अफगानिस्तान में बंदूकधारियों ने की दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: January 19, 2022 06:06 PM2022-01-19T18:06:19+5:302022-01-19T18:09:42+5:30

अफगानिस्तान में बंदूकधारियों द्वारा दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या करने का मामला सामने आया है। हालांकि, अभी तक तालिबान की इस घटना को लेकर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

Gunmen killed two civil society activists in Afghanistan | अफगानिस्तान में बंदूकधारियों ने की दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या

अफगानिस्तान में बंदूकधारियों ने की दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या

Next
Highlightsअफगानिस्तान में बंदूकधारियों द्वारा दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या करने का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार, बंदूकधारियों ने एक महिला और एक पुरुष को की हत्या की है। दोनों हत्या अफगानिस्तान के दो अलग प्रांतों में हुईं।

काबुल: अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से यहां की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। इसी क्रम में अफगानिस्तान में मंगलवार को बंदूकधारियों द्वारा दो सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या करने का मामला सामने आया है। न्यूज़ एजेंसी एएफपी के संवाददाता उस्मान शरिफी ने ट्वीट कर इस घटना की जानकारी दी। 

उन्होंने ट्वीट कर बताया कि हनीफा नाजरी और मेहदी वहेदी की बंदूकधारियों ने हत्या कर दी है। उस्मान ने ये भी जानकारी साझा की कि नाजरी उन महिलाओं में से एक थीं जिन्होंने पिछले महीने तालिबान के खिलाफ प्रोटेस्ट किया था। हालांकि, इस घटना को लेकर तालिबान की ओर से अभी तक कोई बयान सामने नहीं आया है। जानकारी के अनुसार, हनीफा नाजरी की बल्ख तो वहीं मेहदी वहेदी की बघ्लन में हत्या की गई है।

बता दें कि हाल-फिलहाल में अफगानिस्तान की मदद के लिए संयुक्त राष्ट्र ने रिकॉर्ड पांच अरब डॉलर की मदद मुहैया कराने की अपील की थी। संयुक्त राष्ट्र ने इसके साथ ही चेतावनी दी कि दशकों तक संघर्ष से जूझने और अगस्त महीने में तालिबान के कब्जे में जाने के बाद भले ही अफगानिस्तान स्थिर नजर आ रहा है, तो भी वहां की आधी आबादी गंभीर भूख का सामना कर रही है, लाखों बच्चे अब भी स्कूल से बाहर हैं और किसान सूखे का सामना कर रहे हैं। 

वहीं, संयुक्त राष्ट्र की अपील के बाद नेपाल मदद के लिए आगे आया था। ऐसे में बीते रविवार को नेपाल ने अफगानिस्तान की मदद के लिए करीब 14 टन मानवीय सहायता वहां कार्य कर रहे संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधियों को सौंपी थी। बताते चलें कि  नेपाल के आधुनिक इतिहास में यह पहली बार है जब उसने किसी दूसरे देश को मदद भेजी है। 

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

Web Title: Gunmen killed two civil society activists in Afghanistan

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे