G7 foreign ministers meet face to face in London | जी-7 के विदेश मंत्रियों की लंदन में आमने सामने की बैठक
जी-7 के विदेश मंत्रियों की लंदन में आमने सामने की बैठक

लंदन, चार मई (एपी) विश्व के सात धनी औद्योगिक देशों के समूह के विदेश मंत्री मंगलवार को लंदन में एकत्रित हो रहे हैं। यह इन मंत्रियों की दो साल से अधिक समय में पहली आमने-सामने की बैठक होगी जिसमें स्वास्थ्य, समृद्धि और लोकतंत्र के लिए खतरों से मुकाबले पर चर्चा होगी।

मेजबान देश ब्रिटेन ने चेतावनी दी है कि रूस, चीन और ईरान की बढ़ती आक्रामक गतिविधियां लोकतांत्रिक समाज और अंतरराष्ट्रीय कानून के शासन के लिए चुनौती है।

ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब ने कहा कि इस साल जी-7 की ब्रिटेन की अध्यक्षता ‘‘खुले, लोकतांत्रिक समाजों को साथ लाने और एक ऐसे समय एकता प्रदर्शित करने का अवसर है जब साझा चुनौतियों और बढ़ते खतरों से निपटने की बहुत आवश्यकता है।’’

ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली और जापान के शीर्ष राजनयिक एक एजेंडे के साथ दो दिवसीय बातचीत कर रहे हैं। इसमें म्यांमा में तख्तापलट, इथियोपिया में संकट और अफगानिस्तान में अनिश्चित स्थिति शामिल है।

ब्रिटेन के विदेश कार्यालय ने कहा कि समूह ‘‘रूस की चल रही दुर्भावनापूर्ण गतिविधि’’ पर भी चर्चा करेगा, जिसमें यूक्रेन के साथ सीमा पर मॉस्को का सैन्य जमावड़ा और विपक्षी राजनेता अलेक्सी नवलनी की हिरासत शामिल है।

साथ ही जी-7 के मंत्री विश्व भर में कोरोना वायरस के टीके उपलब्ध कराने के तरीके पर सहमति बनाने का प्रयास करेंगे।

आयोजकों ने लंदन की बैठक में कोविड​​-19 के प्रसार को रोकने के लिए कदम उठाए हैं, जिसमें प्रतिभागियों के बीच प्लास्टिक स्क्रीन लगाना और मौके पर कोरोना वायरस की जांच करना शामिल है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन आगामी जून में ब्रिटेन के कॉर्नवाल में जी-7 नेताओं की एक और शिखर सम्मेलन आयोजित करने वाले हैं।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: G7 foreign ministers meet face to face in London

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे