह सूचना लगातार अद्यतन कर रही है। तटरक्षक बल के एक प्रवक्ता ने कहा कि मृतकों में एक निगमकर्मी भी शामिल है जिसकी कार बाढ़ के पानी में डूब गई थी। तोक्यो की खाड़ी के निकट शनिवार रात को एक मालवाहक जहाज डूबने से उसमें सवार चालक दल के सात सदस्यों के मरने की भी खबर है।

चीन, म्यामां और वियतनाम के चार सदस्यों को बचा लिया गया जबकि तटरक्षक बल चालक दल के एक अन्य सदस्य की तलाश कर रहे हैं। तूफान के कारण 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली लेकिन सबसे ज्यादा नुकसान भारी बारिश की वजह से हुआ।

स्थानीय मीडिया ने कहा कि पूर्वी और उत्तरी जापान में कुल 142 नदियों में बाढ़ आई और दर्जनों जगहों पर तटबंध टूट गए। मध्य नगानो कस्बे में गहरा नुकसान हुआ है, जहां चिकुमा नदी के तटबंध पूरी तरह टूट चुके हैं। बाढ़ का पानी सोमवार को धीरे-धीरे घटने के बाद टीवी पर दिखाई गई तस्वीरों में एंबुलेंस से कुछ मरीज को नागोना अस्पताल में स्थानांतरित किया गया।

कई जगह हेलीकॉप्टर की मदद से राहतकर्मी लोगों को छतों और बालकनियों से सुरक्षित निकालते नजर आए। सोमवार दोपहर तक करीब 75,900 घरों में बिजली की आपूर्ति नहीं थी जबकि एक लाख 20 हजार घरों में पानी की आपूर्ति बहाल नहीं थी। अधिकतर सब-वे ट्रेनों की सेवाएं सोमवार को कई बुलेट ट्रेन लाइनों के साथ शुरू की गईं। विमान सेवाएं भी फिर से शुरू हो गई हैं। तूफान की वजह से रग्बी वर्ल्ड कप के कई मैच रद्द कर दिए गए। कई मैचों के समय को आगे बढ़ा दिया गया। 

English summary :
Hurricane storm caused torrential rain and strong winds on Saturday, causing thousands of houses to be damaged or destroyed. Electricity and communication system was affected due to the storm.


Web Title: Hurricane 'Hagibis' havoc, 35 dead in Japan, 17 missing, thousands of houses damaged, power and communication system in trouble
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे