अमेरिका में एफबीआई ने इराकी शख्स को पकड़ा, जो पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश को ईराक युद्ध के लिए मारना चाहता था

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: May 25, 2022 04:36 PM2022-05-25T16:36:37+5:302022-05-25T16:45:40+5:30

अमेरिकी सुरक्षा एजेंसी एफबीआई ने कोलंबिया में एक ऐसे इराकी शख्स को पकड़ा है, जो अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्यू बुश को इराक युद्ध के लिए जिम्मेदार मानते हुए उनकी हत्या की साजिश रच रहा था।

FBI in US caught Iraqi man who wanted to kill former President George W Bush for Iraq War | अमेरिका में एफबीआई ने इराकी शख्स को पकड़ा, जो पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश को ईराक युद्ध के लिए मारना चाहता था

फाइल फोटो

Next
Highlightsएफबीआई ने पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्लू बुश की कथित हत्या की साजिश के लिए एक इराकी को पकड़ा हैपकड़ा गया इराकी शख्स अपने इरादों को अंजाम देने के लिए करीब दो साल पहले अमेरिका आया थाअमेरिकी सरकार ने कोलंबिया की फेडरल कोर्ट में पकड़े गये शख्स का नाम शिहाब अहमद बताया है

कोलंबिया: अमेरिका की फेडरल ब्यूरो ऑफ इनवेस्टिगेशन (एफबीआई) ने अपने देश में एक इराकी शख्स को गिरफ्तार किया है, जो अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्यू बुश की हत्या की साजिश रच रहा था।

एफबीआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक पकड़ा गया इराकी शख्स अपने इरादों को अंजाम देने के लिए करीब दो साल पहले अमेरिका आया था और उसने बाकायदा अमेरिकी विदेश विभाग में शरण के लिए आवेदन भी किया था।

इस मामले में मंगलवार को जानकारी देते हुए अमेरिकी सरकार ने बताया कि पकड़े गये शख्स का नाम शिहाब अहमद है और वो इराक युद्ध के लिए पूर्व राष्ट्रपति को गुनहगार मानता है और इसलिए वो उनकी हत्या की साजिश रच रहा था।

इस मामले में 25 साल के शिहाब को गिरफ्तार करने के बाद जब कोलंबस की फेडरल कोर्ट में पेश किया गया तो अमेरिकी एजेंसी ने कोर्ट में बताया कि शिहाब अहमद अपने मंसूबे को कामयाब बनाने के लिए मेक्सिको के रास्ते कई अन्य इराकियों को अमेरिका में प्रवेश कराने का प्रयास कर रहा था।

इसके अलावा एजेंसियों ने कोर्ट में यह भी बताया कि शिहाब आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के साथ भी संपर्क था। इसके साथ ही एफबीआई को अप्रैल 2021 में मुखबिरों से मिली जानकारी के मुताबिक शिहाब अपने इरादे को अंजाम देने के लिए जल्दबाजी के मूड में नहीं था।

इस मामले में मंगलवार को सुनवाई करते हुए फेडरल कोर्ट ने जज ने एलिजाबेथ प्रेस्टन डीवर्स ने शिहाब को बिना बांड के रखने का आदेश दिया था। कानून के जानकार बता रहे हैं कि अगर बुश की कथित हत्या की साजिश में अगर शिहाब को कोर्ट दोषी ठहराती है तो उसे 30 साल तक की जेल और 500,000 डॉलर के जुर्माने के भी सजा हो सकती है।

कोर्ट में एफबीआई ने कहा कि शिहाब कोलंबस और उसके आसपास के रेस्तरां में काम किया करता था और वो इंडियानापोलिस के बाजार में भी काम कर चुका है, जहां वो एक अपार्टमेंट में रहता था। गोपनीय मुखबिर से मिली जानकारी के मुताबिक शिहाब जॉर्ज बुश की हत्या इसलिए करना चाहता है क्योंकि वो मानता है कि इराक युद्ध के दौरान अमेरिकी सैनिकों ने बेकसूर इराकियों की हत्या की।

अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियों ने मुखबिरों की जानकारी के आधार पर कोर्ट में कहा कि शिहाब ने मार्च में कोलंबस के एक होटल के कमरे में हथियारों और अमेरिकी गश्ती सैनिकों की वर्दी की जांच के लिए मुखबिरों को बुलाया था।

इसके अलावा शिहाब ने कथित तौर पर कोलंबस कार डीलरशिप से भी बात की थी ताकि वो इस्लामिक स्टेट के एक अधिकारी से यूएस में प्रवेश करा सके और साथ में शिहाब ने यूएस में एक इराकी नागरिक को लाने के लिए हजारों डॉलर देने की भी बात कबूल की है। (समाचार एजेंसी पीटीआई के इनपुट के साथ)

Web Title: FBI in US caught Iraqi man who wanted to kill former President George W Bush for Iraq War

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे